स्पीति के खमींगर ग्लेशियर में फंसा ट्रैकिंग दल, 2 की मौत; 14 अभी भी ग्लेशियर में!

32 सदस्यीय रेस्क्यू दल राहत व बचाव में जुटा

स्पीति के खमींगर ग्लेशियर में फंसा ट्रैकिंग दल, 2 की मौत; 14 अभी भी ग्लेशियर में!

प्रतीकात्मक चित्र

ज्ञान ठाकुर/निस

शिमला, 27 सितंबर

हिमाचल प्रदेश के लाहौल स्पिति की स्पिति घाटी में ट्रैकिंग पर गया 16 ट्रैकरों का एक दल खंमीगर ग्लेशियर में फंस गया है। इस ट्रैकिंग दल के दो सदस्यों की ग्लेशियर में फंसने से मौत भी हो गई है जबकि 14 सदस्य अभी ग्लेशियर में ही फंसे हुए हैं। जानकारी के मुताबिक 15 सितंबर को इंडियन माउंटनरिंग फाउंडेशन पश्चिम बंगाल का 6 सदस्यीय दल लाहौल स्पिति के बातल से काजा के लिए वाया खमींगर ग्लेशियर होते हुए ट्रैकिंग के लिए रवाना हुआ था। इस दल के साथ 10 पोर्टर भी गए थे। ये सभी लोग 5034 मीटर की ऊंचाई पर स्थित खमींगर ग्लेशियर में फंस गए हैं। इनमें से 2 सदस्य जैसे-तैसे आज काजा पहुंचे जिन्होंने स्थानीय प्रशासन को ट्रैकिंग दल के फंसे होने की सूचना दी। इस सूचना के तुरंत बाद लाहौल स्पिति जिला प्रशासन ने 32 सदस्यीय रेस्क्यू टीम का गठन किया है। इस रेस्क्यू दल को दो टीमों में बांटा गया है। इनमें 16 आईटीबीपी के जवान, 6 डोगरा स्काउट के जवान, एक डॉक्टर और 10 पोर्टर शामिल हैं। इन दोनों टीमों को ग्लेशियर में फंसे ट्रैकर दल को सुरक्षित निकालने के लिए मौके पर भेज दिया गया है। रेस्क्यू टीमों को खमींगर ग्लेशियर तक पहुंचने में अभी तीन दिन का समय लगेगा।

लाहौल स्पिति के उपायुक्त नीरज कुमार ने बताया कि खमींगर ग्लेशियर में फंसे रेस्क्यू दल के शेष सदस्यों को बचाने के लिए हेलीकॉप्टर के माध्यम से बचाव कार्य आरंभ करने पर भी विचार किया जा रहा है। हालांकि खराब मौसम और अत्यधिक ऊंचाई और कठिन भौगोलिक परिस्थितयों के चलते वहां हेलीकॉप्टर से फिलहाल पहुंचना संभव नहीं है।

उपायुक्त लाहौल स्पिति नीरज कुमार ने बताया कि रेस्क्यू ऑपरेशन पिन घाटी के कॉ गांव से शुरू होगा। कल 28 सितंबर को रेस्कयू टीमें कॉ से चंक हांगों दूसरे दिन चंक हांगों से हार थांगों और अंतिम दिन हारथांगों से हमींगर ग्लेशियर पहुंचेगी। तीन दिन में ही ये टीमें हमींगर ग्लेशियर से वापिस कॉ गांव पहुंचेंगी।

यह है सदस्यों के नाम

ट्रैकिंग दल के जिन लोगों की हमींगर ग्लेशियर में मौत हो गई है उनमें 61 वर्षीय भास्कर देव मुखोपाध्याय, सनराइज अपार्टमेंट, 87 डी-बैरकपुर, कोलकाता पश्चिम बंगाल और संदीप कुमार थाकुरता उम्र 38 वर्ष, 3 राइफल, रेंज रोड, प्लॉट नंब जेड-टुव्यान अवासन, बेलगोरिया, पश्चिम बंगाल शामिल है। दल के अन्य सदस्यों में 58 वर्षीय देबाशीष वर्धन, 63 वर्षीय रणधीर राय, रामकृष्ण पाली, पोबाची, 50 वर्षीय तपस कुमार, चितरंजन बर्धवान और 42 वर्षीय अतुल शामिल है। इसके अलावा फंसे लोगों में 10 पोर्टर शामिल है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

‘राइट टू रिकॉल’ की प्रासंगिकता का प्रश्न

‘राइट टू रिकॉल’ की प्रासंगिकता का प्रश्न

शाश्वत जीवन मूल्य हों शिक्षा के मूलाधार

शाश्वत जीवन मूल्य हों शिक्षा के मूलाधार

कानूनी चुनौती के साथ सामाजिक समस्या भी

कानूनी चुनौती के साथ सामाजिक समस्या भी

देने की कला में निहित है सुख-सुकून

देने की कला में निहित है सुख-सुकून

मुख्य समाचार

2 और का सरेंडर, एक गिरफ्तार

2 और का सरेंडर, एक गिरफ्तार

कुंडली बॉर्डर हत्याकांड / आरोपी िनहंग 7 िदन के िरमांड पर

द्रविड़ भारतीय टीम का कोच बनने को तैयार

द्रविड़ भारतीय टीम का कोच बनने को तैयार

गांगुली और शाह ने मनाया, टी20 विश्व कप के बाद नियुक्ति की तै...

मैं पूर्णकालिक अध्यक्ष

मैं पूर्णकालिक अध्यक्ष

सीडब्ल्यूसी बैठक : ‘जी 23’ को सोनिया की नसीहत / मीडिया के जर...