पत्नी के प्रेम-प्रसंग के चलते हुई पति की हत्या

पत्नी के प्रेम-प्रसंग के चलते हुई पति की हत्या

करनाल, 29 नवंबर (हप्र)

नीलोखेड़ी जीटी रोड पर गुरुद्वारे के पास युवक अमनदीप की हत्या में सीआईए टू की टीम ने उसकी पत्नी सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। एक अन्य आरोपी की तलाश की जा रही है। पत्नी के प्रेम-प्रसंग के चलते पति की हत्या हुई थी।

पुलिस निरीक्षक मोहनलाल ने बताया कि अमनदीप सिंह (34) गांव उचाना स्थित दवाई की कम्पनी में काम करता था। 24 नवम्बर की शाम को कम्पनी से काम खत्म करके घर के लिये चला था, लेकिन घर नही पहुंचा। 25 नवंबर की सुबह नीलोखेड़ी जीटी रोड पर गुरुद्वारे के पास बाइक के नजदीक ही अमनदीप सिंह का शव भी मिला। उसकी हत्या की गई थी।

पुलिस ने जांच के बाद अमनदीप सिंह की पत्नी रविन्द्र कौर उर्फ रिम्पी, अम्बाला के बलदेव नगर निवासी हर्षपाल उर्फ सन्नी व कुणाल को अम्बाला से गिरफ्तार किया।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, अमनदीप की शादी वर्ष 2016 में अम्बाला निवासी रविन्द्र कौर हुई थी। उनकी डेढ़ साल की लड़की है। पुलिस को शुरुआती जांच में पता चला कि वारदात वाली रात हर्षपाल एक कार में कुणाल व एक अन्य साथी के साथ करनाल पहुंचा और वारदात वाली जगह पर अमनदीप के सिर पर हथौड़ा व गले पर चाकू से वार करके उसकी हत्या की। वे अमनदीप का मोबाइल फोन व बैग भी अपने साथ ले गये थे।

स्कूल समय से चल रहा था अफेयर

इंस्पेक्टर मोहन लाल ने बताया कि रविंद्र कौर उर्फ रिम्पी का हर्षपाल से स्कूल समय से अफेयर चल रहा था। दोनों की अलग-अलग जगह शादी होने के बाद भी प्यार कम नहीं हुआ। रविंद्र कौर ने अपने पति को यह बात शादी के बाद ही बता दी थी। जब भी अमनदीप उसे कहीं भी घुमाने के लिए ले जाता तो रविंद्र कौर की जिद्द पर हर्षपाल भी उनके साथ गया। रविंद्र कौर अब अलग होने की जिद्द करने लगी तो अमनदीप ने हां भर दी। वह अपने परिवार से बात करने का समय मांग रहा था। इन दिनों रविंद्र कौर अपने बहन की शादी में अम्बाला गई हुई थी। जबकि अमनदीप शादी से लौट आया था। पुलिस के अनुसार, 24 नवंबर की रात को हर्षपाल उर्फ सन्नी ने अमनदीप को अफीम लेने के लिए बुलाया। अफीम देने के बाद खेत में ले जाकर हथोड़े के साथ सिर पर वार किया और अमनदीप की हत्या कर दी।

पुलिस से बचने के लिए पहना बड़ा जूता

आरोपी हर्षपाल के पांव में 7 नंबर का जूता आता है, लेकिन वारदात के समय वह 10 नंबर का जूता पहनकर आया ताकि पुलिस की पकड़ में न आये। पुलिस ने अमनदीप का पत्नी का मोबाईल चैक किया तो सारा भेद खुल गया। उसने अपने मोबाइल का लॉक सन्नी की बाइक के नम्बर का लगाया हुआ था और व्हाट्सएप मैसेज डिलीट किये हुए थे। हर्षपाल उर्फ सन्नी के दो बच्चे हैं।  

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

अन्न जैसा मन

अन्न जैसा मन

कब से नहीं बदला घर का ले-आउट

कब से नहीं बदला घर का ले-आउट

एकदा

एकदा

बदलते वक्त के साथ तार्किक हो नजरिया

बदलते वक्त के साथ तार्किक हो नजरिया

मुख्य समाचार

कोल्हापुर : 14 बच्चों के अपहरण और 5 बच्चों की हत्या की दोषी बहनों की फांसी की सज़ा उम्रकैद में बदली

कोल्हापुर : 14 बच्चों के अपहरण और 5 बच्चों की हत्या की दोषी बहनों की फांसी की सज़ा उम्रकैद में बदली

मौत की सजा पर अमल में अत्यधिक विलंब के कारण हाईकोर्ट ने लिया...