चंडीगढ़ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट समेत 80 लोग मिले संक्रमित

अस्पतालों से 100 मरीजों की छुट्टी, 9 बुजुर्गों की हालत स्थिर

चंडीगढ़ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट समेत 80 लोग मिले संक्रमित

चंडीगढ़/पंचकूला, 10 अगस्त (नस)

यूटी में सोमवार को ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट (प्रथम श्रेणी) समेत शहर के 80 नागरिक कोरोना संक्रमित पाए गए। शहर के तमाम इलाकों से मरीज अस्पतालों में टेस्टिंग के लिए पहुंचे। इनमें बुजुर्गों को सांस लेने में तकलीफ होने के कारण वेंटिलेटर पर रखा गया था। स्वास्थ्य विभाग द्वारा संक्रमितों के परिवारों में कोरोना के संदिग्ध मरीजों की टेस्टिंग जारी रही। जिला एवं सत्र न्यायाधीश की तरफ से पत्र भेज कर ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट पुनीता को जांच में संक्रमित पाए जाने के बाद उनका चार्ज न्यायाधीश मनदीप सिंह प्रथम श्रेणी को सौंपा गया है। अब शहर में कुल संक्रमित 1595 हैं और इनमें से 565 एक्टिव मामले हैं। सूत्रों ने बताया कि आज शहर के विभिन्न अस्पतालों से 100 रोगियों को डिस्चार्ज कर दिया गया।

मरीज बढ़े तो रैपिड टेस्ट शुरू

चंडीगढ़ प्रशासन ने संदिग्ध संक्रमितों के रैपिड एंटीजन टेस्ट शुरू करने का निर्णय लिया है। सोमवार को 24 पेशेंट की रैपिड एंटीजन टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई जबकि अन्य 56 पेशेंट के सैंपल पॉजिटिव आए।

बुजुर्गों के लिए खतरे की घंटी

स्वास्थ्य विभाग की मानें तो कोरोना महामारी का सबसे ज्यादा असर बुजुर्ग लोगों पर देखने को मिल रहा है। अस्पतालों में कई बुजुर्ग भर्ती हैं जिनकी विशेष तौर पर देखभाल की जा रही है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

अपने न बिछुड़ें, तीस साल में खोदी नहर

अपने न बिछुड़ें, तीस साल में खोदी नहर

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

सुशांत की ‘टेलेंट मैनेजर’ जया साहा एनसीबी-एसआईटी के सामने हुईं पेश

सुशांत की ‘टेलेंट मैनेजर’ जया साहा एनसीबी-एसआईटी के सामने हुईं पेश

किसानों की आशंकाओं का समाधान जरूरी

किसानों की आशंकाओं का समाधान जरूरी