डेंगू एवं वायरल ने बढ़ाई चिंता

डेंगू एवं वायरल ने बढ़ाई चिंता

रोहतक, 27 सितंबर (निस)

कोरोना से तो जिले में राहत मिली है, लेकिन डेंगू व वायरल इन्फेक्शन के केसों ने स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ा दी है। स्वास्थ्य विभाग का आंकड़ा बता रहा है कि इस वक्त बच्चे सबसे अधिक वायरल इन्फेक्शन की चपेट में आ रहे हैं, जबकि डेंगू के कई मामले भी सामने आए हैं। निजी अस्पतालों में भी काफी डेंगू के मरीजों का इलाज चल रहा है। बताया जा रहा है कि इन दिनों पीजीआई व निजी अस्पतालों में सामान्य दिनों से दो से तीन गुणा ओपीडी बढ़ी हैै। डाक्टरों का मानना है कि अक्तूबर माह के मध्य में डेंगू का प्रकोप बढ़ सकता है। मेडिसन के डाक्टर हरीश कुमार का कहना है कि मॉनसून सीजन अभी जारी है, इसलिए सावधानियां जरूरी हैं।

पीजीआई प्रबंधन अतिरिक्त व्यवस्था करने में जुटा है। बताया जा रहा है कि अलग से वार्ड भी बनाया जाएगा। पिछले कुछ दिनों से नवजात से लेकर 17 साल के बच्चे सांस लेने में दिक्कत, तेज बुखार, टायफायड, डायरिया से ग्रस्त हो रहे हैं। पीजीआई, सिविल अस्पताल में इस सीजन में वायरल इन्फेक्शन के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं। बच्चों के भर्ती के बेड तक फुल हो चुके हैं, जिसके चलते अतिरिक्त बेडों की व्यवस्था की गई है। इंफेक्शन ग्रस्त बच्चों की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव पाई गई लेकिन वायरल इंफेक्शन चलते बुखार पांच से सात दिन ले रहा है, जबकि 3 दिन में उतर जाना चाहिए।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

अलोपी देवी, ललिता देवी, कल्याणी देवी

अलोपी देवी, ललिता देवी, कल्याणी देवी

निष्ठा और समर्पण का धार्मिक सामंजस्य

निष्ठा और समर्पण का धार्मिक सामंजस्य

‘राइट टू रिकॉल’ की प्रासंगिकता का प्रश्न

‘राइट टू रिकॉल’ की प्रासंगिकता का प्रश्न

मुख्य समाचार