सुशांत केस की जांच कर रहे आईपीएस अधिकारी को पृथक-वास में भेजना अनुचित : नीतीश कुमार

सुशांत केस की जांच कर रहे आईपीएस अधिकारी को पृथक-वास में भेजना अनुचित : नीतीश कुमार

पटना, 3 अगस्त (एजेंसी)

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच के लिये पटना से मुंबई गये एक आईपीएस अधिकारी को जबरन पृथक-वास में भेजे जाने को अनुचित बताया है। मुख्यमंत्री ने ‘अभिनेता को आत्महत्या के लिये उकसाने’ के मामले की जांच के लिये मुंबई गये आईपीएस अधिकारी एवं पटना के पुलिस अधीक्षक, नगर (पूर्वी), विनय तिवारी के बारे में पूछे जाने पर सोमवार को कहा, ‘उनके साथ जो कुछ किया गया, वह अनुचित है।’ उन्होंने यह भी कहा कि यह विषय राज्य के पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय ने महाराष्ट्र के अधिकारियों के समक्ष उठाया है। कुमार ने कहा, ‘वह (पांडेय) खुद संबद्ध अधिकारियों से बात करेंगे।’ यह पूछे जाने पर कि क्या इस विषय को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बारे में वह कुछ कहना चाहेंगे, कुमार ने कहा, ‘यह कोई राजनीतिक मुद्दा नहीं है। यह बिहार पुलिस के एक कानूनी दायित्व का विषय है। हम इसे पूरा करने की हरसंभव कोशिश करेंगे।’ हालांकि, वह सुशांत की मौत के मामले की सीबीआई जांच कराने की सिफारिश के बारे में सवालों को टाल गये। उल्लेखनीय है कि सुशांत की दो बहनों द्वारा मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग की जा रही है। मुख्यमंत्री से पत्रकारों ने एक पार्क में बातचीत की, जहां उन्होंने रक्षा बंधन के अवसर पर एक पेड़ को राखी बांधी। कुमार के साथ उप मुख्यमंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी भी थे, जो इस प्रकरण में बिहार पुलिस टीम के साथ असहयोग किये जाने को लेकर महाराष्ट्र सरकार की मुखर आलोचना कर रहे हैं।

 

 

 

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

बलिदानों के स्वर्णिम इतिहास का साक्षी हरियाणा

सुशांत की ‘टेलेंट मैनेजर’ जया साहा एनसीबी-एसआईटी के सामने हुईं पेश

सुशांत की ‘टेलेंट मैनेजर’ जया साहा एनसीबी-एसआईटी के सामने हुईं पेश

किसानों की आशंकाओं का समाधान जरूरी

किसानों की आशंकाओं का समाधान जरूरी