नये कृषि कानूनों ने देश की नींव को किया कमजोर

नये कृषि कानूनों ने देश की नींव को किया कमजोर

चंडीगढ़ में शुक्रवार को मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह, सुनील जाखड़ एवं अन्य कांग्रेस नेताओं की मौजूदगी में ‘स्मार्ट गांव अभियान’ की शुरुआत करते हुए। -प्रेट्र

चंडीगढ़, 17 अक्तूबर (एजेंसियां)

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने नये कृषि कानूनों को लेकर शनिवार को केंद्र सरकार पर अपना हमला तेज करते हुए दावा किया कि ये कानून ‘हर किसान की आत्मा पर आक्रमण’ हैं तथा इस तरह के कानूनों ने देश की नींव को कमजोर किया है। उन्होंने कहा कि ये तीनों कानून इस देश के हर किसान की आत्मा पर आक्रमण है। यह किसानों के खून-पसीने पर आक्रमण है। और इस देश के किसान एवं मजदूर इस बात को समझते हैं। राहुल ने पंजाब और हरियाणा की अपनी हालिया यात्रा के दौरान नये कृषि कानूनों के खिलाफ की गई ‘ट्रैक्टर रैलियों’ का जिक्र करते हुए कहा, ‘मैं कुछ दिन पहले पंजाब और हरियाणा आया तथा हर किसान एवं मजदूर को मालूम है कि ये तीनों कानून उन पर आक्रमण हैं।’

राहुल के डिजिटल संबोधन के दौरान मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ एवं उनके मंत्रिमंडल के कुछ सहयोगी भी इस अवसर पर मौजूद थे। पंजाब में ‘स्मार्ट गांव अभियान’ के दूसरे चरण की शुरूआत पर डिजिटल संबोधन के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि वह इस बात को लेकर खुश हैं कि पंजाब सरकार ने केंद्र के इन नये कृषि कानूनों को लेकर 19 अक्तूबर को विधानसभा का एक विशेष सत्र बुलाने का फैसला किया है, जहां विधायक इन कृषि कानूनों के बारे में फैसला करेंगे।

पंजाब विधानसभा का विशेष सत्र कल

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने नये कृषि कानूनों को लेकर भाजपा नीत केंद्र सरकार पर प्रहार करते हुए कहा, ‘यदि हम देश की नींव (किसानों) को कमजोर करेंगे, तो भारत कमजोर हो जायेगा।’ यदि ये कानून किसानों और मजदूरों के हित में हैं, तो सरकार ने लोकसभा और राज्यसभा में इन्हें पारित कराने से पहले चर्चा क्यों नहीं होने दी? मैं खुश हूं कि पंजाब विधानसभा के 19 अक्तूबर को बुलाये विशेष सत्र में किसानों और मजदूरों की आवाज सुनी जाएगी।

लाल डोरा में बसे लोगों को राहत की घोषणा

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने इस अवसर पर गांवों के लाल डोरा क्षेत्र में लंबे समय से बसे लोगों को संपत्ति का अधिकार देने के सरकार के फैसले की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि केंद्र के नये कृषि कानूनों पर सोमवार को विधानसभा के विशेष सत्र में चर्चा होगी, जिसका उद्देश्य किसानों पर इन कानूनों के विनाशकारी प्रभावों का आक्रमकता के साथ एवं प्रभावी तरीके से मुकाबला करना है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

दीवारें भी लगें हैप्पी

दीवारें भी लगें हैप्पी

सर्दियों का गर्मजोशी से करें स्वागत

सर्दियों का गर्मजोशी से करें स्वागत

कार्तिक आर्यन   हैप्पी होगा न्यू ईयर

कार्तिक आर्यन हैप्पी होगा न्यू ईयर

ऋषिना ने मेकअप रूम को बनाया मंदिर

ऋषिना ने मेकअप रूम को बनाया मंदिर

एक अपराध से उपजे अनेक सवाल

एक अपराध से उपजे अनेक सवाल

भूख का समाधान किये बिना विकास अधूरा

भूख का समाधान किये बिना विकास अधूरा

ऑटो ड्राइवर का संकल्प कि कोई भूखा न सोये

ऑटो ड्राइवर का संकल्प कि कोई भूखा न सोये

शहर

View All