सीएम भगवंत मान के सिर आज बंधेगा सेहरा

पिहोवा की गुरप्रीत कौर से शादी, केजरीवाल समेत चुनींदा लोग होंगे शामिल

सीएम भगवंत मान के सिर आज बंधेगा सेहरा

दिनेश भारद्वाज/ ट्रिन्यू

चंडीगढ़, 6 जुलाई

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान तलाक के करीब 6 साल बाद एक बार फिर परिणय सूत्र में बंधने जा रहे हैं। बृहस्पतिवार को उनकी शादी है। चंडीगढ़ स्थित उनकी सरकारी कोठी पर बुधवार को विवाह समारोह की तैयारियां हुईं। 48 वर्षीय मान की होने वाली पत्नी गुरप्रीत कौर पेशे से डॉक्टर हैं। वह मूल रूप से हरियाणा की रहने वाली हैं और वर्तमान में मोहाली में रहती हैं।

यह विवाह सादे तरीके से होगा और इसमें चुनींदा लोग ही शामिल होंगे। दिल्ली के सीएम व आप सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल अपने परिवार सहित शादी समारोह में पहुंचेंगे। बुधवार को दिनभर सोशल मीडिया पर मान की शादी को लेकर खबरें चलती रहीं। हालांकि, मान की ओर से अाधिकारिक तौर पर इसका खुलासा नहीं किया गया। शादी के कार्यक्रम को इतना गोपनीय रखा गया कि कई विधायकों को भी इसकी खबर नहीं है। पंजाब में यह पहला मौका है, जब किसी नेता की मुख्यमंत्री पद पर रहते हुए शादी होगी।

2019 में हुई मुलाकात : जानकारी के अनुसार, गुरप्रीत कौर और भगवंत मान की पहली मुलाकात 2019 में हुई। मान तब संगरूर से सांसद थे। इसके बाद गुरप्रीत उनके विशेष कार्यक्रमों में शामिल होती रहीं। सीएम के शपथ ग्रहण समारोह में भी वह मौजूद थीं। ऐसी भी खबरें हैं कि दोनों पिछले करीब एक-डेढ़ साल से काफी नजदीक थे। गुरप्रीत कई बार मान की बहन के साथ भी देखी गई हैं।

पहली पत्नी से 2016 में हुआ था तलाक : भगवंत मान ने 2016 में अपनी पहली पत्नी इंदरप्रीत कौर से सहमति के साथ तलाक लिया था। उनकी 21 साल की एक बेटी और 17 साल का बेटा है, जो अपनी मां के साथ अमेरिका में रहते हैं। मान ने जब सीएम पद की शपथ ली थी, तो बेटा-बेटी आये थे। अपने शपथ ग्रहण समारोह में उन्हें देखकर मान काफी भावुक हो गए थे। साल 2014 में जब मान ने संगरूर से लोकसभा चुनाव लड़ा, तब उनकी पहली पत्नी इंदरप्रीत उनका प्रचार करती भी नजर आईं थी।

मदनपुर गांव की बेटी, तीन बहनों में सबसे छोटी

पिहोवा (सुभाष पौलस्त्य) : पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान की होने वाली पत्नी गुरप्रीत कौर पिहोवा से सटे गांव मदनपुर की रहने वाली हैं। उनके पिता इन्द्रजीत सिंह करीब 20 साल यहां रहे। प्राप्त जानकारी के अनुसार उनकी लगभग 40 एकड़ जमीन है, जिस पर वह खेती करते रहे हैं। उनकी तीन बेटियां हैं, जिनमें सबसे बड़ी नीरू शादी के बाद अमेरिका में रह रही हैं। उससे छोटी बेटी गग्गू शादी के बाद से अॉस्ट्रेलिया में हैं। सबसे छोटी बेटी है गुरप्रीत, जिसे पड़ोसी गोपी के नाम से पुकारते थे। गुरप्रीत ने साल 2017 में मुलाना मेडिकल काॅलेज से एमबीबीएस की पढ़ाई पूरी की थी। चंडीगढ़ के एक नामी अस्पताल में उनकी नौकरी लग गई थी। इसके बाद उनके पिता इंद्रजीत सिंह और मां हरजिन्द्र कौर मोहाली में रहने लगे। पिहोवा में रह रहे उनके परिजन गुरिंदरजीत ने बताया कि उन्हें इस शादी के बारे में मीडिया से ही पता चला।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

नाजुक वक्त में संयत हो साथ दें अभिभावक

नाजुक वक्त में संयत हो साथ दें अभिभावक

आत्मनिर्भरता संग बचत की धुन

आत्मनिर्भरता संग बचत की धुन

हमारे आंगन में उतरता अंतरिक्ष

हमारे आंगन में उतरता अंतरिक्ष

योगमय संयोग भगाए सब रोग

योगमय संयोग भगाए सब रोग