चन्नी ने भाई को छुड़ाने के लिए संपर्क किया था : सुखबीर

चन्नी ने भाई को छुड़ाने के लिए संपर्क किया था : सुखबीर

होशियारपुर, 25 नवंबर (निस)

शिरोमणी अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने आज दसूहा में कहाकि मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी में कोई नैतिकता नहीं है। उन्होंने लुधियाना सिटी घोटाले से अपने भाई मनमोहन सिंह का नाम निकालने के लिए उनकी सरकार के दौरान उनसे संपर्क किया था। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के उम्मीदवार सुशील कुमार ‘पिंकी’ शर्मा के समर्थन में जनसभा के बाद पत्रकारों से बातचीत में सुखबीर ने कहा, ‘चन्नी को अपने भाई को सिटी घोटाला मामले से बचाने के लिए मुझसे संपर्क करने में कोई संकोच नहीं था। उन्होंने इसके लिए विनती की और एक स्वतंत्र उम्मीदवार के रूप में शिअद को अपना समर्थन दिया’। उन्होंने कहा उनका मी टू मामला अभी भी लोगों को याद है। उन्होंने मुख्यमंत्री से उनके द्वारा किए गए वादों को लागू करने को कहा। उन्होंने पूछा ‘वह रेत कहां हैं जो लोगों को 5.50 रूपये प्रति फुट पर मिलनी थी? उपभोक्ताओं को अभी भी 3 रूपये प्रति यूनिट की कटौती के बिना बिल क्यों आ रहे हैं?। बादल ने कहा,‘सच्चाई यह है कि मुख्यमंत्री खरड़-रोपड़ बेल्ट में अवैध रेत खनन कार्यों को नियंत्रित करते हैं। सिर्फ इतना ही नहीं श्री चन्नी राज्य के सबसे बड़े अवैध कॉलोनाइजर हैं। जब परिवहन मंत्री अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग के दावे के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बादल परिवार के स्वामित्व वाली ट्रांसपोर्ट कंपनी को करों में 14 करोड़ बकाया देना था, तो अकाली दल अध्यक्ष ने कहा कि यह सरासर झूठ है। ‘मैं राजा वड़िंग को इस संबंधी रसीद दिखाने के लिए चुनौती देता हूं, 14 करोड़ तो भूल जाइए, मैं चुनौती देता हूं कि वे 10 करोड़ रूपये या 5 करोड़ रूपये की रसीद दिखायें जो हमारे परिवार के स्वामित्व वाली किसी भी परिवहन कंपनी से वसूल की गई है।

इस बीच बादल ने एक बड़ी घोषणा में कहा कि राज्य में शिअद-बसपा सरकार बनने के बाद कंडी क्षेत्र विकास का एक अलग मंत्रालय बनाया जाएगा तथा अगली सरकार कंडी बेल्ट में उद्योग को प्रोत्साहित करने के लिए एक विशेष नीति भी लाएगी। इस हलके के दौरे के दौरान जतिंदर सिंह लाला बाजवा, वरिंदर सिंह बाजवा, सुरिंदर सिंह भुल्लेवाल राठां, सर्बजोत सिंह साबी, बलबीर सिंह मियानी, लखविंदर सिंह लक्खी तथा गुरप्रीत सिंह चीमा भी शिअद अध्यक्ष के साथ मौजूद थे।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

बच्चों को देखिए, बच्चे बन जाइए

बच्चों को देखिए, बच्चे बन जाइए

अलोपी देवी, ललिता देवी, कल्याणी देवी

अलोपी देवी, ललिता देवी, कल्याणी देवी

निष्ठा और समर्पण का धार्मिक सामंजस्य

निष्ठा और समर्पण का धार्मिक सामंजस्य

सातवें साल ने थामी चाल

सातवें साल ने थामी चाल

... ताकि आप निखर-निखर जाएं

... ताकि आप निखर-निखर जाएं

मुख्य समाचार

भारत बड़ी शक्ति, वक्त की कसौटी पर खरा उतरा मित्र

भारत बड़ी शक्ति, वक्त की कसौटी पर खरा उतरा मित्र

शिखर वार्ता : संक्षिप्त यात्रा पर आये रूसी राष्ट्रपति पुतिन ...

अग्रिम मोर्चा कर्मियों को दें बूस्टर डोज

अग्रिम मोर्चा कर्मियों को दें बूस्टर डोज

ओमीक्रॉन को लेकर आईएमए का अनुरोध

शहर

View All