बंगाल के चुनावी रण में पीएम की रैली

‘दीदी’ नहीं ‘बुआ’ ही बनीं ममता

‘दीदी’ नहीं ‘बुआ’ ही बनीं ममता

कोलकाता के ब्रिगेड परेड मैदान में रविवार को रैली के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती। - प्रेट्र

कोलकाता, 7 मार्च (एजेंसी)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि बंगाल ने वाम शासन के बाद परिवर्तन लाने के लिए ममता बनर्जी पर भरोसा जताया था, लेकिन उन्होंने राज्य के लोगों को ‘धोखा' दिया और उनका अपमान किया। प्रधानमंत्री ने रविवार को कोलकाता में एक रैली के दौरान पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता पर जमकर निशाना साधा और आरोप लगाया कि उन्होंने जनता की 'दीदी' बनने के बजाय अपने 'भतीजे' की 'बुआ' बनना ही पसंद किया। मोदी ने यह भी कहा कि अगर बंगाल में कमल खिल रहा है तो उसका कारण वही कीचड़ है, जो दीदी की पार्टी ने यहां फैलाया।

ब्रिगेड परेड मैदान में भाजपा की विशाल रैली में प्रधानमंत्री अपने उन विरोधियों पर भी बरसे, जो उन पर कुछ खास उद्योगपति मित्रों का पक्ष लेने का आरोप लगाते हैं। मोदी ने कहा, 'भारत के सभी 130 करोड़ लोग मेरे मित्र हैं, मैं उनके लिए कार्य करता हूं। मैंने बंगाल के मित्रों को 90 लाख गैस कनेक्शन प्रदान किए। मेरा चाय से विशेष लगाव है, बंगाल के चाय श्रमिक मेरे मित्र हैं, जिनके लिए मैंने सामाजिक सुरक्षा योजना लागू की है।'

मोदी ने तृणमूल कांग्रेस प्रमुख पर हमला करते हुए कहा, आपने बंगाल के लोगों के सपनों को चकनाचूर कर दिया। भाई-भतीजावाद को बढ़ावा दिया। उल्लेखनीय है कि भाजपा ममता बनर्जी पर आरोप लगाती रही है कि वह अपने भतीजे अभिषेक बनर्जी को मुख्यमंत्री बनाने के प्रयास में जुटी हैं।

पेट्रोल के दाम बढ़ने का विरोध जताते हुए ममता बनर्जी पिछले दिनों इलेक्ट्रिक स्कूटी पर सवार हुई थीं। इस पर तंज कसते हुए मोदी ने कहा, ‘शुक्र है आप गिरी नहीं, चोट नहीं लगी। लेकिन अब आपकी स्कूटी नंदीग्राम की तरफ मुड़ गयी है और वहीं गिरना तय कर लिया है, तो हम क्या करें।’

भाजपा में शामिल हुए मिथुन चक्रवर्ती

कोलकाता (एजेंसी) : अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती रविवार को यहां ब्रिगेड परेड मैदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली से पहले भाजपा में शामिल हो गये। मिथुन ने कहा, ‘मैं हमेशा जीवन में कुछ बड़ा करना चाहता था, लेकिन कभी भी इतनी बड़ी रैली का हिस्सा बनने का सपना नहीं देखा था, जिसे दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता नरेंद्र मोदी द्वारा संबोधित किया जाना है। मैं हमारे समाज के गरीब वर्गों के लिए काम करना चाहता था और वह इच्छा अब पूरी होगी।' मिथुन ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस में शामिल होना उनकी गलती थी। तृणमूल कांग्रेस से राज्यसभा सदस्य रहे मिथुन ने सारदा पोंजी घोटाले में नाम आने के बाद 2016 में उच्च सदन की सदस्यता छोड़ दी थी।

अब 'असोल परिबोर्तन'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अब 'असोल परिबोर्तन' (असली परिवर्तन) होगा। ऐसा बंगाल जहां हर क्षेत्र, हर वर्ग का विकास होगा। जहां युवाओं को नौकरी, बेहतर शिक्षा मिलेगी, निवेश आएगा और लोगों को काम के लिए दूसरे राज्यों में नहीं जाना पड़ेगा। तृणमूल कांग्रेस के चुनावी अभियान 'खेला होबे' पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा- तृणमूल के लिए खेला खत्म अौर विकास शुरू।

वाम दलों पर भी निशाना

वामपंथी पार्टियों और कांग्रेस के साथ आने पर मोदी ने कहा, 'उन्होंने (वाम दलों) नारा दिया था- 'कांग्रेसेर कालो हाथ, भेंगे दाओ, गुड़िये दाओ' (कांग्रेस के काले हाथ तोड़ दो)। ऐसे ही नारों के दम पर वामपंथी सत्ता में आये। जिस हाथ को वामपंथी तब काला समझते थे, वो आज सफेद कैसे हो गया? जिस हाथ को तोड़ने की बात करते थे, आज उसी का आशीर्वाद लेकर चल रहे हैं।'

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

राजनेताओं की जवाबदेही का सवाल

राजनेताओं की जवाबदेही का सवाल

तेल से अर्जित रकम का कीजिए सदुपयोग

तेल से अर्जित रकम का कीजिए सदुपयोग

ताऊ और तीसरी धारा की राजनीति

ताऊ और तीसरी धारा की राजनीति

अभिमान से मुक्त होना ही सच्चा ज्ञान

अभिमान से मुक्त होना ही सच्चा ज्ञान

फलक पर स्थापित ‘थलाइवा’ को फाल्के

फलक पर स्थापित ‘थलाइवा’ को फाल्के

नंदीग्राम रणभूमि के नये सारथी शुभेंदु

नंदीग्राम रणभूमि के नये सारथी शुभेंदु

राजनीति से अहद-ए-वफा चाहते हो!

राजनीति से अहद-ए-वफा चाहते हो!

मुख्य समाचार

छह महीने बाद एक दिन में सबसे ज्यादा मौतें

छह महीने बाद एक दिन में सबसे ज्यादा मौतें

उपचाराधीन लोगों की संख्या फिर 10 लाख से अधिक

हिंसा में 5 की मौत के बाद सियासी तूफान

हिंसा में 5 की मौत के बाद सियासी तूफान

केंद्रीय बलों पर गोलीबारी का आरोप, बंगाल में 76 प्रतिशत मतदा...

शहर

View All