पेगासस ‘जासूसी’ मामला

थरूर के नेतृत्व वाली संसदीय समिति 28 को कर सकती है पूछताछ

थरूर के नेतृत्व वाली संसदीय समिति 28 को कर सकती है पूछताछ

नयी दिल्ली, 21 जुलाई (एजेंसी)

इस्राइली स्पाइवेयर पेगासस के जरिये फोन टैपिंग के आरोपों पर कांग्रेस नेता शशि थरूर के नेतृत्व वाली संसदीय समिति अगले सप्ताह गृह मंत्रालय सहित अन्य सरकारी अधिकारियों से पूछताछ कर सकती है। सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी। लोकसभा सचिवालय द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार, सूचना प्रौद्योगिकी विभाग से जुड़ी इस संसदीय समिति की बैठक 28 जुलाई को निर्धारित है। बैठक का एजेंडा ‘नागरिक डाटा सुरक्षा एवं निजता’ है। इस समिति में अधिकतर सदस्य सत्तारूढ़ भाजपा से हैं। समिति ने इलेक्ट्रानिक्स, सूचना प्रौद्योगिकी एवं गृह मंत्रालय के अधिकारियों को बुलाया है।

सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में हो जांच : एडिटर्स गिल्ड

एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया (ईजीआई) ने पेगासस स्पाइवेयर का इस्तेमाल करके पत्रकारों और नेताओं की व्यापक निगरानी को लेकर मीडिया में आयी खबरों पर हैरानी जताते हुए बुधवार को कथित जासूसी की सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में एक स्वतंत्र जांच की मांग की। एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया ने ट्विटर पर साझा किए गए एक बयान में कहा, ‘चूंकि इस्राइली कंपनी एनएसओ का दावा है कि वह यह सॉफ्टवेयर केवल इस्राइल सरकार द्वारा सत्यापित सरकारी ग्राहकों को बेचती है, इससे अपने ही नागरिकों पर जासूसी करने में भारत सरकार की एजेंसियों के शामिल होने का संदेह गहराता है।’

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

नाजुक वक्त में संयत हो साथ दें अभिभावक

नाजुक वक्त में संयत हो साथ दें अभिभावक

आत्मनिर्भरता संग बचत की धुन

आत्मनिर्भरता संग बचत की धुन

हमारे आंगन में उतरता अंतरिक्ष

हमारे आंगन में उतरता अंतरिक्ष

योगमय संयोग भगाए सब रोग

योगमय संयोग भगाए सब रोग