कोरोना से जंग

14 जिलों में नये मरीजों के मुकाबले ठीक हुए ज्यादा

14 जिलों में नये मरीजों के मुकाबले ठीक हुए ज्यादा

गुरुग्राम में शुक्रवार को डीएलएफ मॉल के बाहर कार में बैठे एक बुजुर्ग को कोरोना वैक्सीन का टीका लगाती हेल्थ वर्कर। -एजेंसी

चंडीगढ़, 14 मई (ट्रिन्यू)

हरियाणा में कोरोना की रफ्तार अब कम होनी शुरू हो गई है। पिछले सप्ताहभर से पॉजिटिव मरीजों की संख्या कम होती जा रही है। 24 घंटों में करीब 17 हजार तक मरीजों की संख्या पहुंच गई थी, लेकिन अब यह आंकड़ा गिरावट पर है। शुक्रवार को राज्य में कोविड-19 के 10608 नये पॉजिटिव केस सामने आए हैं। वहीं इस अवधि में 164 और लोगों की जान गई है।

प्रदेश में महामारी से मरने वालों की संख्या 6500 के करीब हो गई है। फिलहाल राज्य में कोरोना के 99 हजार के लगभग एक्टिव केस हैं। रोहतक में 16, गुरुग्राम में 15, जींद में 12, हिसार, पानीपत व भिवानी में 11-11, अम्बाला में 10, यमुनानगर व करनाल में 9-9, फरीदाबाद व रेवाड़ी में 8-8, कैथल में 7, महेंद्रगढ़, सिरसा व सोनीपत में 6-6, कुरुक्षेत्र में 5, चरखी दादरी में 4, नूंह व फतेहाबाद में 3-3, पलवल व पंचकूला में 2-2 और मरीजों की मौत महामारी की वजह से हुई है।

इधर, सरकार को कोरोना वैक्सीन की पूरी सप्लाई नहीं मिलने की वजह से राज्य में टीकाकरण मुहिम धीमी पड़ गई है। बेशक, अभी तक 48 लाख 6 हजार 901 लोगों को कोरोना वैक्सीन के इंजेक्शन लग चुके हैं, लेकिन अभी बड़ी संख्या में प्रदेश में टीकाकरण बाकी है। इनमें भी अधिक संख्या उन लोगों की है, जिन्हें वैक्सीन की पहली डोज दी गई है। इसी वजह से केंद्र सरकार ने भी दूसरी डोज वालों को प्राथमिकता देने के निर्देश दिए हैं।

शुक्रवार को केवल 50, 716 लोगों को ही कोरोना वैक्सीन दी गई। इनमें 29,475 को पहली और 21 हजार 231 लोगों को दूसरी डोज के इंजेक्शन लगे। शुक्रवार को 64 हजार 912 और लोगों के कोविड-19 टेस्ट लिए गए। अभी तक 81 लाख 82,327 लोगों के टेस्ट लिए जा चुके हैं। प्रदेश में 1498 पॉजिटिव मरीजों की स्थिति क्रिटिकल बनी हुई है।

गुरुग्राम 200 डोज के ड्राइव थ्रू कैंप में 3 किलोमीटर तक लगी गाड़ियों की लाइन

गुरुग्राम, 14 मई (हप्र)

स्वास्थ्य विभाग का ड्राइव थ्रू वैक्सीनेशन कैंप बंपर सफल रहा। बड़ी संख्या में लोग अपनी गाड़ियों में सवार होकर वैक्सीन लगवाने निकले। इसके चलते गोल्फ कोर्स रोड पर करीब तीन किलोमीटर लंबी लाइन लग गई। कुछ ही घंटों में 200 डोज की क्षमता वाला यह कैंप समाप्त करना हो गया। स्वास्थ्य अधिकारियों ने लोगों को कार में बैठे-बैठे ही इंजेक्शन लगाने के लिए ड्राइव थ्रू वैक्सीनेशन कैंप का आयोजन किया। सिटी सेंटर में आयोजित इस कैंप में वैक्सीन लगवाने के लिए एक हजार से ज्यादा लोग पहुंच गए। स्वास्थ्य विभाग की योजना थी कि इस कैंप में सिर्फ 200 लोगों को ही वैक्सीन दी जाएगी। लोगों के उत्साह के कारण विभाग का यह लक्ष्य चंद घंटों में ही पूरा हो गया। कैंप तय समय से पहले ही बंद करना पड़ा। हालांकि इस दौरान उन लोगों को मायूसी ही हाथ लगी जिन्होंने वैक्सीनेशन की लाइन में पीछे लगकर घंटों इंतजार किया। स्वास्थ्य अधिकारियों की योजना है कि इस तरह के शिविर अब और भी शाॅपिंग माॅल्स में लगाए जाएं। ­

हरियाणा के सभी गांवों में बनेंगे कोविड केयर सेंटर

चंडीगढ़, 14 मई (ट्रिन्यू)

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि प्रदेश के गांवों में लगातार फैल रहे कोरोना के मद्देनजर राज्य के सभी गांवों में कोरोना केयर सेंटरों का निर्माण किया जाएगा। इस दिशा में संबंधित विभागों को निर्देश जारी किए जा चुके हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने विभाग के अधिकारियों ने कोरोना संक्रमण पर फीडबैक लेने के बाद बताया कि अभी तक गांवों में स्थिति नियंत्रण में है, लेकिन आने वाले दिनों में ग्रामीण क्षेत्र के रोगियों की संख्या में इजाफा हो सकता है। इसकी तैयारी अभी से की जा रही है।

विज ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद प्रत्येक जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में 50-50 कोरोना केयर सेंटरों का निर्माण कार्य अंतिम चरण में है। अब इनका विस्तार करते हुए अन्य गांवों को भी कवर किया जाएगा। पांच-पांच लोगों की टीम बनाई है जो घर-घर जाकर लोगों की जांच करेगी। अगर किसी मे कोरोना के लक्षण पाए जाते हैं तो उसका बकायदा टेस्ट किया जाएगा।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

पाक सेना के तीर से अधीर हामिद मीर

पाक सेना के तीर से अधीर हामिद मीर

नीति-निर्धारण के केंद्र में लाएं गांव

नीति-निर्धारण के केंद्र में लाएं गांव

असहमति लोकतांत्रिक व्यवस्था का हिस्सा

असहमति लोकतांत्रिक व्यवस्था का हिस्सा

बदलोगे नज़रिया तो बदल जाएगा नज़ारा

बदलोगे नज़रिया तो बदल जाएगा नज़ारा

हरियाणा के सामाजिक पुनर्जागरण के अग्रदूत

हरियाणा के सामाजिक पुनर्जागरण के अग्रदूत

मुख्य समाचार

सुप्रीमकोर्ट ने सीबीएसई और आईसीएसई की 12वीं का रिजल्ट तैयार करने के फार्मूले पर लगायी मुहर

सुप्रीमकोर्ट ने सीबीएसई और आईसीएसई की 12वीं का रिजल्ट तैयार करने के फार्मूले पर लगायी मुहर

कहा-यदि विद्यार्थी परीक्षा देने के इच्छुक हैं तो दे सकते हैं