पूजा और सज्जा

नये अंदाज में मनायें खुशियां

बदले माहौल में आया त्योहारी मौसम

नये अंदाज में मनायें खुशियां

दीप्ति अंगरीश

बेशक कोरोना का खौफ बरकरार है, लेकिन त्योहारी मौसम का लुत्फ भी तो उठाना है। तो क्यों न हम कुछ नये अंदाज में खुशियां मनायें ताकि त्योहार की उमंग भी बनी रहे और हम सेफ भी रहें। तो आइए करते हैं फेस्टिव सीजन की रंगारंग और सुरक्षित तैयारी।

घर एक मंदिर है...

नवरात्र के दौरान घर में रहकर ही नौ दिन मां की पूजा करेंगे, तो घर में मंदिर वाली फीलिंग आनी चाहिए। इसके लिए घर को छोटे स्तर पर पंडाल का लुक दें। साथ ही कोशिश करें कि कम से कम घर से निकलना पड़े और सजावट का सामान घर में उपलब्ध वस्तुओं से करें। सबसे पहले घर से गैर ज़रूरी चीज़ें हटाएं। बेकार की चीजें स्पेस तो घेरती ही हैं, घर को कंजस्टेड लुक भी देती हैं। हर कमरे को ताज़े फूलों व आम के पत्ते के बंधनबार से सजाएं। मां के स्वागत के लिए पूजा रूम और आंगन में रंगोली बनाएं। इसके लिए फूल, चावल के आटे, हल्दी, मोटे अनाज, रंगोली कलर्स, लकड़ी के बुरादे आदि से बनाएं। पूजा रूम में सजावटी कलश रखें। आजकल रंगोली स्टिकर्स भी मिलते हैं। लिविंग रूम, लाॅबी, ड्राइंग रूम को मिट्टी के फैंसी पाॅटरी से सजाएं। हर चौखट को पेपर झालर से सजाएं। घर को अगरबत्ती से महकाएं। जितना हो सके घर से कम निकलें।

कलरफुल फैशन

वैसे तो फेस्टिव स़ीजन में नए-नए लश्कारेदार कपड़े पहनने का क्रेज़ अलग होता है, परंतु इस बार ऐसा संभव नहीं है। कोशिश करें कि शोरूम जाने के बजाय आॅनलाइन शाॅपिंग पर फोकस करें। ऐसा नहीं हो कि शाॅपिंग के चक्कर में कोरोना घर ले आएं। इस नवरात्रि आप खूब सजिए-संवरिए। पिछली बार की कुछ गरबा ड्रेस आपके पास पड़ी होंगी, तो उसे मिक्स-मैच करके पुरानी ड्रेस को न्यू लुक दे सकते हैं। कोशिश करें कि टाॅप या बाॅटम में से एक पुराना हो, ताकि जेब पर बोझ नहीं पड़े। इस साल गरबा तो प्रतिबंधित है, सो घर पर रहें, लेकिन नौ दिन अलग-अलग ट्रेडिशनल ड्रेस पहनें, जैसे- क्राॅप टाॅप के साथ धोती पैंट, डेनिम शर्ट के साथ लहंगा, साइड स्लिट कुर्ती के साथ पैंट, एसिमिट्रिकल कुर्ती के साथ लहंगा, ए-लाइन कुर्ती के साथ धोती पैंट, लहंगे के साथ हाॅल्टर नेक या काॅरसेट टाॅप, चुनरी में विविधता के अलावा ट्रेडिशनल वर्क वाले स्टोल कैरी करें।

मेकअप में साॅफ्ट लुक

कोरोना के चलते इस साल दुर्गा पूजा के पंडाल पर नहीं जा सकते। इसका मतलब यह नहीं कि सजे-संवरे नहीं। घर पर रहकर नवरात्रि धूमधाम से मनाएं। मेकअप लुक साॅफ्ट रखें। मेकअप में कम से कम प्रोडक्ट्स प्रयोग करें। साॅफ्ट लुक वाले मेकअप के लिए चेहरे को माॅश्चराइज करने के बाद मेल खाते फाउंडेशन से एक-सार करें। चीक बोन्स पर रोज़, पिंक या बेज कलर का ब्लश लगाएं। आंखों को हाईलाइट करें काजल, आईलाइनर और मसकारा से। स्किन टोन व ड्रेस से मेलखाती लिपस्टिक लगाएं। कुछ ये नुस्खे अपनाएं-

* आपकी ड्रेस प्लेन है, तो हैवी ईयररिंग्स, नेकपीस पहनें। बंगाली लुक (रेड बार्डर वाली सफेद साड़ी, बंगाली साड़ी ड्रेपिंग स्टाइल) भी कैरी कर सकती हैं।

* वाॅटरपू्रफ मेकअप करें। यदि मेकअप सिंपल कर रही हैं, तो साॅफ्ट लुक वाला करें। बड़ी बिंदी जरूर लगाएं। यह ट्रेडिशनल ड्रेस के साथ बहुत जंचती है। बालों को खुला रखने के अलावा विभिन्न स्टाइल बनाएं, जैसे चोटी, साइड चोटी, ख़जूरी चोटी, फ्रेंच प्लेट, फिश टेल ब्रेड, बन, मेसी बन, कलर्स आदि।

भोजन भी हो पौष्टिक

नौ दिन के उपवास का मतलब यह नहीं कि प्याज़-लहसुन छोड़ आप अनहेल्दी और डीप फ्राइड फूड खाएं। इस उपवास भक्ति के साथ शरीर की शुद्धि। खाने में पौष्टिकता व सुपाच्यता को महत्व दें। नवरात्रि में आप साबूदाना की खिचड़ी, कुटु का डोसा, सिंघारे के आटे का डोसा, आलू की कढ़ी, लो फैट मखाना खीर, बनाना-वाॅलनट लस्सी, अरबी के कोफ्ते, व्रत वाले चावल का ढोकला, केला कबाब, पनीर रोल्स, रसेदार आलू, सामा की खिचड़ी आदि खा सकते हैं। फल-सब्जियां खूब खाएं, पानी खूब पिएं, ज़रूरत से ज्यादा काम नहीं करें।

इन बातों का भी रखें खयाल

* मंदिर खुल गए हैं, लेकिन अभी कोरोना खत्म नहीं हुआ है। घर पर रखकर मां की अराधना करें। मंदिर जाएं तो सिर्फ दर्शन करें। प्रतिमाओं को छुएं नहीं।

* मास्क पहनकर जाएं और सोशल डिस्टेसिंग का पालन करें। इस बार कन्या पूजन बिना कन्याओं को बुलाकर ही कर लें तो अच्छा।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

दीवारें भी लगें हैप्पी

दीवारें भी लगें हैप्पी

सर्दियों का गर्मजोशी से करें स्वागत

सर्दियों का गर्मजोशी से करें स्वागत

कार्तिक आर्यन   हैप्पी होगा न्यू ईयर

कार्तिक आर्यन हैप्पी होगा न्यू ईयर

ऋषिना ने मेकअप रूम को बनाया मंदिर

ऋषिना ने मेकअप रूम को बनाया मंदिर

एक अपराध से उपजे अनेक सवाल

एक अपराध से उपजे अनेक सवाल

भूख का समाधान किये बिना विकास अधूरा

भूख का समाधान किये बिना विकास अधूरा

ऑटो ड्राइवर का संकल्प कि कोई भूखा न सोये

ऑटो ड्राइवर का संकल्प कि कोई भूखा न सोये

शहर

View All