कंगना रनौत का दावा- ‘काम न होने' के चलते टैक्स अदायगी में हुई देरी!

कंगना रनौत का दावा- ‘काम न होने' के चलते टैक्स अदायगी में हुई देरी!

फाइल फोटो

मुंबई, 9 जून (एजेंसी)अभिनेत्री कंगना रनौत ने कहा है कि बॉलीवुड में ‘‘सबसे अधिक भुगतान पाने'' वाली अभिनेत्री होने के बावजूद वह समय पर अपने कर का भुगतान नहीं कर पा रही हैं, क्योंकि उनके पास ‘‘कोई काम नहीं'' था। उन्होंने मंगलवार रात को अपनी इंस्टाग्राम पोस्ट में कहा कि उन्हें सरकार को कुल देय टैक्स का आधा अभी देना है। रनौत ने कहा, ‘‘भले ही मैं उच्चतम टैक्स स्लैब के तहत आती हूं और अपनी आय का लगभग 45 प्रतिशत कर के रूप में देती हूं, भले ही मैं सबसे अधिक कर देने वाली अभिनेत्री हूं, लेकिन काम नहीं होने के कारण मैंने अपने पिछले साल के कर का आधा भुगतान नहीं किया है, मेरे जीवन में पहली बार मुझे कर चुकाने में देरी हो रही है।'' हाल में कोरोना वायरस संक्रमण से उबरने वाली अभिनेत्री ने कहा कि सरकार बकाया राशि पर ब्याज ले रही है, और वह इस कदम का स्वागत करती हैं। उन्होंने लिखा, ‘‘मुझे कर चुकाने में देर हो रही है, लेकिन सरकार इस बकाया कर राशि पर ब्याज वसूल रही है, फिर भी मैं इस कदम का स्वागत करती हूं। व्यक्तिगत रूप से हमारे लिए समय कठिन हो सकता है लेकिन हम सब साथ मिलकर वक्त से मजबूत बन सकते हैं।''

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

पाक सेना के तीर से अधीर हामिद मीर

पाक सेना के तीर से अधीर हामिद मीर

नीति-निर्धारण के केंद्र में लाएं गांव

नीति-निर्धारण के केंद्र में लाएं गांव

असहमति लोकतांत्रिक व्यवस्था का हिस्सा

असहमति लोकतांत्रिक व्यवस्था का हिस्सा

बदलोगे नज़रिया तो बदल जाएगा नज़ारा

बदलोगे नज़रिया तो बदल जाएगा नज़ारा

हरियाणा के सामाजिक पुनर्जागरण के अग्रदूत

हरियाणा के सामाजिक पुनर्जागरण के अग्रदूत

मुख्य समाचार

गांवों में दी गयी 64% खुराकें

गांवों में दी गयी 64% खुराकें

कोरोना 21 जून की ‘ऐतिहासिक उपलब्धि’/ 89.09 लाख टीके लगे

केंद्र की सर्वदलीय बैठक में शामिल होंगे गुपकार नेता

केंद्र की सर्वदलीय बैठक में शामिल होंगे गुपकार नेता

पीएजीडी की बैठक के बाद फारूक की घोषणा

सरकार के कोविड प्रबंधन पर कांग्रेस का ‘श्वेत पत्र’

सरकार के कोविड प्रबंधन पर कांग्रेस का ‘श्वेत पत्र’

केंद्र सरकार की ‘गलतियों और कुप्रबंधन’ का उल्लेख

पवार के घर जुटे विपक्षी नेता

पवार के घर जुटे विपक्षी नेता

टीएमसी, सपा, आप और रालोद सहित कई पार्टियां शामिल