अमेरिका में लोकतंत्र की रक्षा संबंधी विधेयक मतदान में गिरा, राष्ट्रपति बाइडन और डेमोक्रेटिक पार्टी को झटका

अमेरिका में लोकतंत्र की रक्षा संबंधी विधेयक मतदान में गिरा, राष्ट्रपति बाइडन और डेमोक्रेटिक पार्टी को झटका

प्रतीकात्मक चित्र

वाशिंगटन, 20 जनवरी (एपी) 

अमेरिका में लोकतंत्र को बचाने के लिये महत्वपूर्ण बताया जा रहा एक अहम विधेयक बुधवार को सीनेट में मतदान के बाद गिर गया जब डेमोक्रेटिक पार्टी के दो सांसदों ने सदन के नियमों में बदलाव के लिये अपनी पार्टी का साथ देने से इनकार कर दिया। इस विधेयक के गिरने को राष्ट्रपति जो बाइडन और उनकी डेमोक्रेटिक पार्टी के लिये करारी शिकस्त के रूप में देखा जा रहा है, जिनके कार्यकाल को एक साल पूरा हो गया है। डेमोक्रेटिक पार्टी इस विधेयक को लेकर सीनेट के नियमों में बदलाव करने को लेकर एरिजोना से सांसद क्रिस्टीन सिनेमा और वेस्ट मिशिगन से सांसद जो मैनचिन को नहीं मना सकी और न ही इस विधेयक को आगे बढ़ाने के लिये बहुमत हासिल कर पाई। बाइडन ने मतदान के बाद एक बयान में कहा, ''मैं बेहद निराश हूं।' हालांकि, राष्ट्रपति ने कहा कि वह ''विचलित नहीं हैं'' और लोकतंत्र की रक्षा के लिये हरसंभव कदम उठाने का संकल्प लेते हैं।

 दरअसल, डेमोक्रेट सांसद अमेरिका में चुनावी नियमों में बड़े सुधार के लिए कानून बनाने की तैयारी कर रहे हैं। डेमोक्रेट्स का मानना है कि वोटिंग नियमों में बदलाव करने की जरूरत है, जिससे अश्वेत और अन्य पिछड़े वर्गों को मतदान करने में किसी भी तरह की मुश्किलों को सामना न करना पड़े। दूसरी ओर रिपब्लिकन पार्टी मताधिकार विधेयक को पक्षपातपूर्ण बताते हुए इसका विरोध करती रही है। पिछले साल तीन बार रिपब्लिकन पार्टी ने मतदान अधिकार विधेयक का विरोध किया था। इस विधेयक को पारित करने के लिये सीनेट में 60 मतों की जरूरत थी, लेकिन डेमोक्रेटिक पार्टी केवल 51 वोट हासिल कर सकी और बहुमत हासिल करने से पीछे रह गई।

 

 

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

यमुनानगर तीन दर्जन श्मशान घाट, गैस संचालित मात्र एक

यमुनानगर तीन दर्जन श्मशान घाट, गैस संचालित मात्र एक

ग्रामीणों ने चंदे से बना दिया जुआं में आदर्श स्टेडियम

ग्रामीणों ने चंदे से बना दिया जुआं में आदर्श स्टेडियम

'अ' से आत्मनिर्भर 'ई' से ईंधन 'उ' से उपले

'अ' से आत्मनिर्भर 'ई' से ईंधन 'उ' से उपले

दैनिक ट्रिब्यून की अभिनव पहल

दैनिक ट्रिब्यून की अभिनव पहल

मुख्य समाचार

बंटवारे के दौरान खोई हुई पाकिस्तानी महिला करतारपुर में 75 साल बाद पटियाला के सिख भाइयों से मिली

बंटवारे के दौरान खोई हुई पाकिस्तानी महिला करतारपुर में 75 साल बाद पटियाला के सिख भाइयों से मिली

1947 में हुई हिंसा के दौरान बिछड़ गई थी परिवार से, मुस्लिम प...

हार्दिक पटेल ने कांग्रेस को दिया झटका, हाथ का साथ छोड़ा

हार्दिक पटेल ने कांग्रेस को दिया झटका, हाथ का साथ छोड़ा

गुजरात कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष पद छोड़ा, सोनिया गांधी को भेजा...