आईपीएल : तेवतिया के तेवर की ताप न सह सका किंग्स इलेवन पंजाब, आखिरी ओवर में हारा!

मयंक के शतक पर भारी पड़ा संजू सैमसन का पचासा

आईपीएल : तेवतिया के तेवर की ताप न सह सका किंग्स इलेवन पंजाब, आखिरी ओवर में हारा!

राहुल तेवतिया एक्शन में।-एजेंसी

ट्रिब्यून वेब डेस्क/एजेंसी

चंडीगढ़/शारजाह, 27 सितंबर 

राजस्थान रायल्स के बल्लेबाज संजू सैमसन की धमाकेदार बल्लेबाजी के बाद राहुल तेवतिया के तेवर की ताप न सहते हुए किंग्स इलेवन पंजाब आईपीएल के एक और रोमांचक मैच में जीत की महक आने के बाद भी हार की चौखट पार कर गयी। किंग्स इलेवन पंजाब के दो विकेट पर 223 रन के जवाब में एक समय राजस्थान रायल्स की उम्मीदें केवल संजू सैमसन पर आ टिकीं थीं। साथ में बल्लेबाजी कर रहे तेवतिया एक समय में गेंद को बल्ले से छूने में भी सफल नहीं हो पा रहे थे। यहां तक कि उनकी बल्लेबाजी से कमेंट्रेटर भी दुखी दिखाई दे रहे थे। मगर होनी को कुछ और ही मंजूर था। संजू सैमसन (42 गेंद में 85) के आउट होते ही अचानक तेवतिया के तेवर बदल गये और राजस्थान रॉयल्स ने आखिरी ओवर में किंग्स इलेवन पंजाब को 4 विकेट से हराया। रॉयल्स ने 6 विकेट पर 226 रन बनाकर 19.3 ओवर में जीत दर्ज की। सारा मैच 18वें ओवर में पलट गया जब तेवतिया(31 गेंद में 53) ने कोट्रैल के ओवर में 5 छक्के जड़ दिये। इस ओवर के बाद राजस्थान को जीत की सुगंध मिल चुकी थी और 19वें ओवर में शामी को 3 छक्के जड़ कर राजस्थान रायल्स ने जीत लगभग तय कर ली थी हालांकि आखिरी ओवर में पहली 2 गेंद में 2 विकेट गिराकर पंजाब ने दिल की धड़कने बढ़ा दीं मगर तीसरी गेंद पर लगे चौके ने राजस्थान की जीत का बिगुल बजा दिया।

इससे पहले मयंक अग्रवाल के शतक और कप्तान केएल राहुल के साथ उनकी पहले विकेट के लिये 183 रन की बड़ी साझेदारी की मदद से किंग्स इलेवन पंजाब ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ रविवार को यहां दो विकेट पर 223 रन बनाये। किंग्स इलेवन को बल्लेबाजी का न्योता मिलने पर कर्नाटक के ये दोनों बल्लेबाज हावी हो गये। अग्रवाल शुरू से बड़े शॉट खेलने के मूड में दिखे। उन्होंने 50 गेंदों पर 106 रन बनाये जिसमें दस चौके और सात छक्के शामिल हैं। पिछले मैच में शतक जड़ने वाले राहुल ने 54 गेंदों का सामना किया तथा अपनी 69 रन की पारी में सात चौके और एक छक्का लगाया। निकोलस पूरण आठ गेंदों पर 25 रन बनाकर नाबाद रहे। शारजाह की पिच को शुरू से ही बल्लेबाजों के लिये अनुकूल माना जा रहा था तथा अग्रवाल और राहुल ने इसका पूरा फायदा उठाया और आईपीएल में पहले विकेट के लिये तीसरी सबसे बड़ी साझेदारी निभायी। इन दोनों ने पावरप्ले में 60 रन जोड़े। यह आलम तब था जबकि पावरप्ले के पहले ओवर में जयदेव उनादकट ने तीन और अंतिम ओवर में जोफ्रा आर्चर ने केवल दो रन दिये। लेकिन इस बीच अग्रवाल ने अंकित राजपूत और उनादकट पर छक्के लगाये जबकि चौथे ओवर में गेंद थामने वाले आर्चर का राहुल ने लगातार तीन चौकों से स्वागत किया। राजपूत ने अपने दूसरे ओवर में भी 17 रन लुटाये। अग्रवाल दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ खेली गयी 89 पारी की पुनरावृत्ति कर रहे थे। लेग स्पिनर राहुल तेवतिया के पहले ओवर में लगाये गये उनके दोनों छक्के दर्शनीय थे। उन्होंने दूसरे लेग स्पिनर श्रेयस गोपाल पर छक्का लगाकर केवल 26 गेंदों पर 50 रन पूरे किये। अग्रवाल ने अगले 50 रन हालांकि केवल 19 गेंदों पर बनाये और 45 गेंदों पर सैकड़ा पूरा करके आईपीएल में यूसुफ पठान (37 गेंद) के बाद सबसे तेज शतक जड़ने वाले दूसरे भारतीय बल्लेबाज बने। अग्रवाल ने आईपीएल में पहला शतक लगाने के बाद टॉम कुरेन की गेंद पर मिडविकेट पर कैच दिया। राहुल भी राजपूत के अगले ओवर में पवेलियन लौट गये। पिछले मैच में नाबाद 132 रन बनाने वाले राहुल अपनी पिछली पारी की तरह प्रवाहमय नहीं दिखे लेकिन उन्होंने अग्रवाल का अच्छा साथ दिया तथा 35 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया था। आखिरी ओवरों में पूरण ने लंबे शॉट खेलने के अपने कौशल का अच्छा नमूना पेश किया। उन्होंने अपने तीने में से दो छक्के आर्चर पर लगाये जिन्होंने चार ओवर में 46 रन दिये। ग्लेन मैक्सवेल 13 रन बनाकर नाबाद रहे।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

सीमा पर तैनाती बढ़ाएगी सेना का मनोबल

सीमा पर तैनाती बढ़ाएगी सेना का मनोबल

मुनाफे के तंत्र पर चोट कीजिये

मुनाफे के तंत्र पर चोट कीजिये

क्षेत्रीय नियोजन में समाधान की तलाश

क्षेत्रीय नियोजन में समाधान की तलाश

शहर

View All