महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले में सीबीआई ने 8 शहरों में मारे छापे

महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले में सीबीआई ने 8 शहरों में मारे छापे

फाइल फोटो

नयी दिल्ली, 28 जुलाई (एजेंसी)केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ भ्रष्टाचार मामले के सिलसिले में राज्य के आठ शहरों में 12 स्थानों पर छापे मारे। अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि इन स्थानों में एसीपी संजय पाटिल और डीसीपी राजू भुजबल के परिसर भी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि छापे मुंबई, पुणे, अहमदनगर, नासिक, ठाणे, सोलापुर, सांगली और उस्मानाबाद में मारे गए। पुणे और मुंबई में “मुठभेड़ विशेषज्ञ” पाटिल के परिसरों पर और अहमदनगर और मुंबई में भुजबल से जुड़े परिसरों पर भी अभियान के दौरान छापेमारी की गई। यह अभियान मंगलवार की रात समाप्त हुआ। अन्य परिसर कथित बिचौलियों के हैं जिनके नाम का खुलासा एजेंसी ने नहीं किया है। सीबीआई ने ‘‘सार्वजनिक कर्तव्य के अनुचित एवं बेईमान उद्देश्य के लिए अनुचित लाभ प्राप्त करने का प्रयास” करने के लिए भ्रष्टाचार रोकथाम कानून की धाराओं एवं आपराधिक साजिश से जुड़ी भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत देशमुख एवं अन्य अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था। मुंबई पुलिस आयुक्त के पद से हटाए जाने के बाद परमबीर सिंह ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लिखे पत्र में आरोप लगाया था कि देशमुख ने सहायक पुलिस निरीक्षक सचिन वाजे को शहर के बार एवं रेस्त्राओं से 100 करोड़ रुपये की वसूली करने को कहा था। सीबीआई की प्राथमिकी में आरोप लगाया गया, “प्रारंभिक जांच में प्रथम दृष्टया सामने आया कि मामले में संज्ञेय अपराध हुआ है जहां महाराष्ट्र के गृह मंत्री, अनिल देशमुख और अन्य अज्ञातों ने अपने सार्वजनिक कर्तव्यों के अनुचित और बेईमान प्रदर्शन के लिए अनुचित लाभ प्राप्त करने का प्रयास किया है।” अधिकारियों ने बताया कि सीबीआई नियमावली के अनुसार, यह आकलन करने के लिए प्रारंभिक जांच शुरू की गई है कि क्या आरोपों में पूर्ण जांच के लिए नियमित मामले में आगे बढ़ने के लिए प्रथम दृष्टया पर्याप्त सामग्री है।

 

 

 

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

शह-मात का खेल‌‍

शह-मात का खेल‌‍

इंतजार की लहरों पर सवारी

इंतजार की लहरों पर सवारी

पद के जरिये समाज सेवा का सुअवसर

पद के जरिये समाज सेवा का सुअवसर

झाझड़िया के जज्बे से सोने-चांदी की झंकार

झाझड़िया के जज्बे से सोने-चांदी की झंकार

बीत गये अब दिखावे के सम्मोहक दिन

बीत गये अब दिखावे के सम्मोहक दिन