ऑस्ट्रेलिया में महिला की हत्या के आरोप में पंजाब का राजविंदर सिंह दिल्ली से गिरफ्तार, क्वींसलैंड पुलिस ने रखा था 5.3 करोड़ का इनाम! : The Dainik Tribune

ऑस्ट्रेलिया में महिला की हत्या के आरोप में पंजाब का राजविंदर सिंह दिल्ली से गिरफ्तार, क्वींसलैंड पुलिस ने रखा था 5.3 करोड़ का इनाम!

आरोपी राजविंदर सिंह को 5 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

ऑस्ट्रेलिया में महिला की हत्या के आरोप में पंजाब का राजविंदर सिंह दिल्ली से गिरफ्तार, क्वींसलैंड पुलिस ने रखा था 5.3 करोड़ का इनाम!

फाइल फोटो

कुलविंदर संधू

ट्रिब्यून न्यूज़ सर्विस

मोगा, 25 नवंबर

ऑस्ट्रेलियाई पुलिस ने शुक्रवार को ट्वीट किया है कि वर्ष 2018 में क्वींसलैंड के एक समुद्र तट पर 24 वर्षीय टोयाह कोर्डिंग्ले की हत्या के आरोपी एक पंजाबी व्यक्ति को दिल्ली में गिरफ्तार कर लिया गया है। क्वींसलैंड पुलिस ने कहा है कि राजविंदर सिंह को जल्द ही प्रत्यर्पण अदालत में सुनवाई के बाद वापस लाने का प्रयास किया जायेगा। उसे शुक्रवार को आज दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल द्वारा पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया गया। अदालत ने उसे 5 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। राजविंदर सिंह (38) मूल रूप से भारत के पंजाब में बुट्टर कलां का रहने वाला है।

ऑस्ट्रेलियाई पुलिस ने 3 नवंबर को इनफिसिल में नर्स के रूप में काम करने वाले संदिग्ध राजविंदर सिंह (38) की जानकारी देने वाले को रिकॉर्ड 1 मिलियन डॉलर (5.31 करोड़ रुपये) का इनाम देने की घोषणा की थी। आरोप है कि वह टोयाह कोर्डिंगली की हत्या करने के बाद वह भारत भाग गया। पुलिस ने उसकी तस्वीरें तब जारी की थीं, जब वह 23 अक्तूबर, 2018 को अपनी पत्नी और तीन बच्चों को छोड़कर भारत जाने के लिए उड़ान भर रहा था। उनके भाई ने पहले स्वीकार किया था कि राजविंदर अमृतसर हवाई अड्डे पर उतरा था और काम से संबंधित मुद्दों पर मानसिक परेशानी में थे। उसके बाद से उसके बारे में बहुत कम जानकारी थी।

वह दो दशक पहले अपने परिवार के साथ क्वींसलैंड चले गए थे। पुलिस को आशंका है कि उसने पासपोर्ट और वीजा प्राप्त करने के लिए कथित तौर पर फर्जी पते का इस्तेमाल किया हो।

राजविंदर शादीशुदा है और उसके तीन बच्चे हैं, सभी इनफिसिल शहर में रहते थे। उसके पिता अमर सिंह और साला हरप्रीत सिंह भी वहीं रहते हैं। पूरा परिवार ऑस्ट्रेलिया चला गया है। इनफिसिल में रहने वाले राजविंदर सिंह के परिवार के सदस्यों ने बताया कि वह 21 अक्तूबर, 2018 (टोयाह की हत्या की तारीख) को शहर छोड़कर चला गया था। अमृतसर जाने के लिए उड़ान भरने से पहले अगले कई घंटे उसने अपनी बहन के साथ वहाँ बिताए।

वह अपने पीछे अपनी पत्नी, बच्चों (जिनमें से एक नवजात शिशु था) और ऑस्ट्रेलिया से भागते समय परिवार के अन्य सदस्यों को वहीं छोड़ गया। उन्होंने कथित तौर पर पिछले चार वर्षों में उनसे संपर्क नहीं किया। साथ ही उन्होंने अपने किसी भी डेबिट या क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल नहीं किया। इस केस में राजविंदर सिंह अकेला संदिग्ध नहीं है। क्वींसलैंड पुलिस कई व्यक्तियों की जांच कर रही है।

‘एएनआई’ के अनुसार दिल्ली की पटियाला कोर्ट ने राजविंदर सिंह को शुक्रवार को दिल्ली पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद 30 नवंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया। आरोपी राजविंदर सिंह को सीबीआई, इंटरपोल और स्पेशल सेल की खुफिया जानकारी के संयुक्त अभियान के बाद गिरफ्तार कर लिया गया। सीबीआई/इंटरपोल और ऑस्ट्रेलियाई समकक्षों द्वारा साझा किए गए इनपुट के आधार पर एक खुफिया ऑपरेशन में अभियुक्त को जीटी करनाल रोड के पास से गिरफ्तार किया गया।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

साल के आखिर में नौकरी के नये मौके

साल के आखिर में नौकरी के नये मौके

समझ-सहयोग से संभालें रिश्ते

समझ-सहयोग से संभालें रिश्ते

धुंधलाए अतीत की जीवंत झांकी

धुंधलाए अतीत की जीवंत झांकी

प्रेरक हों अनुशासन और पुरस्कार

प्रेरक हों अनुशासन और पुरस्कार

सर्दी में गरमा-गरम डिश का आनंद

सर्दी में गरमा-गरम डिश का आनंद

यूं छुपाए न छुपें जुर्म के निशां

यूं छुपाए न छुपें जुर्म के निशां

मुख्य समाचार

हनोई में एक बौद्ध वृक्ष, जड़ें जुड़ी हैं भारत से!

हनोई में एक बौद्ध वृक्ष, जड़ें जुड़ी हैं भारत से!

डॉ. राजेन्द्र प्रसाद की बिसारी मधुर स्मृति को ताजा किया दैनि...

फौलादी जज्बे से तोड़ दी मुसीबतों की बेड़ियां...

फौलादी जज्बे से तोड़ दी मुसीबतों की बेड़ियां...

अनहोनी को होनी कर दे...

शहर

View All