शुभ संयोग : रोहिणी नक्षत्र में उदय होंगे चंद्रमा

शुभ संयोग : रोहिणी नक्षत्र में उदय होंगे चंद्रमा

मदन गुप्ता सपाटू

अाज करवा चौथ पर ज्योतिषीय दृष्टि से शुभ संयोग बन रहा है। आज चंद्रमा अपने सर्वप्रिय नक्षत्र रोहिणी में उदित होंगे, जो अत्यंत शुभ माना जाता है। इस दिन चंद्र दर्शन से मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। यह संयोग 5 साल बाद बन रहा है। यदि करवा चौथ रविवार या मंगलवार को पड़े, तो यह कर्क चतुर्थी अधिक शुभ मानी जाती है। व्यावहारिक दृष्टि से भी देखें तो इस बार कार्तिक कृष्ण पक्ष की चतुर्थी रविवार को होने के चलते कामकाजी महिलाओं के लिए व्रत रखना सुगम रहेगा।

अंक शास्त्र के अनुसार भी 24 तारीख को करवा चौथ शुभ है। इसका अंक 6 बनता है, जो शुक्र का प्रतिनिधित्व करता है। शुक्र ग्रह महिलाओं, सुहाग, ऐश्वर्य, पति-पत्नी के संबंधों का प्रतीक है, इसलिए भी इस बार का व्रत बहुत सौभाग्यशाली होगा।

आज किस रंग के परिधान पहनें ?

हिंदू धर्म में किसी भी शुभ कार्य के दौरान काला पहनने की मनाही होती है। कहते हैं कि मंगलसूत्र के काले दाने के अलावा इस दिन किसी काले रंग का प्रयोग न करें। मान्यता है कि सुहागिनों को सफेद वस्त्र धारण नहीं करने चाहिए। करवा चौथ के दिन सुहागिन स्त्रियों को भूरे रंग के कपड़े पहनने से भी बचना चाहिए। मान्यता है कि यह रंग राहु और केतु का प्रतिनिधित्व करता है। करवा चौथ के दिन सुहागिनों को लाल, गुलाबी, पीले, हरे और महरून रंग के वस्त्र धारण करने चाहिए। पहली बार करवा चौथ व्रत रखने वाली स्त्रियों को लाल रंग के वस्त्र पहनना शुभ माना जाता है। पहली बार व्रत रखने वाली महिलाएं अगर शादी का जोड़ा पहनती हैं, तो इसे और उत्तम माना जाता है। करवा चौथ के दिन राशि के अनुसार वस्त्र पहनने से वैवाहिक जीवन खुशहाल रहता है।

कब निकलेगा चांद : रविवार को चांद सायंकाल 8:03 बजे निकलेगा, परंतु स्पष्ट रूप से 8:30 बजे के बाद ही नजर आएगा।

पूजन का शुभ समय : सायंकाल 7 से 9 बजे तक रहेगा।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

बच्चों को देखिए, बच्चे बन जाइए

बच्चों को देखिए, बच्चे बन जाइए

अलोपी देवी, ललिता देवी, कल्याणी देवी

अलोपी देवी, ललिता देवी, कल्याणी देवी

निष्ठा और समर्पण का धार्मिक सामंजस्य

निष्ठा और समर्पण का धार्मिक सामंजस्य

सातवें साल ने थामी चाल

सातवें साल ने थामी चाल

... ताकि आप निखर-निखर जाएं

... ताकि आप निखर-निखर जाएं

मुख्य समाचार

किसानों की तरह, जम्मू-कश्मीर के लोगों को भी ‘बलिदान' देना होगा : फारूक अब्दुल्ला

किसानों की तरह, जम्मू-कश्मीर के लोगों को भी ‘बलिदान' देना होगा : फारूक अब्दुल्ला

नेशनल कांफ्रेंस के संस्थापक शेख अब्दुल्ला की जयंती पर बोले प...