सहानुभूति, महंगाई और भितरघात बने हार का कारण

सहानुभूति, महंगाई और भितरघात बने हार का कारण

शिमला में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल और अन्य भाजपा नेता कोर कमेटी बैठक से पहले दीप प्रज्वलित करते हुए।

ज्ञान ठाकुर/निस

शिमला, 25 नवंबर

हिमाचल प्रदेश में हाल ही में सम्पन्न चार उपचुनावों में सत्तादल भाजपा की शर्मनाक हार पर पार्टी ने शिमला में भाजपा कार्यसमिति, कोर कमेटी और विस्तारित कोर कमेटी की बैठक में मंथन किया। भाजपा इस मंथन में इस नतीजे पर पहुंची है कि उपचुनाव में पार्टी की हार अति आत्मविश्वास, पूर्व मुख्यमंत्री स्व. वीरभद्र सिंह के निधन के बाद उपजी सहानुभूति, महंगाई और भीतरघात के कारण हुई है। भाजपा के मुख्य प्रवक्ता रणधीर शर्मा ने आज शिमला में एक पत्रकार वार्ता में पार्टी के विभिन्न समितियों की बैठकों में हुए मंथन और निष्कर्ष की जानकारी देते हुए कहा कि प्रदेश में हुए उपचुनाव के नतीजे भाजपा की उम्मीदों के अनुरूप नहीं रहे हैं। इन नतीजों पर अलग-अलग समितियों की बैठकों में विस्तृत समीक्षा हुई। उन्होंने कहा कि मंथन के दौरान ये बात सामने आई है कि पार्टी कार्यकर्ता अति आत्मविश्वास में रहा जो हार का सबसे बड़ा कारण बना। इसके अलावा कांग्रेस को पूर्व मुख्यमंत्री स्व. वीरभद्र सिंह के निधन से उपजी सहानुभूति का भी खूब फायदा मिला और एक सीट को छोड़कर बाकी तीन सीटों पर कांग्रेस केवल सहानुभूति फैक्टर पर ही चुनाव जीत गई। उन्होंने कहा कि कुछ सीटों पर भितरघात और अनुशासनहीनता भी सामने आए हैं।

रणधीर शर्मा ने ये भी माना कि महंगाई के कारण भाजपा को नुकसान झेलना पड़ा। उन्होंने कहा कि पार्टी अनुशासनहीनता और भितरघात करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने जा रही है। पार्टी ने मौजूदा चुनाव में सामने आई कमियों को तत्काल सुधारने का भी निर्णय लिया है ताकि पार्टी को वर्ष 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में प्रदेश में फिर से सत्ता पर काबिज किया जा सके। उन्होंने कहा कि जयराम सरकार के 22 दिसंबर को सत्ता में चार साल पूरे हो रहे हैं और इस उपलक्ष्य में भाजपा प्रदेश में महाजनसंपर्क अभियान शुरू करेगी। उन्होंने कहा कि जयराम सरकार के चार साल पूरा होने के मौके पर प्रदेश में बड़ा कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा जिसमें पार्टी के बड़े केंद्रीय नेता शामिल होंगे। रणधीर शर्मा ने कहा कि उपचुनावों के नतीजे के बाद कांग्रेस हवा में उड़ रही है लेकिन उसके लिए दिल्ली अभी दूर है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता मुंगेरी लाल के सपने देख रहे हैं तथा विपक्ष में मुख्यमंत्री की कुर्सी के एक दर्जन से अधिक दावेदार अभी से खड़े हो गए हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा आगामी विधानसभा चुनाव को अत्यंत गंभीरता से ले रही है और नए सिरे से मेहनत कर फिर से सत्ता में लौटेगी।

आगामी प्लान का रोडमैप तैयार : खन्ना

हिमाचल प्रदेश भाजपा प्रभारी अविनाश राय खन्ना ने कहा है कि कोर ग्रुप में बहुत से महत्वपूर्ण विषयों पर सभी नेताओं ने चर्चा की और पार्टी के आगामी प्लान के लेकर रोडमैप तैयार किया है। प्रदेश सरकार के 4 साल पूरे होने को लेकर भी चर्चा की गई है। उन्होंने कहा कि पार्टी के सभी जिलों और मंडलों की बैठक होनी है उसकी नीति भी तय हुई है। उन्होंने कहा कि जो भाजपा इन उपचुनावों में हारी है, उसमें किसका क्या रोल रहा है और क्या-क्या कारण रहे उनपर विचार किया गया है। उन्होंने कहा की भाजपा 2022 का चुनाव दम खम से लड़ेगी, सभी कमी पेशियों को दूर करते हुए हम आगे बढ़ेंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा प्रदेश कार्यकारणी के बाद भाजपा नए जोश से फील्ड में उतरेगी। खन्ना के कहा कि अगला चुनाव में हमारी जीत पक्की है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

बच्चों को देखिए, बच्चे बन जाइए

बच्चों को देखिए, बच्चे बन जाइए

अलोपी देवी, ललिता देवी, कल्याणी देवी

अलोपी देवी, ललिता देवी, कल्याणी देवी

निष्ठा और समर्पण का धार्मिक सामंजस्य

निष्ठा और समर्पण का धार्मिक सामंजस्य

सातवें साल ने थामी चाल

सातवें साल ने थामी चाल

... ताकि आप निखर-निखर जाएं

... ताकि आप निखर-निखर जाएं

मुख्य समाचार

भारत बड़ी शक्ति, वक्त की कसौटी पर खरा उतरा मित्र

भारत बड़ी शक्ति, वक्त की कसौटी पर खरा उतरा मित्र

शिखर वार्ता : संक्षिप्त यात्रा पर आये रूसी राष्ट्रपति पुतिन ...

अग्रिम मोर्चा कर्मियों को दें बूस्टर डोज

अग्रिम मोर्चा कर्मियों को दें बूस्टर डोज

ओमीक्रॉन को लेकर आईएमए का अनुरोध

शहर

View All