पूर्व मंत्री ने राखी पर चलाये 10 गुलाबी ऑटोरिक्शा

पूर्व मंत्री ने राखी पर चलाये 10 गुलाबी ऑटोरिक्शा

रोहतक में रविवार को रक्षाबंधन के त्यौहार पर वरिष्ठ भाजपा नेता एवं पूर्व मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर को राखी बांधती एक गुलाबी आटो रिक्षा चालक। -हप्र

रोहतक, 2 अगस्त (हप्र)

वरिष्ठ भाजपा नेता एवं पूर्व मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर ने अपने निवास स्थान से रक्षाबंधन पर्व पर 10 गुलाबी ऑटोरिक्शा रवाना किये। इस अवसर पर गुलाबी आटो चालक महिलाओं ने उन्हें राखी बांधी और आशीर्वाद दिया। पूर्व सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर ने बताया कि उन्होंने राखी के पावन पर्व को देखते हुए दो दिन के लिए यह ऑटोरिक्शा चलाए हैं ताकि भाई-बहन यह पवित्र त्योहार मना सकें।

उन्होंने बताया कि ऑटो में बैठने वाली किसी भी बहन और भाई से कोई किराया नहीं लिया जाएगा। पूर्व मंत्री ग्रोवर, आर्य नगर डीएलएफ कॉलोनी, गोहाना अड्डा, प्रेम नगर, सेक्टर-4 एक्सटेंशन समेत कई जगह पहुंचे और बहनों से राखी बंधवाई। पूर्व मंत्री ने उन्हें शगुन और पौधे वितरित किए। पूर्व मंत्री ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने रक्षाबंधन पर्व पर बहनों को पौधे देने का निर्णय लिया है।

राखी, मिठाई की दुकानों पर चहल-पहल

नूंह/मेवात (निस) : भाई-बहन के पवित्र रिश्ते का पर्व रक्षाबंधन की पूर्व संध्या पर जिला के बाजारों में रविवार का अवकाश होने के बावजूद भी राखी, मिठाई आदि की दुकानों पर चहल-पहल देखी गई। इस दौरान ग्राहक चीनी राखियों की स्टॉल पर रखी राखियों के बजयए रक्षा का प्रतीक धागे की खरीददारी में अधिक दिलचस्पी दिखा रहे थे और मुस्लिम बहुल जिला में अधिकांश खरीददार इसका समर्थन कर रहे थे। राष्ट्रपति, उप राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, सूबे के मुख्यमंत्री,भारतीय की तीनों सेना के सेनाध्यक्षों व फौजी भाईयों के अलावा जिला उपायुक्त व पुलिस अधीक्षक के लिए बहनों व विभिन्न गैर सरकारी स्वयंसेवी संस्थाओं से जुड़ी महिलाओं ने डाक के जरिए राखियां भेजी हैं।

कोरोना के चलते रक्षाबंधन फीका

चरखी दादरी (निस) : भाई-बहन का पवित्र त्योहार रक्षाबंधन कोरोना महामारी के चलते फीका पड़ा दिखाई दिया। कोरोना महामारी भय के चलते बाजारों में रौनक नहीं दिखाई दी। पहले की अपेक्षा अबकी बार नहीं सजी राखियों की दुकानें। हालांकि प्रशासन द्वारा कोरोना महामारी के चलते रक्षाबंधन के त्योहार को देखते हुए दुकानदारों को दुकानें खोलने की इजाजत दी गई है, फिर भी शहर में वो रौनक नजर नहीं आई, जो कोरोना से पहले मनाय गए रक्षाबंधन के त्योहारों पर नजर आई थी। मिठाई के दुकानदारों पर भी कोरोना महामारी की मार पड़ती दिखाई दी।

‘न भैया चाहिए महंगा कोई उपहार राखी का...’

हिसार (हप्र) : हिसार की जानी मानी साहित्यिक संस्था चंदन साहित्य मंच की महिला प्रकोष्ठ द्वारा रक्षा बंधन के पावन पर्व की पूर्व संध्या पर ऑनलाइन महिला काव्य गोष्ठी का आयोजन किया गया। काव्य गोष्ठी में हिसार की कवयित्रियों के अतिरिक्त राष्ट्रीय स्तर की अनेक कवयित्रियों ने जीवन के विभिन्न पहलुओं को अपनी रचनाओं में समाहित करते हुए अपने रंग बिखेरे। काव्य गोष्ठी की अध्यक्षता गुरुग्राम से वरिष्ठ कवयित्री वीणा अग्रवाल ने की। मुख्य अतिथि के रूप में पटियाला से गजल द्वारा मधु मधुमन ने शिरकत की। मधु मधुमन राष्ट्रीय महिला काव्य मंच की राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। मंच संचालन मंच की उपाध्यक्ष ऋतु कौशिक ने इन खूबसूरत शब्दों से किया ‘हो प्रफुल्लित प्रेम से जीवन सभी का, हो सुगंधित पुष्प से आंगन सभी का।’ गोष्ठी का शुभारंभ पूनम मनचंदा ने मधुर स्वरों में मांं सरस्वती का वंदन करके किया। संस्था के संस्थापक महेंद्र जैन ने सभी कवयित्रियों का स्वागत अभिनंदन किया। गोष्ठी में चरखी दादरी से डॉ. अनिता भारद्वाज ने अपनी रचना प्रस्तुत की। चरखी दादरी से ही पुष्पलता आर्य ने मनमोहक स्वर में रक्षा बंधन पर सुंदर पंक्तियां ‘न भैया चाहिए मंहगा कोई उपहार राखी का, बनाना है नहीं मुझको कोई व्यापार राखी का’ सुनाई।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

छोटा सा पौधा थोड़ा सा पानी

छोटा सा पौधा थोड़ा सा पानी

आईपीएल आज से

आईपीएल आज से

टूटने लगा है बच्चों का सुरक्षा कवच

टूटने लगा है बच्चों का सुरक्षा कवच

उगते सूरज के देश में उगा सुगा

उगते सूरज के देश में उगा सुगा

शहर

View All