ई-वाहनों के लिए रजिस्ट्रेशन फीस माफी का प्रस्ताव

ई-वाहनों के लिए रजिस्ट्रेशन फीस माफी का प्रस्ताव

चंडीगढ़ में मंगलवार को नेहरू अस्पताल एक्सटेंशन की पार्किंग में वाहनों के लिए बने चार्जिंग प्वाइंट दिखाता पीजीआई का एक इंजीनियर। -प्रदीप तिवारी

चंडीगढ़/पंचकूला, 27 जुलाई (नस)

चंडीगढ़ रिन्यूअल एनर्जी एंड साइंस एंड टेक्नोलॉजी प्रमोशन सोसाइटी (क्रेस्ट) ने ई-वाहनों के लिए पंजीकरण शुल्क माफ करने का प्रस्ताव रखा है। चंडीगढ़ में वर्ष-2023 तक ई-वाहनों को रोड टैक्स से छूट दी गई है। अक्तूबर तक शहर में कम से कम 40 इलेक्ट्रिक बसों के भी आने की उम्मीद है।

थ्री व्हीलर यूनियन का कहना है कि प्रदूषण मुक्त इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए यूटी प्रशासन ने ई-वाहनों के खरीदारों के लिए वित्तीय प्रोत्साहन का मसौदा तैयार किया है। यूनियन के संयोजक जसविंदर ने कहा कि प्रस्तावित खरीद प्रोत्साहन केंद्र सरकार द्वारा दी जाने वाली मांग प्रोत्साहन के अलावा है। उन्होंने कहा कि हम सभी ई-वाहन लेना चाहते हैं लेकिन अगर इन्सेंटिव जल्द से जल्द बढ़ाये जाएंगे तभी हमारी पहुंच में यह काम हो पाएगा। उन्होंने कहा कि भारी वाहनों के लिए चार्जिंग स्टेशन का रखरखाव यूटी परिवहन विभाग द्वारा किया जाएगा, लेकिन यदि जल्दी ही ई-वाहनों पर एक्स्ट्रा इन्सेंटिव न मिल पाया तो प्रशासन के प्लान अधूरे रह जाएंगे।

यहां बनाये चार्जिंग प्वाइंट

यूटी प्रशासन ई-वाहनों को बढ़ावा देने के लिए तैयार है। सुखना लेक, सेक्टर-8 मार्केट, सेक्टर-9, रामदरबार और मनीमाजरा समेत 7 प्वाइंट पर कई चार्जिंग स्टेशन बनाए गए हैं। शीघ्र ही चार्जिंग स्टेशनों को चलाने का ठेका देने के लिए टेंडर निकालने की उम्मीद भी है।

यह है योजना

प्रशासन की इस योजना में ई-रिक्शा, ई-कार्ट, ई-ऑटो कंडीशनिंग मॉडल जिसमें लीड एसिड बैटरी और स्वैपेबल मॉडल शामिल हैं। इलेक्ट्रिक थ्री व्हीलरों की खरीद के लिए मालिकों को 30 हजार रुपये की खरीद प्रोत्साहन का प्रस्ताव है। जसविंदर ने कहा कि प्रस्तावित योजना के अनुसार बैटरी क्षमता वाले पहले 1000 ई-चार पहिया वाहनों के खरीदारों के लिए 5000 रुपये की प्रोत्साहन राशि की पेशकश की जाएगी। बैटरी क्षमता वाले पहले 2000 इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों के खरीदार के लिए 5000 रुपये का प्रोत्साहन दिया जाता है।

 

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

शह-मात का खेल‌‍

शह-मात का खेल‌‍

इंतजार की लहरों पर सवारी

इंतजार की लहरों पर सवारी

पद के जरिये समाज सेवा का सुअवसर

पद के जरिये समाज सेवा का सुअवसर

झाझड़िया के जज्बे से सोने-चांदी की झंकार

झाझड़िया के जज्बे से सोने-चांदी की झंकार

बीत गये अब दिखावे के सम्मोहक दिन

बीत गये अब दिखावे के सम्मोहक दिन