बसताड़ा, प्योंत टोल से हटा धरना

बसताड़ा, प्योंत टोल से हटा धरना

घरौंडा में बुधवार को बसताड़ा टोल प्लाजा पर सामान समेटता एक युवक। -निस

विजय शर्मा/हरिकृष्ण आर्य

करनाल/घरौंडा, 27 जनवरी

दिल्ली प्रदर्शन से लौट रहे किसानों पर कुछ युवकों द्वारा आज घरौंडा में पत्थर फेंके जाने के बाद करनाल के जीटी रोड पर बसताड़ा और जींद रोड पर बने प्यौंत टोल प्लाजा पर चल रहे धरने को समाप्त करवा दिया गया है। लंगर व्यवस्था भी बंद करवा दी गई है। किसी तरह की अप्रिय घटना ना हो, इसको लेकर बसताड़ा टोल पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। साथ ही वाटर केनन व दंगा नियंत्रण वाहनों को अलर्ट मोड़ पर रखा गया है। यहां 32 दिन से क्रमिक भूख हड़ताल जारी थी। 24 जनवरी को किसानों के दिल्ली कूच के बाद महिलाओं ने बसताड़ा टोल प्लाजा पर भूख हड़ताल की जिम्मेदारी संभाली हुई थी। इसके अलावा टोल से लेकर घरौंडा तक पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

उपायुक्त निशांत कुमार यादव ने कहा कि किसानों द्वारा बसताड़ा व प्योंत गांव के टोल पर चल रहे धरने-प्रदर्शन को प्रशासन के अनुरोध पर स्वेच्छा से उठा लिया है। दोनों टोलों को खोल दिया गया है। जीटी रोड पर यातायात सुचारू रूप से चल रहा है। उपायुक्त ने कहा कि दिल्ली में हुए उपद्रव को देखते हुए जीटी रोड के आस-पास लोगों में आक्रोश है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

जन सरोकारों की अनदेखी कब तक

जन सरोकारों की अनदेखी कब तक

एमएसपी से तिलहन में आत्मनिर्भरता

एमएसपी से तिलहन में आत्मनिर्भरता

अभिवादन से खुशियों की सौगात

अभिवादन से खुशियों की सौगात

क्या सचमुच हैं एलियंस

क्या सचमुच हैं एलियंस

अब राजनीति की ट्रेन में सवार मेट्रोमैन

अब राजनीति की ट्रेन में सवार मेट्रोमैन

मुख्य समाचार

डिजिटल प्लेटफॉर्म के खिलाफ कार्रवाई करने के कोई प्रावधान नहीं : सुप्रीमकोर्ट

डिजिटल प्लेटफॉर्म के खिलाफ कार्रवाई करने के कोई प्रावधान नहीं : सुप्रीमकोर्ट

अमेजन प्राइम वीडियो की भारत प्रमुख अपर्णा पुरोहित को गिरफ्ता...

शहर

View All