अग्रिम मोर्चा कर्मियों को दें बूस्टर डोज

ओमीक्रॉन को लेकर आईएमए का अनुरोध

अग्रिम मोर्चा कर्मियों को दें बूस्टर डोज

नयी दिल्ली, 6 दिसंबर (एजेंसी)

कोरोना वायरस के नये स्वरूप ओमीक्रॉन को लेकर बढ़ती चिंता के बीच ‘इंडियन मेडिकल एसोसिएशन’ (आईएमए) ने सोमवार को केंद्र सरकार से स्वास्थ्यकर्मियों, अग्रिम मोर्चा कर्मियों और कमजोर रोग प्रतिरोधक क्षमता वाले व्यक्तियों को कोविड-रोधी टीके की ‘बूस्टर’ डोज देने का अनुरोध किया। आईएमए ने यह भी मांग की कि सरकार 12-18 आयुवर्ग के टीकाकरण प्रस्ताव पर तेजी से विचार करे।

आईएमए ने प्रेसवार्ता के दौरान कहा कि भारत के प्रमुख राज्यों में वायरस के नये स्वरूप के मामले सामने आ चुके हैं और इनकी संख्या में वृद्धि होने की आशंका है। संगठन ने कहा, ‘ऐसे समय में जब भारत सामान्य स्थिति की आरे बढ़ रहा है, ये बड़ा झटका साबित हो सकता है। अगर हम पर्याप्त उपाय नहीं करते तो हमें महामारी की भयंकर तीसरी लहर का सामना करना पड़ सकता है।’

देश में 8306 नये कोरोना मामले

देश में कोरोना के 8306 नये मामले सामने आये, जबकि उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 98,416 रह गयी है, जो 552 दिन में सबसे कम है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार जारी आंकड़ों के अनुसार, बीते 24 घंटे में संक्रमण से 211 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,73,537 हो गयी। इस दौरान उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 739 की कमी दर्ज की गयी। कोरोना मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 98.35 प्रतिशत है। दैनिक संक्रमण दर 0.94 प्रतिशत दर्ज की गयी। देश में कोरोना के मामले बढ़कर 3,46,41,561 हो गये हैं। इनमें से 3,40,69,608 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं, जबकि मृत्यु दर 1.37 प्रतिशत है। मंत्रालय के अनुसार, कोरोना रोधी टीकों की 127.93 करोड़ से अधिक खुराकें दी जा चुकी हैं। उधर, गुजरात के जामनगर में 4 दिसंबर को ओमीक्रॉन से संक्रमित पाए गये एक प्रवासी भारतीय की पत्नी और एक अन्य रिश्तेदार के भी कोरोना से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। उनके नमूनों को जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा गया है। यह प्रवासी भारतीय जिम्बाब्वे से आया है, उसने वहां एक चीनी टीके की दोनों खुराक ली थीं।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

अन्न जैसा मन

अन्न जैसा मन

कब से नहीं बदला घर का ले-आउट

कब से नहीं बदला घर का ले-आउट

एकदा

एकदा

बदलते वक्त के साथ तार्किक हो नजरिया

बदलते वक्त के साथ तार्किक हो नजरिया