मंत्रिमंडल का फैसला

खाद्यान्नों की पैकिंग जूट की बोरी में करना अनिवार्य

खाद्यान्नों की पैकिंग जूट की बोरी में करना अनिवार्य

नयी दिल्ली, 29 अक्तूबर (एजेंसी)

जूट उद्योग की मदद के लिए सरकार ने खाद्यान्नों की सौ फीसदी पैकिंग और चीनी की 20 प्रतिशत पैकिंग जूट की बोरियों में करना अनिवार्य बना दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल की बृहस्पतिवार को हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया । बैठक के बाद सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि इस निर्णय से हजारों किसानों के साथ-साथ जूट उद्योग में लगे लगभग 4 लाख श्रमिकों को लाभ होगा। मंत्रिमंडल ने पेट्रोल में मिलाये जाने वाले एथनॉल की कीमत में भी 5 से 8% वृद्धि को मंजूरी दे दी। उन्होंने ने कहा कि इस कदम से किसानों को लाभ मिलने के साथ ही पेट्रोलियम पदार्थों का आयात कम करने में मदद मिलेगी। पेट्रोल में 10 प्रतिशत एथनॉल को मिलाने की अनुमति है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

संदेह के खात्मे से विश्वास की शुरुआत

संदेह के खात्मे से विश्वास की शुरुआत

चलो दिलदार चलो...

चलो दिलदार चलो...