कड़ाके की शीतलहर से जमा आधा हिमाचल, सड़कें बंद

हिमाचल में वर्षा और बर्फबारी का दौर जारी

कड़ाके की शीतलहर से जमा आधा हिमाचल, सड़कें बंद

शिमला सहित हिमाचल के कई स्थानों पर सोमवार को फिर बर्फबारी हुई। परिंदे (कबूतर) भी ठंड में ठिकाने ढूंढते दिखे जबकि पर्यटक सफेद चादर के बीच से निकलते हुए। -प्रेट्र

शिमला, 24 जनवरी (निस)

हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी और वर्षा का दौर आज भी जारी है। राज्य की राजधानी शिमला सहित प्रदेश के मध्यम व अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में जहां रुक-रुक कर बर्फबारी हो रही है वहीं राज्य के मैदानी इलाकों में वर्षा का दौर जारी है। इससे पूरा प्रदेश जबरदस्त शीतलहर की चपेट में है और आधा दर्जन से अधिक प्रमुख स्थानों का तापमान जमाव बिंदू से नीचे दर्ज किया जा रहा है। इसके चलते शिमला, मनाली, कुफरी, चायल, नारकंडा और डलहौजी जैसे पर्यटक स्थलों पर लोगों को पानी जम जाने की जबरदस्त समस्या का सामना करना पड़ रहा है।

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में आज सुबह से ही रुक-रुक कर बर्फबारी हो रही है। कुफरी, चायल, नारकंडा और मशोबरा में भी हल्की बर्फबारी हो रही है। प्रदेश में बीते लगभग एक सप्ताह से मौसम के खराब रहने और वर्षा तथा बर्फबारी के चलते ठंड अपने पूरे शबाब पर है जिससे जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। बीती रात से अब तक कल्पा में 25, शिमला में 15, कुफरी में 14 और मनाली में 10 सेंटीमीटर ताजा बर्फबारी दर्ज की गई है।

प्रदेश में 600 से अधिक सड़कें बंद

बर्फबारी के चलते प्रदेश में 600 से अधिक सड़कें बंद है। बर्फबारी से शिमल जिला सबसे अधिक प्रभावित है जहां 200 से अधिक सड़कें बंद हैं। शिमला से आगे हिन्दुस्तान-तिब्बत मार्ग, ठियोग-हाटकोटी और ठियोग-चौपाल मार्ग बर्फबारी तथा अत्यधिक फिसलन के कारण बंद है। प्रदेश में अभी तक 1500 से अधिक ट्रांसफार्मर और 100 से अधिक पेयजल योजनाएं भी ठप पड़ी हुई है। भारी बर्फबारी के चलते किन्नौर और लाहौल स्पिति में अधिकांश सड़कें बंद हैं। किन्नौर में सिर्फ पवारी तक ही यातायात शुरू किया जा सका है। जिले में अधिकांश स्थानों पर चार फुट तक ताजा बर्फबारी हुई है। लाहौल स्पिति में सभी सड़कें बंद हैं। इनमें मनाली-केलांग मार्ग भी शामिल है। जिले में हिमस्खलन का खतरा बना हुआ है जिसके चलते जिला प्रशासन ने लोगों को अत्यधिक एहतियात बरतने की सलाह दी है। चंबा जिला के खजियार, जोत और पांगी में 3-3 फुट ताजा बर्फबारी दर्ज की गई है। बर्फबारी के कारण बंद चंबा-पठानकोट नेशनल हाईवे आज 14 घंटे के बाद बहाल कर दिया गया जबकि चंबा-भरमौर, चंबा-खजियार और चंबा-जोतमार्ग अभी भी अवरुद्ध है। कुल्लू और शिमला जिला से जोड़ने वाला जलोड़ी-जोत मार्ग भी पिछले कई दिनों से भारी बर्फबारी के कारण बंद है।

केलांग सबसे ठंडा स्थान

प्रदेश में हो रही बर्फबारी और वर्षा से राज्य में हार्ड कंपा देने वाली ठंड पड़ रही है। केलांग आज प्रदेश के सबसे ठंडा स्थान रहा जहां न्यूनतम तापमान -9 डिग्री दर्ज किया गया। इसके अलावा कुफरी में न्यूनतम तापमान -3, कल्पा में -2.6, डलहौजी में -2, शिमला और मनाली में शून्य, चंबा में 1.3, धर्मशाला में 2.2 और पालमपुर में 3.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने आज राज्य के अलग-अलग स्थानों पर वर्षा व बर्फबारी की संभावना जताई है। कल भी राज्य के मध्यम व अधिक ऊंचाई वाले कुछ स्थानों पर वर्षा और बर्फबारी की संभावना है। प्रदेश में 26 जनवरी से मौसम के खुल जाने की उम्मीद है।

बर्फबारी व वर्षा से 123 करोड़ का नुकसान

हिमाचल प्रदेश में हो रही व्यापक बर्फबारी और वर्षा भले ही कृषि और बागवानी के साथ-साथ पर्यटन के लिए काफी फायदेमंद मानी जा रही है लेकिन इस बर्फबारी के कारण प्रदेश को अब तक 123 करोड़ रुपए का नुकसान भी हो चुका है। राजस्व विभाग के प्रधान सचिव ओंकार शर्मा के अनुसार भारी बर्फबारी व वर्षा के कारण अभी तक लोक निर्माण विभाग, बिजली विभाग व जलशक्ति विभाग को सबसे अधिक नुकसान हुआ है। यही नहीं अकेले जनवरी महीने में खराब मौसम के कारण हुए हादसों में 93 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें से 67 मौतें सड़क हादसों में हुई है। प्रधान सचिव राजस्व के अनुसार इस दौरान हुए 67 हादसों में 111 लोग घायल भी हुए। बारिश व बर्फबारी के कारण 15 पक्के और तीन कच्चे मकान भी क्षतिग्रस्त हुए। 

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

यमुनानगर तीन दर्जन श्मशान घाट, गैस संचालित मात्र एक

यमुनानगर तीन दर्जन श्मशान घाट, गैस संचालित मात्र एक

ग्रामीणों ने चंदे से बना दिया जुआं में आदर्श स्टेडियम

ग्रामीणों ने चंदे से बना दिया जुआं में आदर्श स्टेडियम

'अ' से आत्मनिर्भर 'ई' से ईंधन 'उ' से उपले

'अ' से आत्मनिर्भर 'ई' से ईंधन 'उ' से उपले

दैनिक ट्रिब्यून की अभिनव पहल

दैनिक ट्रिब्यून की अभिनव पहल

मुख्य समाचार

बंटवारे के दौरान खोई हुई पाकिस्तानी महिला करतारपुर में 75 साल बाद पटियाला के सिख भाइयों से मिली

बंटवारे के दौरान खोई हुई पाकिस्तानी महिला करतारपुर में 75 साल बाद पटियाला के सिख भाइयों से मिली

1947 में हुई हिंसा के दौरान बिछड़ गई थी परिवार से, मुस्लिम प...

हार्दिक पटेल ने कांग्रेस को दिया झटका, हाथ का साथ छोड़ा

हार्दिक पटेल ने कांग्रेस को दिया झटका, हाथ का साथ छोड़ा

गुजरात कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष पद छोड़ा, सोनिया गांधी को भेजा...