परिवहन मंत्री के पैतृक गांव का चकबंदी रिकार्ड गायब, नायब तहसीलदार दोषी

परिवहन मंत्री के पैतृक गांव का चकबंदी रिकार्ड गायब, नायब तहसीलदार दोषी

राजेश नागर/निस
बल्लभगढ़, 9 अगस्त

प्रदेश के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा के पैतृक गांव सदपुरा का चकबंदी रिकार्ड गायब होने के मामले में जांच एसडीएम बड़खल पंकज सेतिया ने पूरी कर ली है। उन्होंने अपनी जांच में 2008 में पटवारी रहे प्रेम प्रकाश को दोषी माना है। प्रेम प्रकाश फिलहाल सोनीपत में नायब तहसीलदार नियुक्त हैं। जांच रिपोर्ट में इनके खिलाफ कार्रवाई की सिफारिश की गई है। जांच रिपोर्ट डीसी यशपाल यादव को भेज दी गई है। प्रशासन की ओर से यह रिपोर्ट सीएम विंडो के पोर्टल पर भी अपलोड की गई है। उधर, मुख्यमंत्री कार्यालय से इस मामले पर संज्ञान लेते हुए चकबंदी का रिकाॅर्ड दोबारा तैयार करने के आदेश आए हैं।

सदपुरा गांव के मांगेराम शर्मा ने इस मामले की शिकायत सीएम विंडो पर दी थी। उन्होंने बताया है कि उन्हें अपने खेतों के मामले को लेकर चकबंदी का रिकार्ड चाहिए था। इसलिए उन्होंने 2018 में जिला डीसी के पास चकबंदी के रिकार्ड की प्रति देने को कहा। काफी समय तक उन्हें इसकी प्रति नहीं दी गई। इस बाबत उन्होंने एक आरटीआई भी लगाई। आरटीआई से प्राप्त जानकारी से पता चला कि फिलहाल रिकार्ड नहीं मिल रहा। इसके बाद डीसी ने चकबंदी के रिकार्ड गायब होने से संबंधित सेंट्रल थाने में एक एफआईआर दर्ज करवाई। बड़खल के एसडीएम पंकज सेतिया का कहना है कि जांच में तत्कालीन पटवारी प्रेम प्रकाश को दोषी पाया है। यह पटवारी अब पदोन्नति लेकर सोनीपत में नायब तहसीलदार है। डीसी को भी रिपोर्ट भेज दी है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

छोटा सा पौधा थोड़ा सा पानी

छोटा सा पौधा थोड़ा सा पानी

आईपीएल आज से

आईपीएल आज से

टूटने लगा है बच्चों का सुरक्षा कवच

टूटने लगा है बच्चों का सुरक्षा कवच

उगते सूरज के देश में उगा सुगा

उगते सूरज के देश में उगा सुगा

शहर

View All