बिलासपुर में एम्स की ओपीडी शुरू, नड्डा ने किया विधिवत शुभारंभ

बिलासपुर में एम्स की ओपीडी शुरू, नड्डा ने किया विधिवत शुभारंभ

ज्ञान ठाकुर/निस

शिमला, 5 दिसंबर

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व राज्यसभा सांसद जगत प्रकाश नड्डा ने हिमाचल को आज एम्स की ओपीडी के रूप में बड़ी सौगात दी है। नड्डा ने आज बिलासपुर के कोठीपुरा में निर्माणाधीन अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स की ओपीडी का विधिवत शुभारंभ किया। नड्डा ने इस मौके पर घोषणा की कि लगभग 1500 करोड़ रुपए की लागत से बन रहे एम्स का काम अगले छह महीने में पूरा हो जाएगा और जून 2022 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसका विधिवत लोकार्पण करेंगे।

एम्स में ओपीडी शुरू होने और हिमाचल के कोरोना वैक्सीन टीकाकरण में दूसरी डोज का भी शतप्रतिशत लक्ष्य हासिल करने के मौके पर कोठीपुरा स्थित एम्स परिसर में आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए जगत प्रकाश नड्डा ने कहा कि मोदी देश के ऐसे पहले प्रधानमंत्री हैं जिन्होंने दिल्ली से बाहर एम्स बनाने की सोची और आज देश में 22 एम्स निर्माणाधीन हैं। उन्होंने विपक्षी दल कांग्रेस पर परोक्ष हमला बोलते हुए कहा कि देश में पहला एम्स 1960 में दिल्ली में और पहला पीजीआई चंडीगढ़ में बना था लेकिन इसके बाद किसी भी नेता ने दूसरा एम्स अथवा पीजीआई का सेटेलाइट सेंटर बनाने की नहीं सोची। उन्होंने यह भी कहा कि एम्स बनाना बड़ी बात नहीं है लेकिन इसे चलाना बड़ी बात है क्योंकि एक एम्स को चलाने के लिए एक साल में 2000 करोड़ रुपए खर्च होता है। जगत प्रकाश नड्डा ने लोगों को नीति निर्धारकों के बारे में ध्यान रखने की सलाह दी और कहा कि नीति और नेतृत्व से भी विकास की दिश और दशा तय होती है। उन्होंने कहा कि हिमाचल जैसे छोटे राज्य को यदि देश में प्रतिनिधित्व का मौका मिला है तो ये सभी मोदी के कारण ही संभव हो पाया है। उन्होंने कहा कि मौजूदा कोरोना काल में जहां यूरोप और अमेरिका जैसे विकसित देश बिना मास्क के सार्वजनिक तौर पर लोगों के बैठने के बारे में नहीं सोच सकते वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महज नौ महीने के छोटे से अंतराल में देश में दो-दो वैक्सीन विकसित करवाकर न केवल 130 करोड़ की जनता को सुरक्षित किया है बल्कि लोगों को अब खुले में घूमने का आत्मविश्वास भी दिया है। उन्होंने देश में विभिन्न बीमारियों को लेकर पूर्व सरकारों द्वारा वैक्सीन विकसित न करने पर भी तंज कसा और पूछा कि आखिर देश को चलाने वाले नेताओं को किसने वैक्सीन बनाने से रोका था। उन्होंने कहा कि आज भारत न केवल अपने नागरिकों का पूर्ण टीकाकरण करने के नजदीक है बल्कि दुनिया के 50 देशों को भी कोरोना वक्सीन का निर्यात कर रहा है।

मांडविया का नड्डा को श्रेय

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने बिलासपुर में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान का श्रेय भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा को दिया। मांडविया ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि बिलासपुर का एम्स नड्डा की अपनी कर्मभूमि और अपने प्रदेश को सबसे बड़ी सौगात है। उन्होंने कहा कि नड्डा ने एम्स के हर काम की व्यक्तिगत तौर पर समीक्षा की और इसे निर्धारत समय पर पूरा करना सुनिश्चत किया। उन्होंने कहा कि यदि कोरोना महामारी न आई होती तो बिलासपुर एम्स का काम काफी पहले पूरा कर लिया गया होता।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

अन्न जैसा मन

अन्न जैसा मन

कब से नहीं बदला घर का ले-आउट

कब से नहीं बदला घर का ले-आउट

एकदा

एकदा

बदलते वक्त के साथ तार्किक हो नजरिया

बदलते वक्त के साथ तार्किक हो नजरिया