पंजाब एंड महाराष्ट्र सहकारी बैंक धोखाधड़ी केस में शीर्ष अदालत का राकेश वधावन की जमानत याचिका पर सुनवाई से इनकार

पंजाब एंड महाराष्ट्र सहकारी बैंक धोखाधड़ी केस में शीर्ष अदालत का राकेश वधावन की जमानत याचिका पर सुनवाई से इनकार

नयी दिल्ली, 3 दिसंबर (एजेंसी)

सुप्रीमकोर्ट ने करोड़ों रुपये के पंजाब और महाराष्ट्र सहकारी बैंक (पीएमसी) धोखाधड़ी मामले में धनशोधन के आरोप में जेल में बंद राकेश वधावन की चिकित्सकीय आधार पर दायर जमानत याचिका पर सुनवाई करने से शुक्रवार को इनकार कर दिया और कहा कि वह जेल से अधिक समय अस्पताल में ही रहे हैं। चीफ जस्टिस एन वी रमण और जस्टिस सूर्यकांत एवं जस्टिस हिमा कोहली की पीठ ने वधावन की ओर से पेश हुए मुकुल रोहतगी को हाईकोर्ट में जाने के लिए जमानत याचिका वापस लेने की अनुमति दे दी। रोहतगी ने आरोपी की चिकित्सकीय स्थिति का हवाला दिया और कहा कि वह कुछ समय से जेल में हैं। पीठ ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि वह जेल की अपेक्षा अस्पताल में अधिक रहे हैं। उच्च न्यायालय जाइए।'' इसके बाद रोहतगी ने बताया कि उच्च न्यायालय ने जमानत याचिका खारिज कर दी है। पीठ ने कहा, ‘‘कुछ समय बाद दायर कीजिए। अभी नहीं। ठीक है, आपको हाईकोर्ट में जाने के लिए याचिका वापस लेने की अनुमति दी जाती है।'' बंबई हाईकोर्ट ने वधावन की जमानत याचिका 14 अक्तूबर को खारिज कर दी थी।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

अन्न जैसा मन

अन्न जैसा मन

कब से नहीं बदला घर का ले-आउट

कब से नहीं बदला घर का ले-आउट

एकदा

एकदा

बदलते वक्त के साथ तार्किक हो नजरिया

बदलते वक्त के साथ तार्किक हो नजरिया

मुख्य समाचार

कोल्हापुर : 14 बच्चों के अपहरण और 5 बच्चों की हत्या की दोषी बहनों की फांसी की सज़ा उम्रकैद में बदली

कोल्हापुर : 14 बच्चों के अपहरण और 5 बच्चों की हत्या की दोषी बहनों की फांसी की सज़ा उम्रकैद में बदली

मौत की सजा पर अमल में अत्यधिक विलंब के कारण हाईकोर्ट ने लिया...