रोहतक दिल्ली रोड पर उमड़ा ट्रैक्टरों का सैलाब

रोहतक दिल्ली रोड पर उमड़ा ट्रैक्टरों का सैलाब

रोहतक में रोहद टोल पर धरने के दौरान नाचती महिलाएं एवं बच्चे। -हप्र

रोहतक, 24 जनवरी (हप्र)

पंजाब व हरियाणा से दिल्ली जाने के लिए रविवार को हजारों की संख्या में ट्रैक्टरों का तांता लगा रहा। ऐसा लग रहा था मानो गांवों के गांवों को दिल्ली रैली का चूल्हा न्यौत मिला हुआ है। दिल्ली रोड पर एक घंटे के अंतराल में 600 से ज्यादा ट्रैक्टर निकल रहे थे। सजी-धजी ट्रैक्टर-ट्रालियों में पारंपरिक वेश में महिलाओं की भागेदारी भी बराबर की दिखी। रोहतक दिल्ली मार्ग पर दोपहर बाद तो सिर्फ ट्रैक्टर ही ट्रैक्टर दिखाई दिए। रोहद टोल से लेकर महम तक रोहतक जिले की सीमा में दिन भर हाईवे पर जाम के हालत बने रहे। 80 वर्षीय बुजुर्ग श्यामलाल, प्रीत सिंह ने बताया कि उन्होंने ऐसा माहौल अपनी जिंदगी में पहले कभी नहीं देखा था। उधर, प्रशासन ने किसानों के साथ तीसरी बार बैठक की। कैनाल रेस्ट हाउस में हुई इस बैठक में प्रशासन का कहना था कि 26 जनवरी का पर्व राष्ट्रीय पर्व है। इस पर्व पर किसी प्रकार की किसानों की ओर से कोई ठेस नहीं पहुंचनी चाहिए। किसानों ने आश्वासन दिया कि उनकी तरफ से राष्ट्रीय पर्व पर कोई आंच नहीं आएगी अगर कोई उपद्रव जनता की ओर से होता है तो प्रशासन इसकी जिम्मेदारी खुद उठाएं। वहीं, सर्व खाप पंचायत ने किसानों से अनुरोध किया है कि वे गणतंत्र दिवस पर शांति, अनुशासन का परिचय दें। राष्ट्रीय पर्व के कार्यक्रमों में दखलअंदाजी न करें। सर्व खाप पंचायत की बैठक में यह बात कही। बैठक की अध्यक्षता डॉ़ सुरेश नांदल ने की।

रोहतक (निस) : महम के विधायक बलराज कुंडू ने कहा कि सरकार को अपने पूंजीपति मित्रों की बजाय देश के किसान, मजदूर एवं आम आदमी की फिक्र करनी चाहिए। तीनों कानूनों को रद्द कर एमएसपी की गारंटी का कानून लाना चाहिए। गांव भगवतीपुर में बलराज कुंडू ने ट्रैक्टरों के काफिले को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। 

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

रसायन मुक्त खिलौनों का उम्मीद भरा बाजार

रसायन मुक्त खिलौनों का उम्मीद भरा बाजार

जन सरोकारों की अनदेखी कब तक

जन सरोकारों की अनदेखी कब तक

एमएसपी से तिलहन में आत्मनिर्भरता

एमएसपी से तिलहन में आत्मनिर्भरता

अभिवादन से खुशियों की सौगात

अभिवादन से खुशियों की सौगात