एसईटी ने उजागर किया शराब माफिया और सरकार में गठजोड़

एसईटी ने उजागर किया शराब माफिया और सरकार में गठजोड़

चंडीगढ़, 7 अगस्त (ट्रिन्यू)

शराब घोटाले की जांच के लिए गठित एसईटी की रिपोर्ट को लेकर शुक्रवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा एवं पार्टी के मीडिया विभाग के राष्ट्रीय चेयरमैन रणदीप सिंह सुरजेवाला ने सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि महामारी में लॉकडाउन के दौरान हरियाणा में खुलेआम ‘शराब घोटाला’ हुआ और चोर दरवाजे से औने-पौने दाम पर शराब की बेहिसाब बिक्री व तस्करी हुई। शराब माफिया के तार सीधे-सीधे उच्च पदों पर बैठे राजनीतिज्ञों तथा आला अधिकारियों से जुड़े थे। विपक्ष के विरोध के बाद भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार ने जांच के लिए एसईटी का गठन तो किया लेकिन उसे इंवेस्टिगेशन यानी तफ्तीश के अधिकार नहीं दिए। अब एसईटी ने शराब माफिया व गठबंधन सरकार के गठजोड़ का खुलासा रिपोर्ट में किया है।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये पत्रकारों से बातचीत में दोनों नेताओं ने कहा कि एसईटी को न तो कानूनी अधिकार थे और न ही इसकी कानूनी वैधता। इससे साफ है कि खट्टर सरकार ने इस मामले को दबाने की कोशिश की। एसईटी रिपोर्ट के बाद साफ हो गया है कि घोटाला हुआ है। ऐसे में इसकी जांच पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के सिटिंग जज से करवाई जाए।

सैलजा व सुरजेवाला ने कहा कि एक बात साफ है कि ‘ऑपरेशन कवरअप’ के तहत अब एसईटी की जांच के ऊपर एक और विजिलेंस जांच बैठाई जाएगी। यानी जांच पर जांच और नतीजा ढाक के तीन पात। मतलब किसी तरह, किसी प्रकार से व किसी भी हालत में सरकार में बैठे बड़े-बड़े रसूखदारों-गुनाहगारों तक आंच न आए और शराब माफिया तथा उच्च पदों पर बैठे राजनीतिज्ञों व आला अफसरों के गठजोड़ पर पर्दा डाल दिया जाए।

सीबीआई व ईडी से कराई जाए जांच

इनेलो नेता एवं विधायक अभय चौटाला ने कहा