तीसरी लहर से निपटने के लिए पीजीआई ने कसी कमर

तीसरी लहर से निपटने के लिए पीजीआई ने कसी कमर

रोहतक, 14 सितंबर (निस)

पंडित भगवत दयाल शर्मा स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय की कुलपति डॉ जी़ अनुपमा ने मंगलवार को स्वर्ण जयंती सभागार में कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की तैयारियों को लेकर सभी विभागाध्यक्षों की एक मीटिंग ली।

कुलपति डॉक्टर जी अनुपमा ने कहा कि अपने जूनियर चिकित्सकों को सिखाएं कि अस्पताल में सभी मरीज अपनी बीमारी से परेशान होकर आते हैं, ऐसे में हमें उनके साथ बहुत ही विनम्र स्वभाव के साथ पेश आना चाहिए। डॉक्टर जी अनुपमा ने आदेश दिए कि संस्थान में जगह-जगह कोरोना की जागरूकता को लेकर नारे लिखवाये जाये।  संस्थान में अधिकतर स्थानों पर सेनेटाइजर रखवाया जाए ताकि लोग बीमारी से अपना बचाव कर सकें। उन्होंने कहा कि कोविड को लेकर सभी स्टाफ नर्सों, सिक्योरिटी गार्ड ,चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को ट्रेनिंग प्रदान करने के लिए डॉक्टर सुनीता सिंह को नोडल अफसर बनाया गया है। उन्होंने अतिरिक्त निदेशक विजय मलिक को विशेष जिम्मेदारी देते हुए पूरे अस्पताल का दौरा करने को कहा तथा वहां पाए जाने वाली सभी कमियों को दूर करवाने के निर्देश दिए। मरीजों को किसी प्रकार की परेशानी का सामना ना करना पड़े इसके लिए नोडल अफसर की भी नियुक्ति की जाए। उन्होंने कहा कि आईसीयू में भर्ती मरीजों की उनके परिजनों से बात करवाने के लिए आईसीयू के बाहर मोबाइल नंबर लिखवाए जाएं जिस पर परिजन अपने मरीज से आसानी से वीडियो कॉल के माध्यम से संपर्क कर सकें। इस अवसर पर निदेशक डॉ रोहतास यादव, चिकित्सा अधीक्षक डॉ पुष्पा दहिया, डीन एकेडमिक अफेयर डॉक्टर लोहचब, प्राचार्य डॉ संजय तिवारी सहित सभी विभागाध्यक्ष उपस्थित रहे।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

शह-मात का खेल‌‍

शह-मात का खेल‌‍

इंतजार की लहरों पर सवारी

इंतजार की लहरों पर सवारी

पद के जरिये समाज सेवा का सुअवसर

पद के जरिये समाज सेवा का सुअवसर

झाझड़िया के जज्बे से सोने-चांदी की झंकार

झाझड़िया के जज्बे से सोने-चांदी की झंकार

बीत गये अब दिखावे के सम्मोहक दिन

बीत गये अब दिखावे के सम्मोहक दिन

जीवन पर्यंत किसान हितों के लिए संघर्ष

जीवन पर्यंत किसान हितों के लिए संघर्ष

रिश्तों की कुंडली का दशम ग्रह दामाद

रिश्तों की कुंडली का दशम ग्रह दामाद

मुख्य समाचार

30 साल पुराना फेक पुलिस एनकाउंटर : पंजाब पुलिस के रिटायर्ड सब-इंस्पेक्टर को 10 साल कैद

30 साल पुराना फेक पुलिस एनकाउंटर : पंजाब पुलिस के रिटायर्ड सब-इंस्पेक्टर को 10 साल कैद

मामले में दो लोगों के खिलाफ दोष हुए तय, एक आरोपी की हो चुकी ...