चीनी मोबाइल कंपनी वीवो ने आईपीएल से खींचे हाथ, 2199 करोड़ का करार किया रद्द!

चीनी मोबाइल कंपनी वीवो ने आईपीएल से खींचे हाथ, 2199 करोड़ का करार किया रद्द!

नयी दिल्ली, 4 अगस्त (एजेंसियां)

चीन की मोबाइल कंपनी वीवो ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) से अपने आप को अलग कर लिया है। अब वीवो आईपीएल को स्पांसर नहीं करेगी। वीवो ने यह निर्णय उस समय लिया है जब बीसीसीआई आईपीएल का कार्यक्रम लगभग फाइनल कर चुका है। उल्लेखनीय है कि वीवो का आईपीएल से 5 साल का 2199 करोड़ का करार था। चीनी कंपनियों का भारत में विरोध हो रहा था, इसलिये कंपनी ने मंगलवार को यह फैसला लिया। उल्लेखनीय है कि आईपीएल गवर्निंग कौंसिल ने जब स्पॉन्सर न बदलने की बात कही थी, तो भी सोशल मीडिया पर लोगों ने इसका खासा विरोध जताया था। आईपीएल का 13वां एडिशन यूएई में अगले महीने 19 सितंबर से शुरू होगा। वीवो इंडिया ने 2017 में आईपीएल टाइटल प्रायोजन अधिकार 2199 करोड़ रुपये में हासिल किए थे। इससे लीग को हर सीजन में उसे करीब 440 करोड़ रुपये का भुगतान करना था। इस चीनी मोबाइल कंपनी ने सॉफ्ट ड्रिंक वाली दिग्गज कंपनी पेप्सिको को हटाया था, जिसकी 2016 में 396 करोड़ रुपये की डील थी।

 

 

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

जो पीड़ पराई जाणे रे

जो पीड़ पराई जाणे रे

व्रत-पर्व

व्रत-पर्व

डिजिटल पेमेंट में सट्टेबाजी पर लगे लगाम

डिजिटल पेमेंट में सट्टेबाजी पर लगे लगाम

अपने न बिछुड़ें, तीस साल में खोदी नहर

अपने न बिछुड़ें, तीस साल में खोदी नहर

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

शहर

View All