नगर निगम कर्मचारियों ने शुरू की भूख हड़ताल

कौशल रोजगार निगम को भंग करने की मांग

नगर निगम कर्मचारियों ने शुरू की भूख हड़ताल

करनाल कार्यालय में मंगलवार को अपनी मांगों के समर्थन में भूख हड़ताल पर बैठे नगर निगम कर्मचारी। -हप्र

करनाल, 17 मई (हप्र)

नगर निगम कर्मचारियों ने करनाल में भूख हड़ताल शुरू कर दी है। कर्मचारी मांग कर रहे हैं कि कौशल रोजगार निगम को भंग किया जाए। उन्होंने कहा कि सरकार कर्मचारियों से रोजगार छीनने वाली योजनाएं लागू करना बंद करे। जोखिम भत्ता चार हजार रुपए दिया जाए। सरकार कच्चे कर्मचारियों को जल्द से जल्द पक्का करे तथा पुरानी पेंशन नीति बहाल हो। इस मौके पर प्रदेश सचिव शारदा ने कहा कि अगर सरकार मांगों की तरफ जल्द ध्यान नहीं देती और कोई ठोस कदम नहीं उठाती तो कर्मचारी उग्र आंदोलन करेंगे। भूख हड़ताल पर 21 कर्मचारी बैठे। इस दौरान जिला प्रधान वीरभान बिडलान, इकाई प्रधान राम सिंह, सचिव राज कुमार, वरिष्ठ उपप्रधान सुमेर चंद, उपप्रधान सुरेंंद्र प्रोचा, विनोद प्रोचा, सचिव सोनी, सह सचिव प्रवेश, आडिॅटर रोशन बिडलान, ऑडिटर प्रवेश भुंबक, मुख्य सलाहकार रमेश दादूपुर, प्रचारकर्ता रोहताश, संजय बिडलान, इकाई कैशियर राकेश अठवाल, राकेश प्रोचा, महिला विंग प्रधान शारदा, उपप्रधान सरोज, रोजी, सचिव सलिंद्रो, मीना, सुनीता मौजूद रहे।

रखी भूख हड़ताल, की नारेबाजी

पानीपत में मंगलवार को भूख हड़ताल पर बैठे निगम कर्मचारी। -ट्रिन्यू

पानीपत (ट्रिन्यू) : नगरपालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के आह्वान पर आज यहां नगर निगम कर्मचारियों ने मांगों को लेकर उप प्रधान बलराज के नेतृत्व में दो दिवसीय क्रमिक भूख हड़ताल शुरू की। कर्मचारियों ने मांगों के समर्थन में नारे लगाये। उप प्रधान बलराज, कैशियर संजय, महिला प्रधान शालू व उप प्रधान रीटा ने सरकार पर वादा खिलाफी, हठधर्मिता का आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश के सभी पालिकाओं, परिषदों, नगर निगमो एवं अग्निशमन विभाग के कर्मचारी अपने-अपने कार्यालयों के समक्ष आज से दो दिवसीय क्रमिक भूख हड़ताल पर है। सरकार कर्मचारियों की मांगों का ठोस समाधान करने की बजाय केवल बातचीत करने का ढोंग करने, लोकतांत्रिक कार्य प्रणाली को कुचलने का प्रयास कर रही है। हरियाणा कौशल रोजगार निगम के नाम पर वर्षों से लगे पार्ट वन, पार्ट टू के कर्मचारियों से पक्का होने का अधिकार छीनना चाहती है। उन्होंने कहा कि मांगें पूरी होने तक आंदोलन जारी रहेगा। आज की भूख हड़ताल में दीपक, दिनेश, सुनील, सलेंद्र, सुमित, बलवान, संदीप, जोगी राम, सुरेंद्र, बिल्लू, प्रदीप, जितेंद्र आदि ने भाग लिया।

किया क्रमिक अनशन

कुरुक्षेत्र (हप्र) : नगरपालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के आह्वान पर बनारसी दास इकाई प्रधान थानेसर की अध्यक्षता में क्रमिक अनशन शुरू किया। आज के अनशन में मुख्य रूप से बनारसी दास, सुरेश कुमार, परमजीत, राज कुमार, धर्मपाल, रेखा रानी, लाजो देवी, दर्शना, मीना, रेणु बाला, आशा देवी, अनिता देवी, बतों देवी आदि कर्मचारी क्रमिक अनशन पर बैठे। आज के अनशन में राज्य कमेटी की तरफ से सुभाष गुंसर राज्य उप प्रधान विशेष रूप से उपस्थित रहे। अनशन पर बैठे कर्मचारियों को संबोधित करते हुए ओमप्रकाश जिला प्रधान सर्व कर्मचारी संघ कुरुक्षेत्र ने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा बार-बार कर्मचारियों के आंदोलन को समाप्त करवाने के लिए संगठन को बुलाकर बातचीत कर मांगों को माना गया, लेकिन आज तक उनकी कोई भी मांग पूरी नहीं हुई।

मांगों को लेकर 11 सदस्य बैठे भूख हड़ताल पर

कैथल (हप्र) : नगरपालिका कर्मचारी संघ की राज्य कमेटी के आह्वान पर पालिका कर्मचारियों की लम्बित मांगों को लेकर दो दिवसीय कार्मिक भूख हड़ताल के पहले दिन सुमेश राणा, लछमन, सतीश, राकेश, विक्की टांक, सुभाष, इशाम, गौरव, फायर से शमशेर, सतबीर, सुल्तान व सतपाल समेत 11 साथी भूख हड़ताल पर रहे। इनके अलावा कर्मचारियों ने नगर परिषद कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया, जिसकी अध्यक्षता ब्लॉक प्रधान बिट्टू बहोत ने व संचालन ब्लॉक सचिव विक्की टांक ने किया। संघ के राज्य उपमहासचिव शिवचरण, सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के जिला सचिव रामपाल शर्मा ने कहा कि 10 मई को शहरी स्थानीय निकाय मंत्री ने उनकी लंबित मांगों का समाधान करने की बजाय केवल बातचीत की। इस अवसर पर अध्यापक संघ के ब्लॉक सचिव सतपाल पांचाल, नगर पालिका कर्मचारी संघ के ब्लॉक कैशियर जगदीश, वरिष्ठ उपप्रधान लक्की पुहाल, दीपक चनालिया, महेंद्रो, सीमा, वर्षा, फायर से मनोज कुमार, शमशेर, सुलतान, सुरेंद्र व सतबीर समेत सैंकड़ों कर्मचारी मौजूद रहे।

पालिका कर्मियों ने किया प्रदर्शन

पिहोवा (निस) : सर्व कर्मचारी संघ के आह्वान पर नगरपालिका के कर्मचारियों ने धरना प्रदर्शन किया व पिहोवा से 8 कर्मचारी भूख हड़ताल पर रहे। दर्शन लाल प्रधान ने कहा कि राज्य कमेटी के साथ मांगों को लेकर प्रदेश सरकार से समझौता हुआ था,लेकिन सरकार द्वारा उसे लागू नहीं किया गया, इसलिए कर्मचारियों में रोष बढ़ता जा रहा है। उन्होंने कहा कि उनकी मांगें अस्थायी कर्मचारियों को स्थाई करना, ठेका प्रथा बन्द करना, डोर टू डोर जाने वाले कर्मचारियों को पे रोल पर करना, पुरानी पेंशन योजना बहाल करना आदि लंबित हैं। इस मौके पर शशी पाल, सुनील, वीरभान, अजय, रवि, शिवचरण, विनीत मोर तथा राजकुमार मौजूद थे।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

योगमय संयोग भगाए सब रोग

योगमय संयोग भगाए सब रोग

जीवन के लिए साझे भविष्य का सपना

जीवन के लिए साझे भविष्य का सपना

यमुनानगर तीन दर्जन श्मशान घाट, गैस संचालित मात्र एक

यमुनानगर तीन दर्जन श्मशान घाट, गैस संचालित मात्र एक

ग्रामीणों ने चंदे से बना दिया जुआं में आदर्श स्टेडियम

ग्रामीणों ने चंदे से बना दिया जुआं में आदर्श स्टेडियम