गंदे पानी से भरी गलियों में घूमे ज्वाइंट कमिश्नर

गुरुग्राम निकासी न होने पर वार्ड-22 के लोगों ने लगाया जाम

गंदे पानी से भरी गलियों में घूमे ज्वाइंट कमिश्नर

गुरुग्राम में सोमवार को पटौदी रोड पर जाम लगाते लोग और उन्हें समझाते पुलिस कर्मचारी। -हप्र

गुरुग्राम, 13 सितंबर (हप्र)

गलियों में सीवरेज के पानी की निकासी नहीं होने से नाराज वार्ड-22 के लोगों ने पटौदी रोड पर जाम लगा दिया। उनके साथ पार्षद भी निगम अधिकारियों के खिलाफ विरोध जताने पहुंची। ज्वाइंट कमिश्नर ने खुद दौरा कर गंदे पानी से भरी गलियां देखी और सीवरेज की सफाई कार्य का एस्टीमेट बनाने के निर्देश दिए।

जानकारी के अनुसार, पिछले कई महीनों से गलियों में भरे गंदे पानी की समस्या का समाधान नहीं होने से नाराज वार्ड-22 के लोगों का गुस्सा सोमवार को फूट गया। बड़ी संख्या में लोग एकत्रित होकर पार्षद सुनीता यादव के निवास पर पहुंचे तथा नारेबाजी शुरू कर दी। इन लोगों ने पार्षद के प्रतिनिधि नीरज यादव से पूछा कि गंदे पानी की निकासी की व्यवस्था क्यों नहीं होने दी जा रही। जब उसे अधिकारी को मौके पर बुलाया तो उसने लोगों के समक्ष चुप्पी साध ली।

पार्षद सुनीता यादव ने आरोप लगाया कि निगम अधिकारियों ने साजिश के चलते इस वार्ड के नाले और सीवरेज की सफाई का कार्य नहीं होने दिया। इसके बाद वह पटौदी रोड पर जाम लगाए बैठे लोगों के बीच पहुंची और उनकी मांग का समर्थन किया।

पार्षद प्रतिनिधि नीरज यादव ने आरोप लगाया कि अधिकारियों को पिछले तीन महीने से सीवर व नालों की सफाई करवाने की मांग की जा रही थी, लेकिन वे सुनवाई नहीं कर रहे। सीवर का पानी लोगों के घरों में घुस जाता है। जाम के कारण सड़क पर दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई। शिवाजी नगर थाने के एसएचओ प्रवीण मलिक के बुलाने पर निगम की ओर से एक्सईएन मनदीप धनखड़ पहुंचे लेकिन लोगों ने उनकी बात सुनने से इंकार कर दिया। बाद में जोन एक के ज्वाइंट कमिश्नर प्रदीप अहलावत मौके पर पहुंचे। गुस्साये लोगों ने उन्हें गलियों की हालत देखने के लिए कहा। लोगों को शांत करने के लिए ज्वाइंट कमिश्नर सीवर के गंदे पानी से भरी कई गलियों में से होकर गुजरे तथा लोगों की परेशानी सुनी। बाद में उन्होंने कहा कि बुधवार को इस विषय पर अधिकारियों की बैठक बुलाई है। साथ ही उन्होंने एक्सईएन मनदीप धनखड़ को सीवर व नालों की सफाई का प्लान बनाकर देने और जाम पड़े सीवरों की तत्काल सफाई शुरू करवाने के निर्देश दिए। इस दौरान करीब दो घंटे तक रोड जाम रहा। इस मौके पर सुरेश यादव, हरीश शर्मा, सचिन यादव व प्रवीण कटारिया समेत बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

ठेका रद्द होने के बाद अफसरों-पार्षदों में तनातनी

मौके पर पहुंचे निगम के अधिकारी सीवरेज समस्या पर बात करते हुए। -हप्र

एमसीजी में अफसरों और पार्षदों के बीच तकरार वार्ड-22 के सीवरेज व नालों की सफाई कार्य का ठेका रद्द करने के बढ़ी है। ठेका एसई रमेश शर्मा की सिफारिश के बाद रद्द कर दिया गया था। जिससे नाराज पार्षदों ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल लिया। मेयर मधु आजाद के इसी वार्ड का निरीक्षण कर रिपोर्ट देने के निर्देश का पालन नहीं किए जाने के कारण स्थानीय निकाय मंत्री अनिल विज ने उन्हें सस्पेंड कर दिया था।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

शह-मात का खेल‌‍

शह-मात का खेल‌‍

इंतजार की लहरों पर सवारी

इंतजार की लहरों पर सवारी

पद के जरिये समाज सेवा का सुअवसर

पद के जरिये समाज सेवा का सुअवसर

झाझड़िया के जज्बे से सोने-चांदी की झंकार

झाझड़िया के जज्बे से सोने-चांदी की झंकार

बीत गये अब दिखावे के सम्मोहक दिन

बीत गये अब दिखावे के सम्मोहक दिन

जीवन पर्यंत किसान हितों के लिए संघर्ष

जीवन पर्यंत किसान हितों के लिए संघर्ष

रिश्तों की कुंडली का दशम ग्रह दामाद

रिश्तों की कुंडली का दशम ग्रह दामाद

मुख्य समाचार

30 साल पुराना फेक पुलिस एनकाउंटर : पंजाब पुलिस के रिटायर्ड सब-इंस्पेक्टर को 10 साल कैद

30 साल पुराना फेक पुलिस एनकाउंटर : पंजाब पुलिस के रिटायर्ड सब-इंस्पेक्टर को 10 साल कैद

मामले में दो लोगों के खिलाफ दोष हुए तय, एक आरोपी की हो चुकी ...