स्कूलों में विदेशी भाषाएं पढ़ाने पर विभाग करें विचार : अमरेंद्र

स्कूलों में विदेशी भाषाएं पढ़ाने पर विभाग करें विचार : अमरेंद्र

चंडीगढ़, 10 जून (एजेंसी)

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरेंद्र सिंह ने बृहस्पतिवार को राज्य के शिक्षा विभाग से कहा कि वह विद्यार्थियों को विदेशी भाषाएं पढ़ाने और वैश्विक स्तर पर उनकी रोजगार पाने की क्षमता बढ़ाने के तरीकों पर विचार करें। उन्होंने विदेशी भाषा सीखने के इच्छुक विद्यार्थियों को सरकारी स्कूलों में वैकल्पिक विषय के तौर पर अवसर देने की जरूरत पर जोर देते हुए स्कूली शिक्षा विभाग से कहा कि वह विद्यार्थियों को चीनी, अरबी और फ्रांसीसी जैसी भाषाओं की शिक्षा देने के तरीकों पर विचार करे। यहां जारी एक आधिकारिक बयान में मुख्यमंत्री को उद्धृत करते हुए कहा गया कि ये भाषाएं उन्हें (विद्यार्थियों को) पूरी दुनिया में रोजगार दिलाने के अवसर बढ़ाने में सहायक हो सकती हैं। राज्य के स्कूली शिक्षकों से संवाद में सिंह ने कहा, ‘पंजाबी हमारी मातृभाषा है और अंग्रेजी पहले ही स्कूलों में सिखाई जा रही है। ऐसे में विदेशी भाषा का अतिरिक्त ज्ञान हमारे विद्यार्थियों को अपना करियर बनाने में और मदद करेगा।’ लोगों के कुछ नया करने के जज्बे को लेकर अपने अनुभवों को साझा करते हुए सिंह ने कहा कि बहुत पहले जब वह कपूरथला जिले का दौरा कर रहे थे तब उन्होंने एक साइनबोर्ड देखा जिसमें इतालवी भाषा पढ़ाने के स्थान की जानकारी दी गई थी। इतालवी भाषा में देखे इस बोर्ड ने उन पर गहरी छाप छोड़ी। उन्होंने कहा, ‘यह घटना बताती है कि हमारे लोग, खासतौर पर युवा विदेश में रहने के लिए विदेशी भाषा सीखने के इच्छुक हैं और शिक्षा विभाग की ऐसी पहल उन्हें अपनी महत्वकांक्षाओं को मूर्त रूप देने में मदद करेगी।’

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

पाक सेना के तीर से अधीर हामिद मीर

पाक सेना के तीर से अधीर हामिद मीर

नीति-निर्धारण के केंद्र में लाएं गांव

नीति-निर्धारण के केंद्र में लाएं गांव

असहमति लोकतांत्रिक व्यवस्था का हिस्सा

असहमति लोकतांत्रिक व्यवस्था का हिस्सा

बदलोगे नज़रिया तो बदल जाएगा नज़ारा

बदलोगे नज़रिया तो बदल जाएगा नज़ारा

हरियाणा के सामाजिक पुनर्जागरण के अग्रदूत

हरियाणा के सामाजिक पुनर्जागरण के अग्रदूत

शहर

View All