कृषि अध्यादेश का विरोध : बादल गांव में विरोध प्रदर्शन के दौरान मानसा के किसान ने निगला ज़हर, अस्पताल में दाखिल!

कृषि अध्यादेश का विरोध : बादल गांव में विरोध प्रदर्शन के दौरान मानसा के किसान ने निगला ज़हर, अस्पताल में दाखिल!

प्रतीकात्मक चित्र

ट्रिब्यून न्यूज़ सर्विस

मुक्तसर, 18 सितंबर

मानसा जिले के एक 55 वर्षीय किसान प्रीतम सिंह ने शुक्रवार सुबह बादल गांव में कृषि अध्यादेशों के खिलाफ विरोध दर्ज कराते हुए कथित रूप से जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या का प्रयास किया। उसे बादल गांव के सिविल अस्पताल में ले जाया गया है। वहीं बीकेयू (एकता उग्राहां) मुक्तसर जिले के महासचिव गुरभगत सिंह भलियाना ने बताया कि आत्महत्या के प्रयास का असल कारण अभी पता नहीं चल पाया है। उन्होंने कहा कि हम जाँच कर रहे हैं कि कहीं वह कर्ज के कारण अवसाद से गुज़र रहा था या संसद में कृषि अध्यादेश पारित होने के बाद वह उसने यह कदम उठाया। उन्होंने कहा कि हम उसके परिवार से भी संपर्क कर रहे हैं। सूत्रों ने कहा कि वह कल रात प्रदर्शनकारियों में शामिल होने आया था। उल्लेखनीय है कि किसान 15 सितंबर से ‘बादलों’ के निवास पर करीब 6 दिवसीय विरोध दर्ज कर रहे हैं। गांव में बड़ी संख्या में पुलिस तैनात की गई है और बादल के आवास के लिए जाने वाली सड़क पर बैरिकेड लगाये हुए हैं।

 

 

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

भाषा की कसौटी पर न हो संवेदना की परख

भाषा की कसौटी पर न हो संवेदना की परख

दीवारें भी लगें हैप्पी

दीवारें भी लगें हैप्पी

सर्दियों का गर्मजोशी से करें स्वागत

सर्दियों का गर्मजोशी से करें स्वागत

कार्तिक आर्यन   हैप्पी होगा न्यू ईयर

कार्तिक आर्यन हैप्पी होगा न्यू ईयर

शहर

View All