प्रदेश में अब होम आइसोलेट मरीजों का घर पर ही किया जाएगा चेकअप

कोरोना पिछले साल की तरह विजिट करेंगे स्वास्थ्य कर्मी, दवाइयां भी देंगे

प्रदेश में अब होम आइसोलेट मरीजों का घर पर ही किया जाएगा चेकअप

चंडीगढ़, 7 अप्रैल (ट्रिन्यू)

प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए अब स्वास्थ्य विभाग ने पिछले साल की तरह युद्धस्तर पर तैयारियां शुरू कर दी हैं। प्रदेश में फिर से कोविड-19 अस्पताल चिह्नित होंगे। इतना ही नहीं, होम आइसोलेशन में रह रहे पॉजिटिव मरीजों का घर ही चेकअप होगा। इसके लिए डॉक्टरों व मेडिकल टीम घरों पर विजिट शुरू करेगी। कोरोना मामलों से निपटने के लिए बुधवार को स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने स्वास्थ्य विभाग के आला अफसरों के साथ बैठक की।

उन्होंने निर्देश दिए कि पिछले साल जिस तरह से मार्च में कोरोना की वजह से लॉकडाउन लगा था और स्वास्थ्य विभाग ने प्रबंध किए थे, उसी तर्ज पर अब फिर से पुख्ता इंतजाम किए जाएं। विभाग के अधिकारियों को कहा है कि सभी जिलों व उपमंडल स्तर पर कोविड-19 अस्पताल चिह्नित करके उन्हें नोटिफाई किया जाए। संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए इन अस्पतालों में कोरोना के अलावा दूसरे मरीजों का उपचार नहीं होगा।

विज ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि होम क्वारंटाइन मरीजों की घर पर ही जाकर जांच हो। उन्हें पहले की तरह दवाइयां उपलब्ध करवाई जाएं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में फिलहाल तो लॉकडाउन लगाने का सरकार का कोई इरादा नहीं है। उन्होंने कहा कि बृहस्पतिवार को पीएम नरेंद्र मोदी सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये बैठक करेंगे। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की गाइडलाइंस के हिसाब से हरियाणा में फैसला लिया जाएगा।

प्रदेश के स्कूलों में शिक्षकों व विद्यार्थियों के पॉजिटिव मिलने से जुड़े सवाल पर विज ने कहा, ‘कई जगह से इस बारे में रिपोर्ट आ रही है। फिलहाल इस बारे में कोई फैसला नहीं लिया है। पीएम के साथ होने वाली बैठक के बाद ही कुछ निर्णय होगा’। उन्होंने कहा कि प्रदेश में पूरे हेल्थ सिस्टम को पहले ही तरह एक्टिव करने के आदेश दिए हैं। जिस तरह की तैयारियां पिछले साल मार्च-अप्रैल में की गई थी, अब उसी तर्ज पर कोरोना से निपटने की रणनीति बनाई है।

अनिल विज ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि राज्य में पीपीई किट, मास्क, दवाइयों तथा अन्य आवश्यक वस्तुओं का स्टॉक पूरा रखा जाए। विज के आदेशों पर स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिलों के सीएमओ (सिविल सर्जन) से डिमांड भेजने को कहा है। कई जिलों से सीएमओ द्वारा पीपीपीई किट्स, फेस मॉस्क, दवाइयों की डिमांड की गई है।

23 दिन में 14 लाख लोगों को लगेंगे टीके

कोरोना से निपटने के लिए टेस्टिंग बढ़ाई जाएगी। वैक्सीनेशन मुहिम भी तेज होगी। इस माह के आखिर तक प्रदेश के 35 लाख लोगों को कोरोना के टीके लगाने का टारगेट है। अभी तक 21 लाख लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। यानी अब अगले 23 दिनों में लगभग 14 लाख और लोगों को टीके लगाए जाएंगे। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ़ हर्षवर्धन ने बुधवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये कोरोना से अधिक प्रभावित 11 राज्यों के साथ समीक्षा बैठक की। हरियाणा के स्वास्थ्य व गृह मंत्री अनिल विज ने प्रदेश में किए गए प्रबंधों का खुलासा किया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार कोविड की दूसरी लहर को नियंत्रित करने के लिए गत वर्ष भांति सभी आवश्यक कदम पुन: उठाना सुनिश्चित करेगी।

2366 नये केस, 11 संक्रमितों की मौत

पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में कोरोना के 2366 नये पॉजीटिव मरीज मिले हैं। इस अवधि में 11 लोगों की मौत हुई है। यमुनानगर में 2 तथा फरीदाबाद, अंबाला, करनाल, कुरुक्षेत्र, सिरसा, भिवानी, फतेहाबाद, कैथल व जींद में 1-1 व्यक्ति की जान संक्रमण की वजह से हुई है। प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 16 हजार से अधिक हो गई है। 219 मरीज क्रिटिकल स्थिति में हैं। इनमें से 36 वेंटिलेटर पर कोरोना से जंग लड़ रहे हैं और 183 ऑक्सीजन बेड पर हैं।

10 जिले बने हॉट-स्पॉट

प्रदेश के 10 जिले ऐसे हैं, जिनमें 24 घंटों के दौरान 100 से अधिक पॉजीटिव मरीज मिले हैं। नयी दिल्ली से सटे गुरुग्राम और फरीदाबाद में सबसे अधिक मरीज मिले रहे हैं। बुधवार को गुरुग्राम में 611, फरीदाबाद में 280, सोनीपत में 170, अंबाला में 129, पानीपत में 112, करनाल में 222, पंचकूला में 107, कुरुक्षेत्र में 166, यमुनानगर में 141 तथा जींद में 112 नये मरीज मिले।

सब से अधिक पढ़ी गई खबरें

ज़रूर पढ़ें

राजनेताओं की जवाबदेही का सवाल

राजनेताओं की जवाबदेही का सवाल

तेल से अर्जित रकम का कीजिए सदुपयोग

तेल से अर्जित रकम का कीजिए सदुपयोग

ताऊ और तीसरी धारा की राजनीति

ताऊ और तीसरी धारा की राजनीति

अभिमान से मुक्त होना ही सच्चा ज्ञान

अभिमान से मुक्त होना ही सच्चा ज्ञान

फलक पर स्थापित ‘थलाइवा’ को फाल्के

फलक पर स्थापित ‘थलाइवा’ को फाल्के

नंदीग्राम रणभूमि के नये सारथी शुभेंदु

नंदीग्राम रणभूमि के नये सारथी शुभेंदु

राजनीति से अहद-ए-वफा चाहते हो!

राजनीति से अहद-ए-वफा चाहते हो!