मेरठ में किसान महापंचायत में प्रियंका ने कहा : जब तक दम है, तब तक लड़ूंगी!

मेरठ में किसान महापंचायत में प्रियंका ने कहा : जब तक दम है, तब तक लड़ूंगी!

मेरठ (उप्र), 7 मार्च (एजेंसी)

केंद्र के तीन नये कृषि कानूनों के खिलाफ आयोजित किसान महापंचायत को संबोधित करते हुये कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने रविवार को किसानों से दिल्ली सीमा की तरह प्रत्येक गांव में आंदोलन करने का आह्वान किया। इसके साथ ही उन्होंने किसानों से कहा कि ‘‘जब जब आप संकट में होंगे, कांग्रेस आपके साथ खड़ी होगी, आपकी लड़ाई मेरी लड़ाई है और जब तक मुझमें दम है, मैं आपके साथ लड़ूंगी।' उत्तर प्रदेश के मेरठ में रविवार को कांग्रेस की ओर से इस किसान महापंचायत का आयोजन किया गया था। प्रियंका ने अपने संबोधन में आरोप लगाया कि अंग्रेजों की तरह भारतीय जनता पार्टी की सरकार किसानों का शोषण कर रही है। उन्होंने कहा, ‘यह मेरठ की धरती है। यहीं से स्वतंत्रता संग्राम का पहला विद्रोह शुरू हुआ था। उस आजादी की लड़ाई में किसान शामिल रहे। हजारों किसान आंदोलन में जुटे। बहुत से लोग शहीद हुए। अंग्रेजी साम्राज्य किसानों को परेशान कर रहा था।' कांग्रेस नेता ने कहा, ‘भाजपा की सरकार भी किसानों का शोषण कर रही है। ये ऐसे कानून हैं जिनसे आपकी कमाई ठीक से नही मिल पाएगी। ये कृषि कानून बड़े उद्योगपतियों को लाभ देंगे। तीनों कृषि कानून में एक तरफ खरबपति और दूसरी तरफ आप, तो आपको क्या लाभ मिलेगा।' उन्होंने आरोप लगाया कि इन कानूनों को बनाने से पहले किसी किसान से नहीं पूछा गया। उन्होंने कहा कि आंदोलन के सौ दिन पूरे हो गए हैं और अगर कानून कृषकों के लिये बने हैं तो किसान दिल्ली की सीमा पर क्यों बैठे हैं। प्रियंका गांधी वाद्रा ने कहा, ‘किसानों ने इस देश को आजादी दिलाई। किसान में हिम्मत की कमी नहीं है, आत्मशक्ति की कमी नहीं है। अगर किसान सीमा पर बैठे हैं, तो क्या प्रधानमंत्री को उनका आदर नहीं करना चाहिए। पानी काटा गया, बिजली काटी गई।'

 

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री अमेरिका, पाकिस्तान और चीन घूमकर आ गए लेकिन अपने यहां ही नही जा रहे। उन्होंने आरोप लगाया कि उनकी सरकार बड़े बड़े उद्योगपतियों के लिए चल रही है और उनके केवल दो ही मित्र हैं। कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया, ‘‘बिजली के दाम बढ़ गए, पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ गये । हर तरफ से आप पर वार है। इस स्थिति को बदलने के लिए खड़े रहना पड़ेगा।' प्रियंका ने जोर देकर कहा, ‘सरकार ने आपके लिये जो परिस्थितियां बनाई है, आपको भी यही परिस्थिति सरकार के लिये बनानी है।' उन्होंने किसानों से कहा, ‘आपने कई वर्षों तक जुल्म सह लिए हैं। 215 किसान शहीद हुए। सरकार का एक भी सांसद, संसद में खड़ा नहीं हुआ। प्रधानमंत्री (नरेंद्र) मोदी ने आपका मजाक उड़ाया। किसानों को परजीवी कहा। आपको समझना पड़ेगा कि आपके पक्ष में है या हित में है। अब समय आ गया है आप जाग जायें।' प्रियंका ने इस दौरान उन किसानों को श्रद्धांजलि देते हुए दो मिनट का मौन रखा जिनकी आंदोलन के दौरान मौत हो गयी।

 

इससे पहले प्रियंका गांधी वाड्रा के मेरठ पहुंचने पर रास्ते में दर्जनों स्थानों पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया। प्रियंका गांधी ट्रैक्टर में सवार होकर रैली स्थल तक पहुंचीं और क्षेत्र की जनता का अभिवादन किया। इस दौरान प्रियंका के साथ प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू समेत अन्य नेता मौजूद थे।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

राजनेताओं की जवाबदेही का सवाल

राजनेताओं की जवाबदेही का सवाल

तेल से अर्जित रकम का कीजिए सदुपयोग

तेल से अर्जित रकम का कीजिए सदुपयोग

ताऊ और तीसरी धारा की राजनीति

ताऊ और तीसरी धारा की राजनीति

अभिमान से मुक्त होना ही सच्चा ज्ञान

अभिमान से मुक्त होना ही सच्चा ज्ञान

फलक पर स्थापित ‘थलाइवा’ को फाल्के

फलक पर स्थापित ‘थलाइवा’ को फाल्के

नंदीग्राम रणभूमि के नये सारथी शुभेंदु

नंदीग्राम रणभूमि के नये सारथी शुभेंदु

राजनीति से अहद-ए-वफा चाहते हो!

राजनीति से अहद-ए-वफा चाहते हो!