कुल्लू के घियागी में 200 मीटर गहरी खाई में गिरी कार, चार पर्यटकों की मौत, तीन घायल

कुल्लू के घियागी  में 200 मीटर गहरी खाई में गिरी कार, चार पर्यटकों की मौत, तीन घायल

खाई में गिरी दिल्ली नंबर की कार

ज्ञान ठाकुर

शिमला, 16 मई

कुल्लू घाटी के बंजार क्षेत्र के घियागी के पास बीती रात एक पर्यटक वाहन के दो सौ मीटर गहरी खाई में गिरकर दुर्घटनाग्रस्त हो जाने से चार पर्यटक की मौत हो गई और तीन अन्य घायल हो गए। ये हादसा बीती देर रात हुआ जिसका आज सुबह उस वक्त पता चला जब कुछ मजदूर घियागी के पास काम पर जा रहे थे और उन्होंने पर्यटक वाहन को गहरी खाई में गिरा हुआ पाया। इन मजदूरों और स्थानीय लोगों ने इस दुर्घटना की सूचना तुरंत पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दुघटना में मारे गए चार पर्यटकों के शवों और तीन घायल पर्यटकों को गहरी खाई से बाहर निकाला।

इस दुर्घटना में मृतक पर्यटकों की अभी पहचान नहीं हो पाई है जबकि दो घायल पर्यटक महिलाओं की पहचान कर ली गई है। इनका नाम दिल्ली के म्यूर विहार की 26 वर्षीय आस्था भंडारी और 27 वर्षीय साक्षी बताया गया है। तीसरे घायल पर्यटक की अभी पहचान नहीं हो पाई है।

मृतकों में तीन पुरुष और एक महिला शामिल है। दुर्घटनाग्रस्त कार का नंबर डीएल 01-एनए 2124 बताया गया है। पुलिस मृतक पर्यटकों के शवों का पोस्टमार्टम करवा रही है और इनकी पहचान के प्रयास किए जा रहे हैं। जानकारी के अनुसार ये दुर्घटना संभवत: चालक के वाहन पर नियंत्रण खो देने के कारण हुई है।

हरिपुरधार में भी हुआ हदसा

उधर, सिरमौर जिला के हरिपुरधार में भी एक पर्यटक वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो गया जिसमें चार पर्यटक घायल हुए हैं। ये सभी पर्यटक हरियाणा के यमुनानगर से हरिपुर धार घूमने जा रहे थे और हरिपुर धार के निकट डोम का बाग नामक स्थान पर इनकी सलेरियो कार (डीएल 9सी आर 8530) 200 मीटर गहरी खाई में जा गिरी। घायलों में वाहन चालक राहुल कुमार निवासी उधमगढ़ दिल्ली, गुरदयाल सिंह निवासी गांव बिलासपुर यमुनानगर, विक्रम सिंह निवासी बिलासपुर, यमुनानगर और बिजेंद्र सिंह गांव टीका सहारनपुर शामिल हैं। इन पर्यटकों को संगड़ाह अस्पताल में प्राथमिक उपचार देने के बाद नाहन मेडिकल कॉलेज में उपचार के लिए लाया गया है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

योगमय संयोग भगाए सब रोग

योगमय संयोग भगाए सब रोग

जीवन के लिए साझे भविष्य का सपना

जीवन के लिए साझे भविष्य का सपना

यमुनानगर तीन दर्जन श्मशान घाट, गैस संचालित मात्र एक

यमुनानगर तीन दर्जन श्मशान घाट, गैस संचालित मात्र एक

शहर

View All