जेवर एयरपोर्ट से जुड़ेगा दिल्ली-वड़ोदरा-मुंबई एक्सप्रेस-वे

सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने अधिसूचना की जारी

जेवर एयरपोर्ट से जुड़ेगा दिल्ली-वड़ोदरा-मुंबई एक्सप्रेस-वे

राजेश नागर/निस

बल्लभगढ़, 19 अक्तूबर 

फरीदाबाद से गुजर रहे दिल्ली-वड़ोदरा-मुंबई एक्सप्रेस-वे की जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट से कनेक्टिविटी की तैयारी एनएचएआई ने शुरू हो गई है। लिंक मार्ग के लिए 12 गांव में जमीन अधिग्रहण की जाएगी, इसके लिए सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने अधिसूचना जारी कर दी है। अब 21 दिन तक इन 12 गांव के लोग जिला राजस्व अधिकारी बिजेंद्र सिंह राणा के पास अधिग्रहण से संबंधित आपत्ति दर्ज करा सकते हैं। 21 दिन बाद आपत्ति व सुझाव पर सुनवाई होगी। इसके बाद जमीन अधिग्रहण की अगली प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण इस कनेक्टिविटी के लिए सर्वे कर चुका है। फरीदाबाद में बाईपास को दिल्ली-वड़ोदरा-मुंबई एक्सप्रेस-वे का हिस्सा बनाया जाएगा। सेक्टर-64 के सामने बसे चंदावली गांव से सीधी सड़क कुंडली-गाजियाबाद-पलवल एक्सप्रेस वे तक बनाई जाएगी। इसी को आगे यमुना नदी पर पुल बनाकर नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट तक ले जाने की योजना है। इस तरह नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट से आसपास के जिलों की बेहतर कनेक्टिविटी हो जाएगी। फरीदाबाद से सीधी कनेक्टिविटी एयरपोर्ट तक होने का लाभ पलवल, गुरुग्राम व रेवाड़ी को भी होगा।     एनएचएआई के उपमुख्य प्रबंधक धीरज सिंह ने बताया कि जमीन अधिग्रहण से संबंधित प्रक्रिया पूरी होने के बाद लिंक मार्ग पर जल्द काम शुरू होगा। इस बाबत अधिसूचना जारी कर दी गई है।

12 गांव से गुजरेगा नया मार्ग

जेवर एयरपोर्ट से जोड़ने के लिए नया मार्ग साहपुरा, चंदावली, सोतई, फफूंदा, बहवलपुर, पन्हेड़ा खुर्द, नरहावली, महमदपुर, मोहियापुर, छांयसा, हीरापुर,और मोहना गांव से होते हुए यमुना नदी किनारे पहुंचेगा। उसके बाद यूपी के जेवर के बागपुर गांव के पास से होते हुए जेवर एयरपोर्ट तक सड़क बनेगी। कुल 31 किलोमीटर लंबी सड़क बनाई जानी है। इसमें 24 किलोमीटर हरियाणा तो शेष हिस्सा उत्तर प्रदेश में बनेगा।

12 किलोमीटर दूर है केजीपी

बाईपास पर सेक्टर-66 के सामने बसे चंदावली गांव से करीब 12 किलोमीटर दूर कुंडली-गाजियाबाद- पलवल एक्सप्रेस वे है। यह लिक मार्ग चार लेन बनेगा। इस कनेक्टिविटी का सीधा फायदा मास्टर प्लान-2031 के तहत होने वाले विकास कार्यों को गति मिलने के रूप में होगा। प्लान के तहत 55 गांव में 67 नए सेक्टर विकसित किए जाने प्रस्तावित हैं। ये सेक्टर दोनों एक्सप्रेस-वे की कनेक्टिविटी वाले मार्ग के आसपास भी हैं।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

बच्चों को देखिए, बच्चे बन जाइए

बच्चों को देखिए, बच्चे बन जाइए

अलोपी देवी, ललिता देवी, कल्याणी देवी

अलोपी देवी, ललिता देवी, कल्याणी देवी

निष्ठा और समर्पण का धार्मिक सामंजस्य

निष्ठा और समर्पण का धार्मिक सामंजस्य

सातवें साल ने थामी चाल

सातवें साल ने थामी चाल

... ताकि आप निखर-निखर जाएं

... ताकि आप निखर-निखर जाएं

शहर

View All