कालका चेयरमैन की कुर्सी की जंग भाजपा ने जीती

कालका चेयरमैन की कुर्सी की जंग भाजपा ने जीती

कालका नगर परिषद चुनाव में विजयी घोषित भाजपा प्रत्याशी कृष्ण लांबा के साथ पूर्व विधायक लतिका शर्मा, जिला प्रभारी संजय शर्मा । -हप्र

पंचकूला, 22 जून (हप्र)

नगर परिषद चुनाव में भाजपा का जादू कालका -पिंजौर के लोगों के सिर चढ़ कर बोला। यहां भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार कृष्ण लांबा ने आजाद उम्मीदवार पवन कुमारी को 6481 वोटों के अंतर से हरा कर अध्यक्ष की कुर्सी पर कब्जा जमाया। प्रधान पद के लिए आठ उम्मीदवार चुनाव मैदान में डटे थे। चुनाव में विधायक प्रदीप चौधरी समर्थित पवन कुमारी शर्मा दूसरे नंबर पर रहीं तो भूपेंद्र सिंह हुड्डा ग्रुप के नवदीप शर्मा तीसरे नंबर पर रहे। चंद्रमोहन समर्थित विजय बंसल को पांचवें नंबर पर रहे। चौथे नंबर पर आम आदमी पार्टी के घनश्याम टगरा रहे। दूसरे नंबर पर रहीं पवन कुमारी को 14348, तीसरे नंबर पर रहे नवदीप शर्मा 5776, घनश्याम टगरा (आप)- 7895 और विजय बंसल को 4853 वोट मिले।

वार्ड नंबर-1 बनिंदर कौर निर्दलीय, वार्ड नंबर-2 सं पुष्पिंदर कुमार, वार्ड नंबर-3 मंजू लता, वार्ड नंबर-4 विनोद सवारनी, वार्ड 5 से नरेंद्र सिंह, वार्ड-6 महेश शर्मा टिंकू, वार्ड-7 संजीव कौशल, वार्ड-8 मयंक लांबा, वार्ड-9 दर्शन सिंह, वार्ड -10 निर्मला देवी, वार्ड नंबर-11 सौरभ गुप्ता सन्नी, वार्ड -12 अश्वनी कुमार चुन्ना, वार्ड 13, गुरमुख सिंह काकू, वार्ड-14 शबनम, वार्ड-15 सीमा, वार्ड-16 सुदर्शन कंसल, वार्ड-17 रेखा देवी, वार्ड-18 सीमा देवी, वार्ड -19 मनिंदर कौर, वार्ड-20 गुलशन ठाकुर, वार्ड-21 गीता देवी, वार्ड -22 कुलविंदर कौर, वार्ड-23 पवन कुमार, वार्ड -24 सुनील कुमार, वार्ड-25 रवि चौधरी, वार्ड-26 कपिल घई, वार्ड-27 कपिल गौड़, वार्ड -28 कृष्ण लाल, वार्ड -29 नेहा, वार्ड -30 शालू, वार्ड -31 उजाला बक्शी ने जीत दर्ज की।

कालका नगर परिषद में जीत का परचम फहराने के बाद भाजपाई ढोल की थाप पर थिरके। प्रदेश भाजपा प्रवक्ता और बाल कल्याण परिषद की मानद महासचिव रंजीता मेहता, जिला भाजपा अध्यक्ष अजय शर्मा, मीडिया प्रभारी नवीन गर्ग ने कहा कि यह मुख्यमंंत्री मनोहर लाल की नीतियों की जीत है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

योगमय संयोग भगाए सब रोग

योगमय संयोग भगाए सब रोग

जीवन के लिए साझे भविष्य का सपना

जीवन के लिए साझे भविष्य का सपना

यमुनानगर तीन दर्जन श्मशान घाट, गैस संचालित मात्र एक

यमुनानगर तीन दर्जन श्मशान घाट, गैस संचालित मात्र एक