फरीदाबाद में सूटकेस में मिले शरीर के टुकड़े; पुलिस को श्रद्धा हत्याकांड से जुड़े होने का शक! : The Dainik Tribune

फरीदाबाद में सूटकेस में मिले शरीर के टुकड़े; पुलिस को श्रद्धा हत्याकांड से जुड़े होने का शक!

फरीदाबाद में सूटकेस में मिले शरीर के टुकड़े; पुलिस को श्रद्धा हत्याकांड से जुड़े होने का शक!

फोटो: इंस्टाग्राम/श्रद्धा वॉलकर

आफताब पूनावाला और श्रद्धा वाकर। एएनआई फ़ाइल

नयी दिल्ली, 25 नवंबर (एएनआई)

हरियाणा के फरीदाबाद में वन क्षेत्र में एक सूटकेस से बरामद शरीर के अंग मुंबई की 27 वर्षीय श्रद्धा वालकर के होने का संदेह है। श्रद्धा को दिल्ली में उसके लिव-इन पार्टनर ने कथित तौर पर मार डाला था। फरीदाबाद पुलिस ने सूरजकुंड वन क्षेत्र में सूटकेस की बरामदगी के बाद दिल्ली पुलिस से संपर्क किया है। पुलिस के मुताबिक, शव को प्लास्टिक की थैली और एक बोरी में लपेटा गया था और सूटकेस के पास से कपड़े और एक बेल्ट भी बरामद की गयी है।

फरीदाबाद पुलिस ने एक बयान में कहा कि प्रथम दृष्टया ऐसा प्रतीत होता है कि एक व्यक्ति की हत्या कहीं और की गई थी और पहचान से बचने के लिए शरीर का एक हिस्सा यहां फेंक दिया गया था। फरीदाबाद पुलिस ने दिल्ली पुलिस से वह जानकारी साझा की है, जिसके आधार पर श्रद्धा हत्याकांड की जांच कर रही दक्षिणी दिल्ली की महरौली पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची। दिल्ली पुलिस के अधिकारियों को शक है कि सूटकेस से बरामद शव के अवशेष श्रद्धा वालकर हत्याकांड से जुड़े हो सकते हैं। सूत्रों ने कहा कि सूटकेस में पाए गए शरीर के अंग (धड़ सहित) महीनों पुराने प्रतीत होते हैं, और यह स्पष्ट नहीं है कि वे किसी पुरुष के थे या महिला के। उन्होंने बताया कि अंगों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो सकेगी। आधिकारिक सूत्रों ने कहा, ‘फरीदाबाद पुलिस के अधिकारियों ने भी कहा है कि अगर दिल्ली पुलिस डीएनए टेस्ट कराना चाहती है तो वे नमूने अलग रख देंगे।’

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

साल के आखिर में नौकरी के नये मौके

साल के आखिर में नौकरी के नये मौके

समझ-सहयोग से संभालें रिश्ते

समझ-सहयोग से संभालें रिश्ते

धुंधलाए अतीत की जीवंत झांकी

धुंधलाए अतीत की जीवंत झांकी

प्रेरक हों अनुशासन और पुरस्कार

प्रेरक हों अनुशासन और पुरस्कार

सर्दी में गरमा-गरम डिश का आनंद

सर्दी में गरमा-गरम डिश का आनंद

यूं छुपाए न छुपें जुर्म के निशां

यूं छुपाए न छुपें जुर्म के निशां

मुख्य समाचार

फौलादी जज्बे से तोड़ दी मुसीबतों की बेड़ियां...

फौलादी जज्बे से तोड़ दी मुसीबतों की बेड़ियां...

अनहोनी को होनी कर दे...

हनोई में एक बौद्ध वृक्ष, जड़ें जुड़ी हैं भारत से!

हनोई में एक बौद्ध वृक्ष, जड़ें जुड़ी हैं भारत से!

डॉ. राजेन्द्र प्रसाद की बिसारी मधुर स्मृति को ताजा किया दैनि...

शहर

View All