पंजाब में बची है सिर्फ 5 दिन की वैक्सीन

सोनिया की कोरोना पर समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह बताया

पंजाब में बची है सिर्फ 5 दिन की वैक्सीन

अदिति टंडन/ट्रिन्यू

नयी दिल्ली, 10 अप्रैल

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शनिवार को कोरोना समीक्षा बैठक में अपनी पार्टी के सभी मुख्यमंत्रियों को टेस्ट बढ़ाने, कॉन्टेक्ट्स को ट्रेस करने और वैक्सीन की पहुंच बढ़ाने को कहा। महाराष्ट्र और पंजाब में सबसे ज्यादा कोरोना के केस आ रहे हैं। दोनों की राज्यों में कांग्रेस सरकार में है। देश में पिछले 14 दिन में हुई मौतों में 64 फीसदी इन्हीं दो राज्यों में हुई है। बैठक में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने सोनियो को बताया कि राज्य में कोरोना वैक्सीन का स्टॉक सिर्फ पांच दिन का बचा है। उन्होंने बताया कि राज्य में अभी कोरोना वैक्सीन की 5.7 लाख डोज बजी हैं, जबकि रोजाना 85000 से 90000 लोगों को रोजाना वैक्सीन लग रही हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी सरकार ने कोरोना महामारी में कुपबंधन किया और टीके का निर्यात कर देश में इसकी कमी होने दी। उन्होंने पार्टी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों और कांग्रेस के गठबंधन वाली प्रदेश सरकारों में शामिल पार्टी के मंत्रियों की बैठक में यह भी कोरोना के संक्रमण के प्रसार से निपटने के लिए सख्त कदम उठाने तथा साथ ही कमजोर तबकों की मदद करने की जरूरत है। वीडियो कांफ्रेस के माध्यम से हुई बैठक में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भी मौजूद थे। सोनिया ने कहा, ‘कोरोना वायरस संक्रमण बढ़ रहा है और ऐसे में मुख्य विपक्षी दल के तौर पर हमारी यह जिम्मेदारी है कि हम मुद्दों को उठाएं और सरकार पर दबाव बनाएं कि वह जनसंपर्क की तरकीबें अपनाने की बजाय जनहित में काम करे।' उन्होंने इस बात पर जोर दिया, ‘पारदर्शिता होनी चाहिए। सरकार को कांग्रेस शासित समेत सभी राज्यों में संक्रमण और मौत के वास्तविक आंकड़े पेश करने चाहिए।' केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए सोनिया ने कहा, ‘हमें सबसे पहले भारत में टीकाकरण अभियान पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए और इसके बाद टीके का निर्यात करना और दूसरे देशों के तोहफे में देना चाहिए। हमें इस बात पर जोर देना होगा कि जिम्मेदाराना व्यवहार हो और बिना किसी अपवाद के कोविड संबंधी दिशानिर्देंशों एवं सभी कानूनों का पालन किया जाए।'

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

संतोष मन को ही मिलता है सच्चा सुख

संतोष मन को ही मिलता है सच्चा सुख

इस जय-पराजय के सवाल और सबक

इस जय-पराजय के सवाल और सबक

आखिर मजबूर क्यों हो गये मजदूर

आखिर मजबूर क्यों हो गये मजदूर

जीवन में अच्छाई की तलाश का नजरिया

जीवन में अच्छाई की तलाश का नजरिया

नुकसान के बाद भरपाई की असफल कोशिश

नुकसान के बाद भरपाई की असफल कोशिश

अनाज के हर दाने को सहेजना जरूरी

अनाज के हर दाने को सहेजना जरूरी