लोकसभा में कांग्रेस सदस्यों के कागज उछालने की घटना को लेकर नोकझोंक, सदन की बैठक दिनभर के लिये स्थगित

लोकसभा में कांग्रेस सदस्यों के कागज उछालने की घटना को लेकर नोकझोंक, सदन की बैठक दिनभर के लिये स्थगित

लोकसभा की कार्यवाही का दृश्य।-प्रेट्र

नयी दिल्ली, 29 जुलाई (एजेंसी)

लोकसभा में एक दिन पहले कांग्रेस के कुछ सदस्यों की ओर से कागज उछालने की घटना को लेकर बृहस्पतिवार को सत्तापक्ष और विपक्ष के बीच तीखी नोकझोंक होने और पेगासस जासूसी मामले और कुछ अन्य मुद्दों पर विपक्षी सदस्यों के हंगामे के कारण लोकसभा की कार्यवाही 3 बार के स्थगन के बाद दिनभर के लिए स्थगित कर दी गयी।

इससे पहले आज सुबह हंगामे के बाद 11.30 बजे तक के लिए सदन स्थगित कर दिया गया। इसके बाद सदन दोबारा शुरु होने पर फिर हंगामे के कारण लोकसभा की कार्यवाही 2 बार के स्थगन के बाद दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गयी। इससे पहले सदन की कार्यवाही आरंभ होने पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने बुधवार की घटना को लेकर अपनी पीड़ा व्यक्त की और सदस्यों को चेतावनी दी कि अगर भविष्य में संसद की गरिमा के प्रतिकूल घटनाओं की पुनरावृत्ति की गई तो वह कार्रवाई करेंगे। उन्होंने कहा कि आसन के प्रति कल का आचरण अनुचित था। सदस्य अपने आचरण एवं मर्यादाओं का ध्यान रखें ।

इस दौरान लोकसभा में नेता अधीर रंजन चौधरी ने आरोप लगाया कि सरकार अपनी जिद पर अड़ी है और विपक्ष को अपनी बात नहीं रखने दे रही है। संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि आसन और सत्तापक्ष एवं मीडिया की ओर कागज फेंका गया। उन्होंने सवाल किया कि क्या यही तरीका है और इस पर माफी मांगने की जरूरत भी नहीं समझ रहे हैं। इसके बाद सत्तापक्ष और विपक्ष के बीच नोकझोंक शुरू हो गई। अध्यक्ष ओम बिरला ने सुबह करीब 11 बजकर पांच मिनट पर सदन की कार्यवाही 11.30 बजे तक के लिए स्थगित कर दी।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

शह-मात का खेल‌‍

शह-मात का खेल‌‍

इंतजार की लहरों पर सवारी

इंतजार की लहरों पर सवारी

पद के जरिये समाज सेवा का सुअवसर

पद के जरिये समाज सेवा का सुअवसर

झाझड़िया के जज्बे से सोने-चांदी की झंकार

झाझड़िया के जज्बे से सोने-चांदी की झंकार

बीत गये अब दिखावे के सम्मोहक दिन

बीत गये अब दिखावे के सम्मोहक दिन