‘ओमीक्रोन' का डर : भारत से अमेरिका पहुंचने वाले सभी यात्रियों को दिखानी होगी ‘नेगेटिव’ जांच रिपोर्ट

‘ओमीक्रोन' का डर : भारत से अमेरिका पहुंचने वाले सभी यात्रियों को दिखानी होगी ‘नेगेटिव’ जांच रिपोर्ट

प्रतीकात्मक चित्र

वाशिंगटन/नयी दिल्ली, 5 दिसंबर (एजेंसी)

कोरोना वायरस के नए स्वरूप ‘ओमीक्रोन' के बढ़ते मामलों के मद्देनजर अमेरिका ने भारत समेत अन्य देशों से यहां आने वाले सभी यात्रियों के लिए कोविड-19 की ‘नेगेटिव' जांच रिपोर्ट साथ लाना या संक्रमण से उबरने का सबूत लाना अनिवार्य बना दिया है। यह नया नियम 6 दिसंबर से प्रभाव में आएगा। स्वास्थ्य एवं मानव सेवा विभाग के तहत आने वाले रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र ने यह जानकारी दी। भारत सरकार के अधिकारियों ने शनिवार को यहां भारतीय-अमेरिकी समुदाय के नेताओं को सूचित किया, ‘‘यह संशोधित आदेश, अमेरिका के लिए विमान में सवार होने जा रहे दो वर्ष या अधिक आयु के लोगों के लिए कोविड-19 जांच को आवश्यक बनाता है।'' किसी भी देश से अमेरिका के लिए रवाना होने वाले विमानों के लिए जारी इस नए संशोधित आदेश के मुताबिक यात्रियों को यात्रा से अधिकतम एक दिन पहले की ‘नेगेटिव' जांच रिपोर्ट दिखानी होगी अथवा उन्हें यात्रा से 90 दिन पहले कोविड-19 से उबरने का प्रमाण दिखाना होगा।

अमेरिका के न्यूयॉर्क में शनिवार को ओमीक्रोन संक्रमण के तीन और मामले सामने आए और इसी के साथ राज्य में कोरोना वायरस के नए स्वरूप से संक्रमण के मामलों की संख्या बढ़कर आठ हो गई। इसके अलावा अमेरिका में उन राज्यों की संख्या बढ़ गई है, जहां ओमीक्रोन संक्रमण के पहले मामले सामने आए हैं। न्यूयॉर्क स्वास्थ्य आयुक्त मैरी बैसेट ने एक समाचार विज्ञप्ति में कहा, ‘‘ओमीक्रोन संक्रमण यहां फैल गया है और जैसी कि आशंका थी, अब समुदाय में इसका संक्रमण फैलता देख रहे हैं।' अमेरिका के मैसाच्युसेट्स और वाशिंगटन में शनिवार को पहली बार ओमीक्रोन संक्रमण के मामले पाए गए। इससे एक दिन पहले न्यू जर्सी, जॉर्जिया, पेंसिल्वेनिया और मैरीलैंड में शुक्रवार को पहली बार कोविड-19 के इस स्वरूप से संक्रमण के मामले सामने आए थे।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

अन्न जैसा मन

अन्न जैसा मन

कब से नहीं बदला घर का ले-आउट

कब से नहीं बदला घर का ले-आउट

एकदा

एकदा

बदलते वक्त के साथ तार्किक हो नजरिया

बदलते वक्त के साथ तार्किक हो नजरिया