आज अकेला नहीं है अन्नदाता

संपत्ति क्षतिपूर्ति वसूली कानून की प्रतियां जलाएंगे किसान, बोले

आज अकेला नहीं है अन्नदाता

भिवानी के कितलाना टोल पर बुधवार को कृषि कानूनों को रद्द करने के लिए नारेबाजी करते किसान। -हप्र

भिवानी, 7 अप्रैल (हप्र)

संपत्ति क्षतिपूर्ति वसूली कानून को लेकर किसानों में भारी रोष है। विरोधस्वरूप इस कानून की प्रतियां 8 अप्रैल को कितलाना टोल धरना स्थल पर जलाई जाएंगी। इस बात का ऐलान वक्ताओं ने कितलाना टोल पर चल रहे  धरने को संबोधित करते हुए कही। आंदोलन में तेजी लाने के लिए इलाके की सभी खापों, किसान, मजदूर, सामाजिक, व्यापारी और कर्मचारी संगठनों की एक बैठक 11 अप्रैल को सुबह 10 बजे कितलाना टोल पर बुलाई गई है। इस बात का निर्णय कितलाना टोल के अध्यक्ष मंडल की बैठक में लिया गया। इस अवसर पर सोमबीर सांगवान ने कहा कि मोदी सरकार और खट्टर सरकार लाठी के दम पर आंदोलन को दबाना और कुचलना चाहती है लेकिन भूल रही है कि देश का अन्नदाता आज अकेला नहीं है।  

धरने पर ये रहे मौजूद

कितलाना टोल पर धरने के 104वें दिन खाप सांगवान 40 के सचिव नरसिंह डीपीई, बलवन्त नंबरदार, बिजेंद्र बेरला, राजसिंह जताई, दिलबाग ढुल, बलबीर बजाड़, रणधीर कुंगड़, कमल प्रधान, इंद्रावती, प्रेम कितलाना, निम्बो, कृष्णा छपार ने संयुक्त रूप से अध्यक्षता की। इस अवसर पर सुरजभान सांगवान, मंगल सुई, रणधीर घिकाड़ा, दिलीप सिंह सांगवान, राजकुमार दलाल, रामफल देसवाल, शमशेर फौगाट, राजकुमार हड़ौदी, नत्थूराम फौगाट, सत्यवान कालुवाला, हरबीर सांगवान, प्रोफेसर राजेन्द्र डोहकी, सुलतान मान, मीर सिंह, महेंद्र धानक और जयपाल मौजूद थे। 

‘किसान आंदोलन को नहीं होने देंगे खराब’

चरखी दादरी (निस) : हरियाणा संयुक्त किसान मोर्चा संगठन के सदस्य व भाकियू लोकशक्ति के प्रदेशाध्यक्ष जगबीर घसोला ने कहा कि किसी भी स्थिति में किसान आंदोलन को खराब नहीं होने देंगे। कुछ लोग अपनी राजनीति का स्वार्थ साधने व आकाओं को दिखाने के लिए नए-नए हथकंडे अपना रहे हैं। जिसे किसान कभी कामयाब नहीं होने देंगे। भाकियू प्रदेशाध्यक्ष जगबीर घसोला ने संगठन पदाधिकारियों के साथ बुधवार को गांव सांतौर में किसानों से चर्चा की और किसान आंदोलन को सफल बनाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा स्पष्ट किया जा चुका है कि सरकार किसी भी आंदोलनकारी किसान अथवा किसान संगठन के प्रतिनिधि पर मुकदमें अथवा गिरफ्तारी को लेकर आंदोलन के चलते बेवजह दबाव बनाकर परेशान करना बंद कर दें। अन्यथा हरियाणा संयुक्त किसान मोर्चा कड़ा संज्ञान लेने पर मजबूर होगा। जिसके लिए प्रशासन एवं सरकार स्वयं जिम्मेदार होगी। इसके अलावा आंदोलन में किसानों की भूमिका बढ़ाने पर भी चर्चा की। 

कानूनों के खिलाफ 10 को जाम होगा केएमपी 

रोहतक, 7 अप्रैल (निस)

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय महासचिव वीरेन्द्र हुड्डा ने किसानों व उनका साथ दे रहे समाज के विभिन्न तबको के लोगों को सरकार द्वारा आंदोलन को फेल करने की साजिश से सचेत रहने की आह्वान किया। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन के दिनों दिन मजबूत होने के कारण भाजपा सरकार बौखला गई है, इसलिए अब टकराव की स्थिति उत्पन्न करना चाहती है, जिसके लिए वह लगातार षड्यंत्र रच रही है। यह बात उन्होंने बुधवार को गांव कुलताना, डीघल, बालंद व गरनावठी गांव में जनसम्पर्क अभियान के दौरान कही। उन्होंने संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर दस अप्रैल को होने वाले केएमपी एक्सप्रेस जाम को सफल बनाने का आह्वान किया। 

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

राजनेताओं की जवाबदेही का सवाल

राजनेताओं की जवाबदेही का सवाल

तेल से अर्जित रकम का कीजिए सदुपयोग

तेल से अर्जित रकम का कीजिए सदुपयोग

ताऊ और तीसरी धारा की राजनीति

ताऊ और तीसरी धारा की राजनीति

अभिमान से मुक्त होना ही सच्चा ज्ञान

अभिमान से मुक्त होना ही सच्चा ज्ञान

फलक पर स्थापित ‘थलाइवा’ को फाल्के

फलक पर स्थापित ‘थलाइवा’ को फाल्के

नंदीग्राम रणभूमि के नये सारथी शुभेंदु

नंदीग्राम रणभूमि के नये सारथी शुभेंदु

राजनीति से अहद-ए-वफा चाहते हो!

राजनीति से अहद-ए-वफा चाहते हो!