प्रदेश में 5 हैली पोर्ट 30 नवंबर तक बनकर होंगे तैयार

प्रदेश में 5 हैली पोर्ट 30 नवंबर तक बनकर होंगे तैयार

प्रतीमात्मक चित्र

शिमला, 25 नवंबर (निस)

हिमाचल प्रदेश में हैली टैक्सी सेवा से पर्यटन को पंख लगेंगे। प्रदेश की सैरगाहों में हैली टैक्सी सेवा की शुरूआत करने के मद्देनजर सरकार द्वारा घोषित 5 हैली पोर्ट 30 नवंबर तक बन कर तैयार होंगे। इन्हीं हैली पोर्ट से हैली टैक्सी सेवा आरंभ होगी। पर्यटन विभाग के प्रधान सचिव शुभाषीश पांडा का कहना है कि 30 नवंबर से हैली पोर्ट से हैली टैक्सी सेवा आरंभ होगी। पवन हंस की हैली टैक्सी सेवा प्रदेश में शुरू होगी। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि रामपुर हैली पोर्ट तक हैली टैक्सी सेवा आरंभ होने से जनजातीय जिला किन्नौर व स्पीति घाटी के काजा जाने वाले सैलानियों को फायदा होगा। इससे जनजातीय क्षेत्रों में पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा मिलेगा। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने चालू वित्त वर्ष के बजट भाषण में प्रदेश में 5 हैली पोर्ट निर्माण की घोषणा की थी। मुख्यमंत्री की बजट घोषणा को अमलीजामा पहनाते हुए पर्यटन विभाग ने शिमला, रामपुर, बद्दी, मनाली और मंडी के कंगनीधार हेलीपोर्ट बनाए हैं। आपातकाल सेवा सहित सैलानियों की सहूलियत के लिए शिमला शहर के बीच हेलीपोर्ट बनाने का प्रदेश सरकार ने फैसला लिया है। सभी हैली पोर्ट 30 नवंबर तक बन कर तैयार होंगे। सुरक्षा की दृष्टि से लगने वाली सुरक्षा नेट वियतनाम से शिमला पहुंच गए संजौली हेलीपोर्ट पर लगाई जा रही है। यह कार्य भी एक दो दिन में पूरा हो जाएगा। करीब 14 करोड़ की लागत से संजौली-ढली बाईपास पर हेलीपोर्ट का निर्माण किया गया है। शिमला हैली पोर्ट में बीते दिनों यहां हेलीकॉप्टर की सफल लैंडिंग का ट्रायल भी हो चुका है। राजधानी शिमला में अपना हेलीपोर्ट न होने से अभी भी सेना के अनाडेल मैदान में ही मुख्यमंत्री जयराम का हेलीकॉप्टर उतरता है। संजौली हेलीपोर्ट शुरू होने से सरकार के साथ.साथ सैलानियों को भी सुविधा होगी। पर्यटन निदेशक अमित कश्यप ने बताया कि दिसंबर से संजौली से हेली टैक्सी सेवा शुरू होगी।

शिमला शहर को मिला देश में शीर्ष स्थान

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने नीति आयोग द्वारा हाल ही में जारी शहरी विकास लक्ष्य सूचकांक 2021-22 में शिमला शहर को देश में शीर्ष स्थान प्राप्त करने पर राज्य के लोगों के सामूहिक प्रयासों की सराहना की है। इस उपलब्धि पर प्रदेश के लोगों को बधाई देते हुए जय राम ठाकुर ने कहा कि भारत सरकार के नीति आयोग ने देश के 56 शहरों को इसमें शामिल किया था, जिनमें 10 लाख से अधिक आबादी वाले 44 शहर और 10 लाख से कम आबादी वाली 12 राज्यों की राजधानियां शामिल थीं। उन्होंने कहा कि यह सूची गरीबी, स्वास्थ्य, शिक्षा, लैंगिक समानता, सस्ती और सुलभ ऊर्जा और जलवायु जैसे मापदण्डों के तहत शहरों के प्रदर्शन को ध्यान में रख कर तैयार की गई है। उन्होंने कहा कि इस सूची के मूल्यांकन के लिए 46 लक्ष्य और 77 संकेतक निर्धारित किए गए थे और शिमला शहर को 100 में से 75.50 अंकों के साथ सर्वश्रेष्ठ स्थान प्राप्त हुआ है।

शिमला-चंडीगढ़ के बीच 6 दिन सेवा

शुभाषीश पांडा का कहना है कि शिमला-चंडीगढ़ के बीच सप्ताह में छह दिन (रविवार छोड़कर) हेली टैक्सी चल रही है। धर्मशाला के गगल एयरपोर्ट के लिए मंगलवार, बुधवार, गुरुवार और कुल्लू के भुंतर एयरपोर्ट के लिए सोमवार, शुक्रवार और शनिवार को सेवा मिलेगी। हेली टैक्सी का शिमला से चंडीगढ़ का प्रति व्यक्ति किराया 3600 रुपये तय किया गया है। चंडीगढ़ से कुल्लू के भुंतर का किराया प्रति व्यक्ति 6500 रुपये और चंडीगढ़ से धर्मशाला के गगल का किराया 5700 रुपये प्रति व्यक्ति है। शिमला से कुल्लू का किराया 4000 रुपये प्रति व्यक्ति और शिमला से धर्मशाला का किराया 5000 रुपये प्रति व्यक्ति है।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

बच्चों को देखिए, बच्चे बन जाइए

बच्चों को देखिए, बच्चे बन जाइए

अलोपी देवी, ललिता देवी, कल्याणी देवी

अलोपी देवी, ललिता देवी, कल्याणी देवी

निष्ठा और समर्पण का धार्मिक सामंजस्य

निष्ठा और समर्पण का धार्मिक सामंजस्य

सातवें साल ने थामी चाल

सातवें साल ने थामी चाल

... ताकि आप निखर-निखर जाएं

... ताकि आप निखर-निखर जाएं

मुख्य समाचार

भारत बड़ी शक्ति, वक्त की कसौटी पर खरा उतरा मित्र

भारत बड़ी शक्ति, वक्त की कसौटी पर खरा उतरा मित्र

शिखर वार्ता : संक्षिप्त यात्रा पर आये रूसी राष्ट्रपति पुतिन ...

अग्रिम मोर्चा कर्मियों को दें बूस्टर डोज

अग्रिम मोर्चा कर्मियों को दें बूस्टर डोज

ओमीक्रॉन को लेकर आईएमए का अनुरोध

शहर

View All