अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस

हरियाणा : सदन में होगा महिलाओं का 'राज', विधानसभा के इतिहास में पहली बार सदन की कार्यवाही चलाएंगी महिला विधायक!

पांच विधायक की अधिकृत, 45-45 मिनट संभालेंगी स्पीकर चेयर

हरियाणा : सदन में होगा महिलाओं का 'राज', विधानसभा के इतिहास में पहली बार सदन की कार्यवाही चलाएंगी महिला विधायक!

दिनेश भारद्वाज/ट्रिन्यू

चंडीगढ़, 7 मार्च

इस बार अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर हरियाणा नया इतिहास रचने जा रहा है। यह पहला मौका होगा जब सदन के बाहर ही नहीं, अंदर भी महिलाओं का ही 'राज' होगा। सदन की पूरी कार्यवाही महिला विधायकों के हाथों में होंगी। यह उन पर ही निर्भर करेगा कि वे सदन की कार्यवाही कैसे चलाएं और किसे बोलने का समय दें। पांच महिला विधायकों को इसके लिए अधिकृत किया गया है।

सदन की कार्यवाही दोपहर 2 बजे प्रश्नकाल से शुरू होगी। इसकी शुरूआत स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता ही करेंगे, लेकिन कुछ देर बाद ही वे चेयर सदन की महिला विधायकों के हवाले कर देंगे। यानी प्रश्नकाल की आगे की कार्यवाही फिर महिलाएं ही चलाएंगी। इसके बाद शून्यकाल और राज्यपाल अभिभाषण पर चर्चा का फैसला भी हाउस को चेयर करने वाली महिलाएं ही करेंगी। अकेले हरियाणा ही नहीं, अन्य भी किसी प्रदेश में इस तरह की कोशिश पहले कभी नहीं हुई।

सदन की कार्यवाही शाम को करीब साढ़े 6 बजे तक चलेगी। ऐसे में हाउस चलाने के लिए अधिकृत की गईं पांचों महिला विधायकों को करीब 45-45 मिनट का समय हाउस चलाने के लिए मिलेगा। शुक्रवार को ही स्पीकर ने बड़खल विधायक सीमा त्रिखा, बाढ़डा विधायक नैना सिंह चौटाला, गन्नौर विधायक निर्मल रानी, झज्जर विधायक गीता भुक्कल व तोशाम विधायक किरण चौधरी के नामों का ऐलान कर दिया था। इनमें किरण चौधरी ऐसी हैं, जो दिल्ली विधानसभा में स्पीकर रह चुकी हैं। स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता ने कहा, 'हमारी इच्छा है कि सदन में पहले महिलाओं को ही बुलवाया जाए। हालांकि अब इसका फैसला खुद महिला विधायक ही करेंगी'। उन्होंने कहा कि सदन में किन मुद्दों पर चर्चा करवाई जानी है और किन पर नहीं, इसका निर्णय भी सोमवार को हाउस को चलाने वाली महिला विधायकों पर ही छोड़ा गया है।

वहीं दूसरी ओर, महिला एवं बाल विकास विभाग ने प्रदेश के सभी जिलों में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर समारोह का आयोजन करने के निर्देश जारी किए हैं। सभी जिलों के डीसी की ड्यूटी लगाई गई है। चंडीगढ़ स्थित मुख्यमंत्री आवास पर प्रदेश स्तर के कार्यक्रम का आयोजन होगा। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर इसमें मुख्यातिथि होंगे और विभाग की मंत्री कमलेश ढांडा कार्यक्रम की अध्यक्षता करेंगी। इस मौके पर विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाली महिलाओं को सम्मानित भी किया जाएगा। सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी महिला दिवस के कार्यक्रम का लाइव प्रसारण होगा।

 

'कितने चेहरे-कितने मुखौटे' का होगा मंचन

इधर, कला एवं सांस्कृतिक कार्य विभाग द्वारा महिला दिवस के मौके पर सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया जाएगा। चंडीगढ़ के सेक्टर-18 स्थित टैगोर थियेटर में होने वाले इस आयोजन को 'अपराजिता-2021' नाम दिया है। जाने-माने नाटककार डॉ़ महेश कुमार ‘कितने चेहरे-कितने मुखौटे’ नाटक की प्रस्तुति देंगे। महिला सशक्तिकरण पर लघु नृत्य, देवी अराधना, रागिनी व हरियाणवी लोकनृत्य भी दर्शकों के लिए आकर्षण का केंद्र होंगे। विभाग ने टैगोर थिएटर में दर्शकों के लिए प्रवेश नि:शुल्क रखा है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

राजनेताओं की जवाबदेही का सवाल

राजनेताओं की जवाबदेही का सवाल

तेल से अर्जित रकम का कीजिए सदुपयोग

तेल से अर्जित रकम का कीजिए सदुपयोग

ताऊ और तीसरी धारा की राजनीति

ताऊ और तीसरी धारा की राजनीति

अभिमान से मुक्त होना ही सच्चा ज्ञान

अभिमान से मुक्त होना ही सच्चा ज्ञान

फलक पर स्थापित ‘थलाइवा’ को फाल्के

फलक पर स्थापित ‘थलाइवा’ को फाल्के

नंदीग्राम रणभूमि के नये सारथी शुभेंदु

नंदीग्राम रणभूमि के नये सारथी शुभेंदु

राजनीति से अहद-ए-वफा चाहते हो!

राजनीति से अहद-ए-वफा चाहते हो!

मुख्य समाचार

छह महीने बाद एक दिन में सबसे ज्यादा मौतें

छह महीने बाद एक दिन में सबसे ज्यादा मौतें

उपचाराधीन लोगों की संख्या फिर 10 लाख से अधिक

हिंसा में 5 की मौत के बाद सियासी तूफान

हिंसा में 5 की मौत के बाद सियासी तूफान

केंद्रीय बलों पर गोलीबारी का आरोप, बंगाल में 76 प्रतिशत मतदा...

शहर

View All