राजस्थान में भी स्थानीय युवाओं को नौकरियों में मिले 75 प्रतिशत आरक्षण : दुष्यंत चौटाला

राजस्थान में भी स्थानीय युवाओं को नौकरियों में मिले 75 प्रतिशत आरक्षण : दुष्यंत चौटाला

जयपुर में शुक्रवार को जजपा के वरिष्ठ नेता एवं हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला इनसो के रणघोष कार्यक्रम को संबोधित करते हुए।

चंडीगढ़, 5 अगस्त (ट्रिन्यू)

हरियाणा में भाजपा के साथ गठबंधन में सत्तारूढ़ जननायक जनता पार्टी (जजपा) ने राजस्थान में भी सक्रिय राजनीति के संकेत दे दिए हैं। इसका आगाज़ छात्र संघ चुनावों से होगा। जजपा का छात्र संगठन – इनसो राजस्थान में छात्र संघों के चुनाव लड़ेगा। हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत सिंह चौटाला ने शुक्रवार को जयपुर के टैगोर थियेटर में इनसो (इंडियन नेशनल स्टूडेंट ऑर्गेनाइजेशन) के 20वें स्थापना दिवस के मौके पर आयोजित ‘रणघोष’ कार्यक्रम में यह ऐलान किया।

जजपा के प्रधान महासचिव व इनसो प्रभारी दिग्विजय सिंह चौटाला द्वारा किए गए इस सफल आयोजन के लिए दुष्यंत ने उनकी और उनकी टीम में शामिल युवाओं की पीठ थपथपाई। दुष्यंत ने इनसो के 20वें स्थापना दिवस पर युवाओं से 20 लाख पौधे लगाने का आह्वान किया। उन्होंने आजादी के 75वें अमृत महोत्सव के अवसर पर देश की स्वतंत्रता के लिए बलिदान देने वाले शहीदों को श्रद्धांजलि स्वरूप यूनिवर्सिटी व कॉलेजों के युवाओं को अपने घरों व हॉस्टल की खिड़कियों पर तिरंगा फहराने का आह्वान किया।

छात्र एवं छात्राओं से खचाखच भरे ऑडिटोरियम में जगह की कमी के कारण अनेक युवाओं को बाहर खड़े होकर डिप्टी सीएम का भाषण सुनना पड़ा। दुष्यंत ने युवाओं को वायु की तरह असीमित शक्ति का परिचायक बताते हुए कहा, जब युवा ठान लेता है तो कोई भी ताकत उसे लक्ष्य से नहीं डिगा सकती। उन्होंने युवाओं को शिक्षा के साथ-साथ अपने रोजगार के अधिकार के लिए संघर्ष करने के लिए प्रोत्साहित किया और कहा कि इस साल उन्होंने 100 मॉडल लाइब्रेरी ग्रामीण क्षेत्र में स्थापित करने का लक्ष्य रखा है, ताकि गरीब किसान व मजदूर का बच्चा भी शहरों की तरह बिना खर्च नौकरी की तैयारी कर सके।

दुष्यंत ने युवाओं से राजस्थान की कांग्रेस सरकार को उखाड़ फेंकने का आह्वान करते हुए कहा कि यह सरकार ग्रामीण आधारभूत ढांचा स्थापित करने में पूरी तरह से फेल रही है। उन्होंने कहा कि राजस्थान की व्यवस्था में सुधार करने के लिए किए जाने वाले संघर्ष में जननायक पार्टी व इनसो यहां के लोगों का पूरा साथ देगी। उन्होंने ऑडिटोरियम में उपस्थित युवाओं से हरियाणा की तर्ज पर निजी सेक्टर की नौकरियों में स्थानीय युवाओं को 75 फीसदी आरक्षण के लिए हाथ उठाकर सहमति मांगी तो युवाओं ने जोशीले अंदाज में डिप्टी सीएम का समर्थन किया। दुष्यंत चौटाला ने कहा, मैं इस मुद्दे पर राजस्थान के युवाओं के संघर्ष में साथ हूं। उन्होंने राजस्थान में चल रहे अवैध खनन के मामले में कांग्रेस सरकार को कठघरे में खड़ा किया। डिप्टी सीएम ने राजस्थान के सभी 33 जिलों में संगठन का विस्तार करने का संकल्प दिलवाते हुए कहा, 26 अगस्त को होने वाले कॉलेज-विश्वविद्यालयों के चुनाव की भी रणनीति बनाएं। उन्होंने जयपुर विश्वविद्यालय के साथ अपने पिता डॉ. अजय सिंह चौटाला का छात्र-जीवन का रिश्ता बताते हुए कहा कि उनके संघर्ष की बदौलत इस क्षेत्र में किसानों के बच्चे छात्र-राजनीति में आगे बढ़ने शुरू हुए थे।

हरियाणा के श्रम एवं रोजगार मंत्री अनूप धानक और जजपा विधायक अमरजीत ढांडा ने इनसो संगठन की मजबूती की चर्चा करते हुए बताया कि वे भी इसी संगठन से निकलकर विधायक-मंत्री के पद तक पहुंचे हैं। इनसो में हमेशा से ही परिश्रमी युवाओं को आगे बढ़ाया जाता रहा है।

राजस्थान वीरों की धरती : दिग्विजय

जजपा प्रधान महासचिव दिग्विजय सिंह चौटाला ने राजस्थान की धरती को वीरों की धरती बताया। उन्होंने कहा कि इनसो छात्र संगठन का जो पौधा पूर्व सांसद डॉ. अजय सिंह चौटाला ने 2003 में लगाया था, वह आज वट-वृक्ष बन चुका है। संगठन से आम घरों के बच्चे सामाजिक कार्यों के साथ-साथ राजनीति में भी आगे बढ़ रहे हैं। दिग्विजय ने राजस्थान की व्यवस्था-परिवर्तन का ‘रणघोष’ करते हुए युवाओं से राज्य सरकार को बदलने का आह्वान किया। उन्होंने नशा व बेरोजगारी के लिए भी रणघोष किया। दिग्विजय ने राजस्थान के साथ अपने पारिवारिक संबंधों का जिक्र करते हुए कहा कि इस भूमि से उनका सात पुश्तों का नाता है।

‘प्रदेश के युवा लड़ें व्यवस्था परिवर्तन की लड़ाई’

इनसो राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रदीप देशवाल कहा कि आज शिक्षित युवा नेतृत्व समय की जरूरत है, इसलिए राजस्थान के युवा व्यवस्था परिवर्तन की लड़ाई लड़ें। देशवाल ने कहा कि हमें केवल हरियाणा, चंडीगढ़, राजस्थान तक ही सीमित नहीं रहना है, हमारा लक्ष्य है कि किसान-कमेरे के घर से सरकारें चले और लाल-किले पर युवा संबोधन दे रहा हो। इस अवसर पर जजपा के हरियाणा अध्यक्ष सरदार निशान सिंह, वरिष्ठ नेता डॉ. केसी बांगड़, अनंतराम तंवर, गुजरात अध्यक्ष बच्चन सिंह, चेयरमैन रणधीर सिंह, पूर्व विधायक पिरथी नंबरदार, शिव शंकर भारद्वाज, रितुराज, मंजू जाखड़, दीपिका शर्मा समेत अनेक युवा नेताओं ने अपने विचार व्यक्त किए।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

नाजुक वक्त में संयत हो साथ दें अभिभावक

नाजुक वक्त में संयत हो साथ दें अभिभावक

आत्मनिर्भरता संग बचत की धुन

आत्मनिर्भरता संग बचत की धुन

हमारे आंगन में उतरता अंतरिक्ष

हमारे आंगन में उतरता अंतरिक्ष

योगमय संयोग भगाए सब रोग

योगमय संयोग भगाए सब रोग

मुख्य समाचार

राजौरी में उड़ी जैसा हमला, 2 फिदायीन ढेर

राजौरी में उड़ी जैसा हमला, 2 फिदायीन ढेर

आतंकियों से लड़ते हुए हरियाणा के 2 जवानों सहित 4 शहीद

मुफ्त के वादे... सुप्रीम कोर्ट ने पूछे सियासी इरादे

मुफ्त के वादे... सुप्रीम कोर्ट ने पूछे सियासी इरादे

सभी पक्षों से 17 से पहले इस पहलू पर मांगे सुझाव

91 हजार के लिए स्वर्गधाम जा रही पेंशन!

91 हजार के लिए स्वर्गधाम जा रही पेंशन!

कैग रिपोर्ट में पकड़ा गया हरियाणा के सामाजिक न्याय विभाग का ...

शहर

View All