2 बच्चों को जन्म देने के बाद महिला की मौत

मेडिकल कालेज में परिजनों ने किया हंगामा

2 बच्चों को जन्म देने के बाद महिला की मौत

करनाल, 6 दिसंबर (हप्र)

कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में दो बच्चों को जन्म देने के बाद सोमवार को एक महिला की उपचार के दौरान मौत हो गई। गुस्साये परिजनों ने स्टाफ पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया और हंगामा कर दिया। पुलिस ने पहुंचकर परिजनों को शांत किया।

जानकारी के अनुसार, कुरुक्षेत्र के गांव अमीन निवासी मंजू को कल्पना चावला करनाल में रेफर किया गया था। दो दिसम्बर को डाक्टरों ने कहा कि ऑपरेशन करना होगा। मंजू के पति विजय ने बताया कि डॉक्टरों ने उन्हें बताया कि मंजू के दो बच्चे हुए हैं। एक लड़का और एक लड़की। ऑपरेशन थिएटर से दोनों बच्चों को बाहर लाकर हमें सौंप दिया, लेकिन मंजू से मिलने नहीं दिया और उसे आईसीयू में भर्ती कर दिया। उन्होंने बताया गया कि उस समय बताया गया कि डिलिवरी के बाद से मंजू की ब्लीडिंग नहीं रुकी।

विजय ने कहा कि सोमवार को नर्स ने कहा कि मंजू की मौत हो गई है, उसका शव ले जाओ। उन्होंने आरोप लगाया कि मंजू की मौत डिलिवरी के बाद ही हो गई थी। पांच दिनों तक उन्हें गुमराह करने के लिए उसे आईसीयू पर रखा। परिजनों ने शव लेने की बजाये पुलिस को सूचना दे दी और लापरवाही बरतने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

परिजनों ने मेडिकल स्टाफ पर आरोप लगाये और जमकर हंगामा किया। उन्होंने आरोप लगाया कि नर्स ने उनसे एक बच्चे की डिमांड की थी। मना करने पर जानबूझकर लापरवाही बरती गई और इससे मंजू की मौत हो गई। विजय ने आरोप लगाया कि फार्म भरवाते समय उनसे बच्चों की जानकारी मांगी गई तो बताया कि पहले तीन बच्चे हैं। नर्स ने उनसे कहा कि अब दो बच्चे होंगे और एक बच्चा हमें दे दो, इन्हें कैसे पालोगे।

‘लापरवाही पर

होगी कार्रवाई’

मेडिकल कॉलेज के डायरेक्टर डॉ. जगदीश दुरेजा ने कहा कि इस मामले की जांच करवाई जा रही है और लापरवाही मिली तो स्टाफ के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

अन्न जैसा मन

अन्न जैसा मन

कब से नहीं बदला घर का ले-आउट

कब से नहीं बदला घर का ले-आउट

एकदा

एकदा

बदलते वक्त के साथ तार्किक हो नजरिया

बदलते वक्त के साथ तार्किक हो नजरिया